मधुबनी : किसान पुरस्कार कार्यक्रम हेतु किसानों के चयन के लिए बैठक - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 12 जुलाई 2022

मधुबनी : किसान पुरस्कार कार्यक्रम हेतु किसानों के चयन के लिए बैठक

  • जिलाधिकारी अरविन्द कुमार वर्मा की अध्यक्षता में  समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में किसान पुरस्कार कार्यक्रम हेतु किसानों के चयन के लिए जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक आयोजित हुई।

madhubani-dm
मधुबनी, नेशनल मिशन ऑन एग्रीकल्चरल एक्सटेंशन एंड टेक्नोलॉजी के अधीन सबमिशन ऑन एग्रीकल्चरल एक्सटेंशन, आत्मा योजना के अंतर्गत कृषि प्रसार तंत्र को सक्षम एवं प्रभावशाली बनाने हेतु जिले के किसानों को प्रशिक्षण ,परिभ्रमण ,किसान पाठशाला, कृषक हित समूह एवं खाद्य सुरक्षा समूह  के गठन के साथ-साथ जिले के अति विशिष्ट और उत्कृष्ट कार्य करने वाले किसानों की सफलताओं को अन्य किसानों के बीच प्रसारित करने हेतु किसान पुरस्कार कार्यक्रम के माध्यम से वित्तीय वर्ष 2021- 22 के प्रखंड एवं जिला स्तर के कृषकों को कृषि एवं कृषि से संबद्ध क्षेत्र यथा उद्यान ,पशुपालन एवं मत्स्य इत्यादि के क्षेत्र में प्रोत्साहित करने हेतु किसानों के चयन हेतु इस जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक आयोजित की गई । गौरतलब हो कि किसान पुरस्कार कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य जिले के अति विशिष्ट एवं उत्कृष्ट कार्य करने वाले किसानों की उपलब्धियों को अन्य किसानों के बीच प्रचारित करना तथा अन्य किसानों को प्रोत्साहित करना है।  जिलाधिकारी ने कहा कि किसानों के बीच प्रतियोगिता की भावना को विकसित करते हुए किसानों को सशक्त एवं स्वावलंबी बनाने के उद्देश्य से इन पुरस्कारों का बड़ा महत्व है। उक्त बैठक में  जिले के किसानों के द्वारा ऑनलाइन माध्यम से आवेदन करने के पश्चात प्रखंडों के मूल्यांकन दल के द्वारा फ़सल कटनी प्रयोग के उपरांत प्राप्त मूल्यांकन सूची के आधार पर वरीयता सूची के माध्यम से प्रखंड एवं जिले के किसानों का चयन किया गया। जिसे प्रखंड स्तर पर 10,000 रुपए का पुरस्कार तथा किसान श्री की उपाधि तथा जिला स्तर पर 25,000 रुपए का पुरस्कार  तथा किसान गौरव की उपाधि दी जाएगी।  जो भी किसान राज्य स्तर पर चयनित होंगे उन्हें 50,000 रुपए का पुरस्कार तथा किसान श्रेष्ठ की उपाधि(राज्य स्तर के पुरस्कार का चयन राज्य स्तर से ) देने का प्रावधान विभाग के द्वारा किया गया है।  जिला पदाधिकारी द्वारा परियोजना निदेशक,आत्मा को निर्देश दिया गया कि चयनित किसानों को शीघ्र पी एफ एम एस के माध्यम से राशि उनके बैंक खाते में हस्तांतरित की जाए। उक्त अवसर पर जिला कृषि पदाधिकारी अशोक कुमार, जिला पशुपालन पदाधिकारी, विनोद कुमार सिंह, जिला मत्स्य पदाधिकारी, विनय कुमार, जिला सहायक निदेशक उद्यान राकेश कुमार सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: