गया : कृषि सिंचाई सुविधा को लेकर डीएम ने क्षेत्र का किया दौरा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 3 अगस्त 2022

गया : कृषि सिंचाई सुविधा को लेकर डीएम ने क्षेत्र का किया दौरा

  • *डीजल अनुदान का शत प्रतिशत किसान उठाएं लाभरूज़िला पदाधिकारी
  • * फतेहपुर स्थित ढाढर सिंचाई परियोजना बराज का निरीक्षण के दौरान डीएम डॉ त्यागराजन ने किसानों  से कहा
  • * मुखिया व जनप्रतिनिधियों को डीजल अनुदान का लाभ लेने के लिए किसानों को  जागरूक करने पर दिया जोर

gaya-news-today
गया: वर्षा की निम्न स्थिति को देखते हुए सरकार ने कृषि सिंचाई के लिए किसानों को  डीजल अनुदान देने की घोषणा की है. इसलिए किसान शत प्रतिशत डीजल अनुदान का लाभ प्राप्त करें और हर हाल में कृषि कार्य को उन्नत बनाएं. मुखिया व जनप्रतिनिधियों को डीजल अनुदान का लाभ लेने के लिए किसानों को  जागरूक करने पर  जोर दिया जाए ताकि डीजल अनुदान का शत प्रतिशत किसान लाभ उठा पाए. फतेहपुर स्थित ढाढर सिंचाई परियोजना बराज का निरीक्षण के दौरान  ज़िला पदाधिकारी डॉ त्यागराजन एसएम ने किसानों व जनप्रतिनिधियो  से ये बातें कही. बुधवार की शाम वर्षात के बीच सोहजना स्थित ढाढर बराज का निरीक्षण करने के लिए डीएम पहुंचे। उन्होंने बराज में जलस्तर को देखा.जल स्तर काफी कम रहने पर चिंता जताई। साथ ही कहा कि फतेहपुर क्षेत्र में  कृषि सिंचाई सुविधा को लेकर क्षेत्र का दौरा कर रहा हूँ. कृषि कार्य में सिंचाई की सुविधा कहीं अवरुद्ध नहीं हो इसके लिए डीजल अनुदान का लाभ लेने के लिए किसानों को आगे रहना होगा. करीब आधे घंटे तक डीएम बराज स्थल का निरीक्षण किया तथा मुखिया, जनप्रतिनिधि, किसानों व स्थानीय लोगों से भी रूबरू हुए. ढुब्बा नदी पर डायवर्सन की जर्जर स्थिति को तत्काल सुधारने का निर्देश. गया-रजौली स्टेट हाईवे 70 के फतेहपुर प्रखण्ड स्थित ढुब्बा नदी पर पिछले तीन-चार साल से लंबित पुल निर्माण के लिए नदी में बनाये गए डायवर्सन की जर्जर स्थिति को तत्काल सुधारने का डीएम ने विभागीय अधिकारी व संवेदक को सख्त निर्देश दिया.सोहजना बराज स्थल जाने के दौरान उन्होंने देखा कि डायवर्शन की स्थिति काफी खराब है. रखरखाव सही तरीके से नहीं होने के कारण आवाजाही में परेशानी है. उन्होंने ऐसी स्थिति को देखते हुए तत्काल सुधार का निर्देश दिया है.

कोई टिप्पणी नहीं: