नो पार्किंग में खड़ी हैं पुलिस द्वारा जब्त गाड़ियां - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 14 अगस्त 2022

नो पार्किंग में खड़ी हैं पुलिस द्वारा जब्त गाड़ियां

No—parking—police—vhacke
संवाददाता ,लाइव आर्यावर्त ,बेंगलुरु ,14 अगस्त। कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु शहर में ट्रैफिक व्यवस्था को दुरुस्त करने के नाम पर बेंगलुरु ट्रैफिक पुलिस काफी तत्पर दिखती है परन्तु जब पुलिस  विभाग खुद ही उन नियमों का पालन नहीं करें तो आम आदमी के बीच सवाल उठना लाजिमी है। मजे की बात यह कि थाने के ठीक सामने प्रवेश द्वार के पास ही नो पार्किंग का बोर्ड लगा है ,वहीं दूसरी तरफ दीवार पर भी नो पार्किंग लिखा हुआ है। शहर के सुधा गुंतापालया इलाके में स्थित सुधा गुंतापालया पुलिस स्टेशन के ठीक सामने सड़क पर लगे नो पार्किंग के बोर्ड को मुंह चिढ़ाती सैकड़ों दुपहिया और चौपहिया वाहन खड़े हैं जिससे सड़क के  दोनों तरफ काफी दूरी तक लम्बे समय से गाड़ियों का जमावड़ा लगा हुआ है। यह सभी गाड़ियां संबंधित थाना क्षेत्र की पुलिस द्वारा विभिन्न मामलों में जब्त की गई बताई जाती हैं और इन गाड़ियों के मालिक या दावेदार भी अज्ञात कारणों से बेपरवाह हैं। दुपहिया और चार पहिया वाहनों के साथ कई साइकिल भी जब्त की गईं है।  फिलहाल इन वाहनों को जब्त किये जाने का आधिकारिक कारण ज्ञात नहीं हो पाया है लेकिन आम आदमी के मन में यह सवाल है कि जब पुलिस नो पार्किंग में गाड़ी खड़ी करने पर जनता से जुर्माना वसूलती है तो क्या पुलिस विभाग द्वारा जब्त गाड़ियों को नो पार्किंग में खड़ी किये जाने पर पुलिस विभाग या संबंधित पुलिस स्टेशन से जुर्माना वसूला जायेगा ?

कोई टिप्पणी नहीं: