प्रतापगढ़ : जिला जेल का साप्ताहिक निरीक्षण - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 5 अगस्त 2022

प्रतापगढ़ : जिला जेल का साप्ताहिक निरीक्षण

pratapgarh-news
प्रतापगढ़, राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जयपुर (राज.) द्वारा जारी निर्देशों की पालना में आज प्राधिकरण सचिव शिवप्रसाद तम्बोली (अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश) जिला विधिक सेवा प्राधिकरण प्रतापगढ़ द्वारा जिला कारागृह का साप्ताहिक निरीक्षण किया गया। प्राधिकरण सचिव द्वारा जिला कारागृह प्रतापगढ़ के निरीक्षण के दौरान साफ-सफाई व्यवस्थाओं का जायजा लिया। भोजनशाला का निरीक्षण करते हुए उपस्थित स्टॉफ एवं बंदीजनों को वहां साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिये। दौराने निरीक्षण कारागृह में संचालित डिस्पेंसरी का निरीक्षण किया जहां डॉ, हितेश जोशी उपस्थित मिले। चिकित्सक व जेल प्रशासन को कैदियों को कोरोना बुस्टर डोज लगवाने बाबत आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। उपस्थित बंदिजनों एवं कारागृह स्टॉफ को निःशुल्क विधिक सहायता के बारे मंे जानकारी देते हुए, निःशुल्क विधिक सहायता व परामर्श के बारे में, प्ली-बारगेनिंग के बारे में व सात साल तक के कारावास की सजा वाले मामलों मंे बंदियों की ओर ससे जमानत आवेदन पेश करने के बारे में भी बताया। उपस्थित जेल स्टॉफ द्वारा विधिक सेवा क्लिनिक सुचारू रूप से संचालित होना बताया गया। इसी दौरान प्राधिकरण सचिव ने प्रथम बार कारागृह में प्रथम बार प्रवेश करने वाले कैदियों से भी रू-ब-रू होकर संवाद किया। जिला कारागृह में वर्तमान में कोई महिला बंदी नहीं है। जेल प्रशासन द्वारा राज्य सरकार द्वारा जारी मानक संचालन प्रक्रिया का पालन किया जाना बताया।  जिला कारागृह स्टॉफ, जेल प्रशासन ने बताया कि इस कारागृह में 325 बंदियों की क्षमता है तथा दौराने निरीक्षण 379 बंदी होना बताया। जेल में उचित साफ-सफाई रखने के निर्देश दिये। दौराने निरीक्षण दो सीसीटीवी कैमरे बंद पाये गये, जिन्हें प्राधिकरण सचिव द्वारा जेल स्टॉफ को तुरन्त दुरूस्त करवाने के निर्देश दिये गये। जेल परिसर से गाजरघास व अन्य सफाई व्चवस्था हेतु भी जेल प्रशासन को निर्देश दिये गये।  

कोई टिप्पणी नहीं: