नुपूर शर्मा पर न्यायालय की टिप्पणी वापस लेने की अर्जी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 1 जुलाई 2022

नुपूर शर्मा पर न्यायालय की टिप्पणी वापस लेने की अर्जी

nupur-sharma-supreme-court
नयी दिल्ली, 01 जुलाई, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा पर उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश सूर्यकांत की अध्यक्षता वाली अवकाशकालीन पीठ की मौखिक टिप्पणियां हटाये जाने के लिए शुक्रवार को मुख्य न्यायाधीश के समक्ष एक याचिका दाखिल की गयी।गौ महासभा के अध्यक्ष अजय गौतम ने मुख्य न्यायाधीश एन वी रमना के समक्ष याचिका दाखिल करके कहा है कि सुश्री शर्मा के खिलाफ न्यायालय की संबंधित पीठ की ओर से की गयी मौखिक टिप्पणियां अनावश्यक घोषित किया जाए। गौरतलब है कि भाजपा की निलंबित नेता सुश्री शर्मा ने पैगम्बर मोहम्मद साहब के विरुद्ध कथित टिप्पणी को लेकर अपने खिलाफ देश भर में दायर मामलों को शीर्ष अदालत में स्थानांतरित करने के लिए एक याचिका दायर की थी। न्यायालय ने टेलीविजन बहस में सुश्री शर्मा की ओर से की गयी टिप्पणियों को लेकर शुक्रवार को उनको कड़ी फटकार लगायी और देश में उत्पन्न तनाव के लिए उन्हें जिम्मेदार करार दिया था। पीठ ने उनकी याचिका वापस को वापस लिए जाने का निर्देश देते हुए उसे खारिज कर दिया कि और कहा कि याची इस मामले को उच्च न्यायालय में ले जा सकता 

कोई टिप्पणी नहीं: