लक्ष्य, प्रणय प्री-क्वार्टरफाइनल में, श्रीकांत बाहर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 24 अगस्त 2022

लक्ष्य, प्रणय प्री-क्वार्टरफाइनल में, श्रीकांत बाहर

lakshya-prannoy-in-pre-quarterfinals
टोक्यो, 24 अगस्त, भारत के युवा सनसनी शटलर लक्ष्य सेन और एचएस प्रणय ने बीडब्ल्यूएफ विश्व चैंपियनशिप 2022 में अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए बुधवार को प्री-क्वार्टरफाइनल में जगह बनायी, जबकि पिछली बार के रजत पदक विजेता किदांबी श्रीकांत दूसरे दौर में हारकर बाहर हो गये। सेन ने दूसरे दौर के मुकाबले में स्पेन के लुइस पेनल्वर को 21-17, 21-10 के सीधे गेमों में परास्त किया। एचएस प्रणय ने तीसरे दौर में पहुंचने के लिये दो बार के विश्व चैंपियन जापान के केंटो मोमोटा को 21-17, 21-16 से मात दी। दूसरी ओर, श्रीकांत चीन के ज़्हाओ जुन पेंग के हाथों 9-21, 17-21 से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गये। सेन ने पिछली बार गैर वरीयता प्राप्त विश्व चैंपियनशिप में प्रवेश किया था, लेकिन टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनलिस्ट केविन कॉर्डन सहित कई बड़े खिलाड़ियों को मात देने में सफल रहे थे। उन्होंने सेमीफाइनल में हमवतन श्रीकांत से हारकर कांस्य पदक से संतोष किया था। पुरुष एकल के प्री-क्वार्टरफाइनल में पहुंचने वाले दूसरे भारतीय प्रणय ने अपने जापानी प्रतिद्वंदी मोमोटा को पहली बार मात दी है। इससे पहले दोनों आठ बार आमने-सामने आये थे, जहां हर बार प्रणय को हार का सामना करना पड़ा था। अब लक्ष्य और प्रणय क्वार्टरफाइनल में पहुंचने के लिये एक-दूसरे से मुकाबला करेंगे।  इसी बीच, भारत के अर्जुन एमआर और ध्रुव कपिला की पुरुष युगल जोड़ी ने बड़े उलटफेर में डेनमार्क के ए रैसमुसन और किम एस्ट्रप को 2-0 से मात दी। अर्जुन और ध्रुव ने दूसरे दौर में विश्व की आठवीं वरीयता प्राप्त जोड़ी को 21-17, 21-16 के सीधे गेमों में हराकर प्री-क्वार्टरफाइनल में कदम रखा। यह एक शीर्ष-10 जोड़ी के खिलाफ अर्जुन और ध्रुव की पहली जीत है। भारतीय जोड़ी ने पहले गेम में गत चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता जोड़ी को 21-17 से हराने के बाद दूसरे गेम में भी अच्छी शुरुआत की, मगर उनके डेनिश प्रतिद्वंदियों ने मैच में वापसी का प्रयास किया और स्कोर 14-14 पर आ गया। इसके बाद भारतीय जोड़ी ने गियर बदला और अर्जुन के शानदार सर्व की बदौलत गेम को 21-16 पर समाप्त किया। इसी बीच, अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी को महिला युगल के दूसरे दौर में जापान की चेन क्विंग चेन और जिया यी ने 21-15, 21-10 से मात दी। भारत की त्रीशा जॉली और गायत्री गोपीचंद मलेशिया की टैन पर्ली और तिनाह मुरलीधरन के हाथों 21-08, 21-17 से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गयीं। दक्षिण कोरिया की एस सी शिन और एस एच ली ने पूजा डी और संजना संतोष की महिला युगल जोड़ी को 21-15, 21-7 से हराकर चैंपियनशिप में उनका सफर समाप्त किया। 

कोई टिप्पणी नहीं: