सिसोदिया को भाजपा में शामिल कराने के लिए सीबीआई-ईडी की कार्रवाई - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 22 अगस्त 2022

सिसोदिया को भाजपा में शामिल कराने के लिए सीबीआई-ईडी की कार्रवाई

cbi-ed-action-to-get-sisodia-inducted-into-bjp
नयी दिल्ली, 22 अगस्त,आम आदमी पार्टी (आप) ने आरोप लगाया कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को भाजपा में शामिल कराने के लिए केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई)-प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की कार्रवाई हो रही है। आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता और विधायक सौरभ भारद्वाज ने सोमवार को कहा कि दुनिया के सबसे प्रसिद्ध दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया से लोग बहुत प्यार करते हैं और सहानुभूति रखते हैं। इसके बावजूद भारतीय जनता पार्टी मनीष सिसोदिया को क्यों निशाना बना रही है? क्या कारण है कि जांच एजेंसियों को लेकर भारतीय जनता पार्टी के नेता प्रेस कॉन्फ्रेंस में धमकियां देते हैं।‌उनके प्रवक्ता टीवी डिबेट में लाइव सीबीआई और ईडी के नाम की धमकियां देते हैं।‌ इसके बाद सीबीआई केस रजिस्टर करती है। केस रजिस्टर करने के अगले दिन 30 अफसर उनके घर पर छापा मारते हैं। पूरे दिन भारतीय जनता पार्टी के नेता औक प्रवक्ता एक शिक्षा मंत्री के ऊपर इतना दबाव क्यों बना रहे हैं? भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री कार्यालय क्या चाहता है? उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार चाहती है कि महंगाई बढ़े लेकिन विपक्ष आवाज ना उठाए। बेरोजगार युवा सड़कों पर घूमते रहे लेकिन श्री केजरीवाल, प्रधानमंत्री मोदी से सवाल ना करें। वर्तमान में डॉलर की हालत यह है कि रुपया इतना बुरा कभी इतिहास में नहीं गिरा। दिल्ली के वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया पलट कर केंद्र सरकार से दिल्ली की और देश की अर्थव्यवस्था के बारे में सवाल ना पूछ लें। पीएम मोदी के कॉर्पोरेट मित्रों को 10 लाख करोड़ के एनपीए की राहत हो जाए, मगर इस पर सवाल ना उठे। कॉर्पोरेट टैक्स कम हो जाए और विपक्ष चुप रहे।‌ उन्होंने कहा कि असम के मुख्यमंत्री हेमंत विश्व सरमा अगस्त 2015 से पहले कांग्रेस के नेता हुआ करते थे। भारतीय जनता पार्टी ने असम में बाकायदा कई महीनों तक हेमंत विश्व सरमा के खिलाफ अभियान चलाया कि उन्होंने वाटर स्कैम के अंदर करोड़ों रुपए हड़प लिए हैं। जिनके खिलाफ अभियान चलाया, उनको आपने पार्टी ज्वाइन कराई। विधायक सौरभ भारद्वाज ने कहा कि इस तरीके से अलग-अलग राज्यों के दर्जनों ऐसे बड़े-बड़े नेताओं के खिलाफ भाजपा की सेंट्रल लीडरशीप ने कैंपेन चलाया। ईडी और सीबीआई से मुकदमे दर्ज करवाए। उनके घर और उनके साथियों पर छापे डलवा कर उन्हें बदनाम किया। उसके बाद जब वो भाजपा से जुड़ गए तो वाशिंग मशीन में धुलकर बिल्कुल साफ-सुथरे बाहर निकले। ये आइना भाजपा को दिखाना जरूरी है। देश के लोगों को यह जानना बहुत जरूरी है कि भाजपा किस तरीके से ऑपरेट करती है। अपने खिलाफ बोलने वालों के मुंह बंद करवाने के लिए क्या करती है उन्होंने कहा कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ने ये खुलासा किया कि उनपर जो सीबीआई और ईडी की धरपकड़ हो रही है, उससे संबंधित उनको भाजपा से एक मैसेज आया है। भारतीय जनता पार्टी ने कहा है आप भाजपा में आ जाइए, आपके सारे केस हम सुलट लेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: