कश्मीर में आतंकवाद के खात्मे के लिए अभियान जारी रखें सुरक्षा बल : शाह - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 25 अगस्त 2022

कश्मीर में आतंकवाद के खात्मे के लिए अभियान जारी रखें सुरक्षा बल : शाह

security-forces-continue-operation-to-end-terrorism-in-kashmir-shah
नयी दिल्ली, 25 अगस्त, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद का सफाया करने के लिए सुरक्षा बलों और पुलिस को सुनियोजित आतंकवाद विरोधी अभियानों के माध्यम से समन्वित प्रयास जारी रखने को कहा है । श्री शाह ने गुरुवार को यहां जम्‍मू-कश्‍मीर की सुरक्षा स्थिति पर समीक्षा बैठक की। बैठक में जम्मू-कश्मीर के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और सेना तथा जम्मू-कश्मीर प्रशासन सहित केंद्र सरकार के अनेक वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए। बैठक में गृह मंत्री ने सुरक्षा ग्रिड के कामकाज और पिछले कुछ वर्षों में आतंकवाद की घटनाओं को कम करने के लिए की जा रही विभिन्न कार्रवाइयों की समीक्षा की। उन्होंने कोविड-19 महामारी के कारण दो साल के अंतराल के बाद इस साल हुई अमरनाथ यात्रा के सफल आयोजन के लिए सुरक्षा एजेंसियों और केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर प्रशासन के प्रयासों की सराहना की। केंद्रीय गृह मंत्री ने आतंकवाद का सफाया करने के लिए सुरक्षा बलों और पुलिस को सुनियोजित आतंकवाद विरोधी अभियानों के माध्यम से समन्वित प्रयास जारी रखने को कहा। बैठक में यूएपीए के तहत दर्ज मामलों की भी समीक्षा की गई और इस बात पर जोर दिया गया कि जांच समय पर और प्रभावी होनी चाहिए। साथ ही संबंधित एजेंसियों को गुणवत्ता जांच सुनिश्चित करने के लिए क्षमताओं में सुधार पर काम करना चाहिए। गृह मंत्री ने कहा कि एक समृद्ध और शांतिपूर्ण जम्मू-कश्मीर प्रधानमंत्री का विजन है और इसे पूरा करने के लिए सुरक्षा बलों को सीमा और नियंत्रण रेखा को अभेद्य बनाने के लिए समन्वित प्रयास जारी रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि एक बार आतंकवादियों, हथियार और गोला-बारूद की सीमा पार आवाजाही का डर समाप्त हो जाने पर जम्मू-कश्मीर के लोग सुरक्षा बलों की मदद से इस छद्म युद्ध पर निर्णायक विजय प्राप्त करेंगे। केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि आम आदमी की भलाई के लिए आतंकवादी-अलगाववादी अभियान को सहायता देने, बढ़ावा देने और बनाए रखने वाले तत्वों से युक्त आतंकवादी पारिस्थितिकी तंत्र को समाप्त करने की आवश्यकता है।

कोई टिप्पणी नहीं: