डोभाल की सुरक्षा में चूक मामले में तीन कमांडो बर्खास्त - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 17 अगस्त 2022

डोभाल की सुरक्षा में चूक मामले में तीन कमांडो बर्खास्त

three-commandos-sacked-in-doval-s-security-lapse
नयी दिल्ली 17 अगस्त, देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल की सुरक्षा में हुई चूक मामले में बड़ी कार्रवाई हुई है। सरकार ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए सुरक्षा में तैनात तीन कमांडो को बर्खास्त कर दिया है। सुरक्षा में चूक होने के कारण केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के तीनों कमांडो सेवा से बर्खास्त हो गये हैं। वहीं, सीआईएसएफ की ‘वीआईपी’ सुरक्षा इकाई के दो वरिष्ठ अधिकारियों का तबादला भी कर दिया गया है। यह घटना फरवरी 2022 की है। जिस समय ये कमांडो एनएसए अजीत डोभाल की सुरक्षा में तैनात थे, उसी समय एक अपरिचित वाहन उनके आवास के गेट पर पहुंच गया था। इस मामले में पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया था। उससे पूछताछ की गई, तो पता चला कि वह मानसिक रूप से विक्षिप्त था। गौरतलब है कि अजीत डोभाल को केंद्रीय वीआईपी सुरक्षा सूची के तहत ‘जेड प्लस’ श्रेणी की सुरक्षा मिली है। उन्हें सीआईएसएफ की स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसएसजी) यूनिट द्वारा सुरक्षा कवर प्रदान किया गया है। वहीं 16 फरवरी को उनकी सुरक्षा में चूक की घटना हुई। सुरक्षा चूक मामले में सीआईएसएफ की जांच में पांच अधिकारियों को दोषी पाया गया, जिसके बाद उनके खिलाफ कार्रवाई की अनुशंसा की गई थी। इसके तहत एसएसजी के तीन कमांडो को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है, जबकि इस सुरक्षा इकाई के प्रमुख उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) और उनकी रैंक से ठीक नीचे कमांडेंट रैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी का तबादला कर दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: