समस्तीपुर : का० शशि यादव द्वारा झंडोत्तोलन के बाद शहीद वेदी पर माल्यार्पण - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 23 अगस्त 2022

समस्तीपुर : का० शशि यादव द्वारा झंडोत्तोलन के बाद शहीद वेदी पर माल्यार्पण

* ऐपवा जिला सम्मेलन संपन्न, 13 सदस्यीय नई जिला कमिटी के अध्यक्ष वंदना  सिंह एवं सचिव मनीषा कुमारी चुनी गई

* राज्य सचिव का० शशि यादव द्वारा झंडोत्तोलन के बाद शहीद वेदी पर माल्यार्पण

*11 सितंबर को दरभंगा में ऐपवा राज्य सम्मेलन को तन मन धन से सफल बनाएं- शशि यादव

samastipur-news
समस्तीपुरः आजादी के 75 साल बाद भी महिलाएं देश में दोयम दर्जे की नागरिक हैं. महिलाओं को कम मजदूरी मिलता है. घर के अंदर से लेकर कार्यस्थल तक महिलाएं शोषण का शिकार होती हैं. पुलिस, थाना, समाज से लेकर अधिकारी तक उन्हें हिकारत की दृष्टि से देखते हैं. महिलाओं से संबंधित विकास एवं कल्याणकारी योजनाओं में बड़े पैमाने पर अनियमितता एवं भ्रष्टाचार व्याप्त है. ऐपवा जिला सम्मेलन के वक्ताओं का मानना है कि चाहे डीजल, पेट्रोल, रसोई गैस समेत खाद्य पदार्थों की महंगाई हो या फिर वासभूमि, पर्चा, आवास का आभाव, महिलाएं ही प्रताड़ित होती है. कानून- व्यवस्था में गिरावट हो या फिर सांप्रदायिक उन्माद, इसका भी शिकार अधिकतर महिलाएं ही होती रही है. किसान के उत्पाद को अडानी- अंबानी के हवाले किया जा रहा है. किसानों से सस्ते में उत्पाद खरीदकर निजी कंपनी महंगे दर पर बेच रही है. माइक्रो फाइनेंस कंपनी एवं समूह उंचे व्याज लेकर महिलाओं का शोषण कर रही है. ऐसी स्थिति में महिलाओं की समस्याओं को सुनना एवं उसका हल कराना, महिलाओं में एकता बनाना, एक बैनर के नीचे संगठित करना, प्रेम, बहनापा, बराबरी और सम्मान के लिए उन्हें संघर्ष के रास्ते पर प्रेरित करना आज महिला संगठन का फौरी कार्यभार है, और ऐपवा इसे पूरा करने में दिलोजान से लगी है. जररूत है संगठन का गांव, टोला, वार्ड स्तर से नगर, जिला तक जाल बनाने की ताकि निर्णायक संघर्ष की ओर कदम बढ़ाया जा सके. उक्त बातें शनिवार को शहर के मालगोदाम चौक स्थित भाकपा माले जिला कार्यालय में महिला संगठन ऐपवा के 5वां जिला सम्मेलन को संबोधित करते हुए बतौर उद्घाटनकर्ता ऐपवा के राज्य सचिव शशि यादव ने कहा.सम्मेलन की शुरुआत ऐपवा वयोवृद्ध नेत्री भूल्ली देवी द्वारा झंडोत्तोलन से की गई. तत्पश्चात शहीदों की याद में मौन श्रद्धांजलि के बाद शहीदवेदी पर माल्यार्पण किया गया.सम्मेलन के खुला सत्र की अध्यक्षता महिला नेत्री प्रमिला राय, नीलम देवी एवं शिव कुमारी देवी ने किया. संचालन वंदना सिंह ने किया. तत्पश्चात ऐपवा राज्य सचिव का० शशि यादव के पर्यवेक्षण में सांगठनिक सत्र की शुरुआत की गई. विदाई कमिटी ने 13 सदस्यीय नई जिला कमिटी का प्रस्ताव रखा. इसे ध्वनि मत से पारित करने के बाद नई जिला कमिटी के सदस्य के रूप में सोनिया देवी, अनीता देवी, सरिता देवी, शांति देवी, फिरोजा बेगम, शोभा देवी, रंजू कुमारी को जिला कमिटी के सदस्य एवं नीलम देवी एवं शिव कुमारी देवी को सह सचिव, प्रमिला राय एवं मंजू प्रकाश को उपाध्यक्ष समेत पूर्व जिला अध्यक्ष बंदना सिंह को पुनः ऐपवा का नया जिला अध्यक्ष एवं छात्र नेत्री मनीषा कुमारी को जिला सचिव चुना गया. नवनिर्वाचित जिला अध्यक्ष   वंदना  सिंह ने सम्मेलन को संबोधित करते हुए ऐपवा को दलित- गरीब, पीड़ित महिलाओं का प्रतिनिधि संगठन बनाने के साथ 11 सितंबर को दरभंगा में आहूत ऐपवा के राज्य सम्मेलन को तन मन धन से सफल बनाने की अपील उपस्थित कार्यकर्ताओं से की गई.

कोई टिप्पणी नहीं: