घटता भू -जल स्तर गंभीर चिंता का विषय : शेखावत - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 1 अगस्त 2022

घटता भू -जल स्तर गंभीर चिंता का विषय : शेखावत

decreasing-ground-water-level-matter-of-serious-concern
नयी दिल्ली 01 अगस्त, जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने साेमवार को राज्यसभा में कहा कि देश में घटता भू- जल स्तर गंभीर चिंता का विषय है और केंद्र सरकार इस समस्या से निपटने के लिए राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम कर रही है। श्री शेखावत ने सदन में प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक प्रश्न का उत्तर देते हुए कहा कि पंजाब समेत देश के सभी हिस्सों में भू जल में गिरावट आ रही है। केंद्र सरकार ने इस समस्या से निपटने के लिए कई कदम उठायें हैं और इन पर लगातार काम हो रहा है। उन्होंने कहा कि जल राज्यों का विषय है और इस समस्या पर राज्यों को ध्यान देने की जरुरत है। केंद्र उन्हें इस संबंध में वित्त्तीय और तकनीकी मदद उपलब्ध कराती है। कृषि में पानी की खपत घटाने के लिए फसल विविधिकरण पर जोर दिया जा रहा है। उन्हाेंने कहा कि धान की खेती में पानी की बहुत आवश्यकता होती है इसलिए राज्य सरकार को इस ओर ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि हरियाण में इस भू- जल के घटते स्तर पर ध्यान दिया गया है और किसानों को धान के स्थान पर मक्का की खेती के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। हरियाणा में धान के स्थान मक्का की खेती करने वाले किसानों को विशेष वित्तीय प्रोत्साहन दिया जा रहा है। कई राज्य इस अनुभव का लाभ ले सकते हैं। एक पूरक प्रश्न के उत्तर देते हुए श्री शेखावत ने कहा कि मध्यप्रदेश में नर्मदा नदी के किनारे किसी नगर निगम का नदी स्वच्छता से संबंधित कोई प्रस्ताव नहीं है।

कोई टिप्पणी नहीं: