कनाडा में सीपीए के 65वें सम्मेलन में भाग लेगा भारतीय शिष्टमंडल - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 19 अगस्त 2022

कनाडा में सीपीए के 65वें सम्मेलन में भाग लेगा भारतीय शिष्टमंडल

indian-parliamentary-delegation-to-attend-65th-conference-of-cpa-in-canada
नयी दिल्ली, 19 अगस्त, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के नेतृत्व में एक भारतीय संसदीय शिष्टमंडल 20 से 26 अगस्त, 2022 तक कनाडा के हैलिफ़ैक्स में आयोजित होने वाले राष्ट्रमंडल संसदीय संघ (सीपीए) के 65वें सम्मेलन में भाग लेगा। लोकसभा सचिवालय के अनुसार इस शिष्टमंडल में सांसद (लोक सभा) और सीपीए कार्यकारी समिति के सदस्य अनुराग शर्मा, सांसद (लोक सभा) और सीडब्ल्यूपी संचालन समिति सदस्य श्रीमती सुनीता दुग्गल, सांसद (राज्य सभा) नीरज शेखर, सांसद (लोक सभा) संतोष कुमार, सांसद (लोक सभा) अनुभव मोहंती, सांसद (राज्य सभा) डॉ. कनिमोझी एनवीएन सोमू, और लोक सभा के महासचिव उत्पल कुमार सिंह शामिल होंगे। इस सम्मेलन में भारत के राज्य विधानमंडलों के 23 पीठासीन अधिकारी और 16 सचिव भी भाग लेंगे जो सीपीए के सदस्य हैं। इस सम्मेलन के दौरान विभिन्न विषयों पर 08 कार्यशालाएं आयोजित की जाएंगी। लोकसभा अध्यक्ष श्री बिरला, कार्यशाला 'सी' -- ‘ए पीपल्स पार्लियामेंट: एक्सेसिबिलिटी थ्रू इनोवेशन’ (जन संसद : नवाचार के माध्यम से सुगम्यता) में पैनलिस्ट के रूप में भाग लेंगे। सीपीए की कार्यकारी समिति की बैठक भी इसी सम्मेलन के दौरान होगी, जिसमें भारत संघ शाखा के कार्यकारी सदस्य के रूप में लोक सभा सदस्य अनुराग शर्मा तथा भारत क्षेत्र से सीपीए कार्यकारी समिति के दो अन्य क्षेत्रीय प्रतिनिधि, असम विधान सभा के अध्यक्ष बिश्वजीत डिमरी और उत्तराखंड विधान सभा अध्यक्ष श्रीमती रितु खंडूरी भूषण भाग लेंगी। लोक सभा सदस्य श्रीमती सुनीता दुग्गल, ‘राष्ट्रमंडल महिला सांसद (सीडब्ल्यूपी) संचालन समिति’ की बैठक में भाग लेंगी। वह सीडब्ल्यूपी सम्मेलन सत्र में ‘महिला सांसदों को सशक्त बनाना और विविधता / इंटरसेक्शनेलिटी को बढ़ावा देना’ विषय पर पैनलिस्ट भी होंगी। राज्य विधानमंडलों के पीठासीन अधिकारियों सहित शिष्टमंडल के अन्य सदस्य भी विभिन्न अन्य कार्यशालाओं और सम्मेलन की आम सभा में भाग लेंगे। इस यात्रा के दौरान लोकसभा अध्यक्ष अन्य राष्ट्रमंडल देशों के अपने समकक्षों के साथ परस्पर हित और संसदीय सहयोग के मामलों पर चर्चा करेंगे। लोक सभा अध्यक्ष हैलिफ़ैक्स में अपने प्रवास के दौरान व्यापारिक समुदाय और प्रवासी भारतीयों के साथ भी भेंट एवं संवाद करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: