सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 05 अगस्त - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 5 अगस्त 2022

सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 05 अगस्त

आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर का समापन


sehore-news
सीहोर अकादमी स्पोर्ट्स क्लब, नेहरू युवा केंद्र सीहोर एवं हिताय यूथ क्लब द्वारा आयोजित पांच दिवसीय विकासखंड स्तरीय आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर का समापन किया गया। शिविर में 160 प्रशिक्षित बालिकाओं सहित उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली छात्राओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के अंत में हर घर तिरंगा अभियान के अंतर्गत घरों में तिरंगे फहराने की शपथ ली गई एवं राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ। कार्यक्रम उत्कृष्ट विद्यालय इछावर के प्राचार्य श्री रवींद्र शर्मा एवं कन्या शाला प्राचार्य श्रीमती प्रतिभा शर्मा उपस्थित थे।


विद्यार्थी केन्द्रित राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020" विषय पर निबंध प्रतियोगिता आयोजित


शासकीय चंद्रशेखर आजाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय में मध्यप्रदेश हिन्दी ग्रंथ अकादमी भोपाल की स्वर्ण जयंति के उपलक्ष्य में स्वामी विवेकानंद केरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ के द्वारा “विद्यार्थी केन्द्रित राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020" विषय पर निबंध प्रतियोगिता का आयोजन महाविद्यालय स्तर पर किया गया। जिसमें 48 विद्यार्थियों द्वारा रजिस्ट्रेशन कराया गया। इस प्रतियोगिता मे कु. शिवांगी कुलखंडिया ने प्रथम, प्रदीप प्रजापति ने द्वितीय तथा मनीषा ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. उर्मिला सलूजा ने प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान प्राप्त विद्यार्थियों को प्रमाण पत्र प्रदान किये। इस अवसर पर डॉ. दिनीशा मालवीय, श्री मनीष अग्रवाल, श्री वरुण सिंह, श्री ओमप्रकाश परमार उपस्थित थे।


आज से खेला जाएगा जिला स्तरीय बेबी लिग फुटबाल प्रतियोगिता का सुपर लीग

  • एक तरफा मुकाबले में सीहोर गर्ल्स ने एमजी सीहोर को 3-0 से हराया

sehore-news
सीहोर। शहर के चर्च मैदान पर खेली जा रही जिला फुटबाल एसोसिएशन और जिला खेल युवा कल्याण विभाग के तत्वाधान में जिला स्तरीय बेबी लीग फुटबाल प्रतियोगिता में इन दिनों तीन चरणों के मुकाबले पूरे हो गए है। वहीं शुक्रवार को खेले गए अंतिम लीग मुकाबले में सीहोर गर्ल्स ने एमजी सीहोर को 3-0 से हराया। इस मुकाबले में सोनाक्षी ने दो गोल और अश्विनी ने एक गोल किया। शनिवार से सुपर लीग मुकाबलों का चरण खेला जाएगा। इसमें चार टीम अब तक शानदार प्रदर्शन कर प्रवेश किया है। इन टीमों में सीहोर वाइस, सीहोर क्लब, सीहोर गर्ल्स और सीहोर चिल्ड्रन शामिल है। इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार जिला स्तरीय बेबी लिए फुटबॉल प्रतियोगिता में 12 टीमों ने भाग लिया ऐसे चार टीमों को सुपर लीग खेलेंगे प्रथम सीहोर वॉइस सीहोर क्लब सीहोर गर्ल्स सीहोर चिल्ड्रन इन सभी चारों टीमों ने अपने-अपने मैच जीतकर अंक तालिका में एक नंबर से लेकर 4 नंबर तक स्थान प्राप्त किया सीहोर वॉइस की टीम ने 11 मैचों में से 11 में जीत कर 33 अंक प्राप्त किए श्री दूसरे नंबर पर सीहोर क्लब ने 11 मैचों में से 10 में से जीतकर 30 अंक प्राप्त किए इसी में तीसरे स्थान पर सीहोर गर्ल्स की टीम ने 9 मैच जीत कर 27 अंक हासिल किए एवं चौथे नंबर पर सीहोर चिल्ड्रन की टीम ने आठ मैच जीतकर 24 अंक प्राप्त किए। सर्वाधिक गोल करने वालों में प्रथम नंबर पर कुणाल मेवाड़ा जिसने प्रतियोगिता में अभी तक 28 गोल किए दूसरे नंबर पर युवराज कनौजिया जिसने 26 गोल की तीसरे नंबर पर शुभ शर्मा जिसने 25 गोल किए चौथे नंबर पर यशराज पेशवानी इसने 18 गोल किए पांचवें नंबर पर सुजल ने 15 गोल किए। 


आज काला पहाड़ वाली दरगाह पर किया जाएगा भव्य आयोजन


सीहोर। हर साल की तरह इस साल भी जिला मुख्यालय से करीब सात किलोमीटर दूरी पर स्थित काला पहाड़ श्रद्धालुओं की आस्था का केन्द्र बना हुआ है। शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के बड़ी संख्या में मोर्हरम के दिनों में यहां पर आकर इबादत कर रहे है। वहीं शनिवार को सुबह से ही यहां पर हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचेगे। इस संबंध में दरगाह समिति के अध्यक्ष नईम नवाब ने बताया कि प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी दरगाह पर सभी के सहयोग से भव्य आयोजन किया जा रहा है। शुक्रवार को कव्वाली का आयोजन किया गया था, वहीं शनिवार को दरगाह पर नवाज के बाद सवारियों का सिलसिला शुरू हो जाएगा। काला पहाड़ दरगाह सभी के लिए आस्था का केन्द्र है, जहां पर सद्भाव के लिए हिन्दू-मुस्लिम धर्म के मानने वाले पूरी आस्था के साथ यहां पर आते है और सभी की मनोकामनाएं पूर्ण हो रही है। समिति ने सभी श्रद्धालुओं से भव्य कार्यक्रम में आने की अपील की है। 


हर घर तिरंगा अभियान के तहत जिला स्तरीय चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित


sehore-news
हर घर तिरंगा अभियान के तहत शासकीय आवासीय खेलकूद संस्थान में जिला स्तरीय चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की गई। प्रतियोगिता में जिले के छात्र-छात्राओं ने चित्रों के माध्यम से हर घर तिरंगा फहराने का संदेश दिया। प्रतियोगिता में 15 शासकीय एवं अशासकीय स्कूलों के छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। प्रतियोगिता में प्रत्येक स्कूल से दो छात्र-छात्राओं ने टीम के रूप में पेंटिंग बनाने के लिये सहभागिता की। प्रतियोगिता में जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह ने छात्र-छात्राओं से पेंटिंग के उद्देश्य के बारे में चर्चा की एवं उत्कृष्ट पेंटिंग्स की सराहना की। जिला स्तरीय चित्रकला प्रतियोगिता में प्रथम स्थान नूतन हायर सेकण्डरी स्कूल सीहोर, द्वितीय स्थान सीएम राईज मनुवेन हायर सेकण्डरी स्कूल, तृतीय स्थान ऑक्सफोर्ड हायर सेकेंडरी स्कूल सीहोर को प्राप्त हुआ। साथ ही सांत्वना पुरुस्कार आवासीय खेलकूद संस्थान सीहोर, शासकीय हाई स्कूल बरखेड़ी एवं शासकीय हाई स्कूल ग्वालटोली को प्राप्त हुआ। कार्यक्रम में डीपीसी श्री अनिल श्रीवास्तव, प्रभारी डीइओ श्री एचएस निमजे एवं प्राचार्य आलोक शर्मा उपस्थित थे।


एनसीसी केडेट्स ने निकाली जन जागरूकता रैली


sehore-news
शासकीय चन्द्रशेखर आजाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय सीहोर में 4 मध्यप्रदेश एनसीसी बटालियन भोपाल एवं सीहोर के एनसीसी केडेट्स ने "हर घर तिरंगा अभियान" के तहत जनजागरूकता रैली से आयोजित की। इस रैली के माध्यम से एनसीसी केडेट्स ने सीहोर शहर में नागरिकों में राष्ट्रीय ध्वज के बारे में जागरूकता उत्पन्न कर देशभक्ति की भावना जागृत करने का आव्हान किया। भोपाल संभाग के अतिरिक्त संचालक डॉ मथुराप्रसाद ने महाविद्यालय में "हर घर तिरंगा अभियान" की सभी को शपथ दिलवाई और रैली का शुभारंभ किया| इस अवसर पर महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ उर्मिला सलुजा ने स्वतंत्रता आंदोलन के अनाम शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए गांधी स्मारक के समीप वृक्षारोपण भी किया।


सांझी संस्कृति देगा प्रतिभाओं को मंच, आकृति को किया जाएगा सम्मानित

  • - स्कूल के छात्रों के लिए आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आयोजित की जा रही प्रतियोगिता

sehore-news
सीहोर। सांझी संस्कृति के द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव के तहत स्वतंत्रता दिवस पर देश भक्ति गीत प्रतियोगिता का आयोजन कर रही है। प्रतियोगिता तीन वर्गों में आयोजित की जाएगी। सब जूनियर जिसमें 8वी क्लास तक, जूनियर वर्ग जिसमें 12वी क्लास तक व ग्रुप सांग में प्रतिभागी भाग ले सकते हैं। म्यूजिशियन की व्यवस्था संस्था करेगी। इस बारे में सांझी संस्कृति के संस्थापक सदस्य सुनील भालेराव ने बताया कि आयोजन बीते 25 सालों से आयोजित किया जा रहा है। जिसमें हर साल किसी एक प्रतिभा को सम्मानित भी किया जाता है। इस वर्ष मुंबई में संगीत के क्षेत्र में कार्य कर रहीं आकृति मेहरा को सम्मानित किया जाएगा। इसके साथ ही आकृति मेहरा और अखलेश तिवारी बतौर निर्णायक आयोजन में मौजूद रहेंगे। स्कूली बच्चों के लिए है प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए आवेदन पत्र पी सी लेब सम्राट काम्प्लेक्स व नागरिक बैंक में सुनील भालेराव के साथ ही स्कूलों में उपलब्ध करा दिए जाएंगे। तीनो समूह में ट्राफी स्वर्गीय विनोद मुंगरे की स्मृति में प्रदान की जाएगी। सुनील भालेराव ने बताया कि प्रतियोगिता के लिए 14 अगस्त को पीसी लैब सम्राट काम्प्लेक्स बेसमेंट में दोपहर 12 बजे प्रतियोगियों का स्वरपरीक्षण किया जाएगा। स्वरपरीक्षण में चयनित प्रतियोगियों को ही मुख्य प्रतियोगिता में प्रवेश मिलेगा। इसमें परीक्षण में निर्णायकों का निर्णय ही अंतिम व सर्वमान्य होगा। चयनित सभी प्रतियोगियों को कार्यक्रम के समय के तीस मिनिट पूर्व कार्यक्रम स्थल पर पहुंच कर उपस्थिति दर्ज करानी होगी। गीत केवल देशभक्ति, राष्ट्रीय एकता तथा साम्प्रदायिक सौहार्द्र से संबंधित ही होने चाहिए। निश्शुल्क प्रवेश पत्र देने की अंतिम तिथि 13 अगस्त है। इसके साथ ही प्रतियोगिता के संबंध में सभी दिशा निर्देश अावेदन पर लिखी गई हैं।


रविवार को किया जाएगा 21 हजार से अधिक पार्थिव शिवलिंगों का निर्माण


सीहोर। हर साल की तरह इस साल भी शहर के माता मंदिर चौराहा गंज में रविवार को  सुबह ग्यारह बजे से दोपहर ढ़ाई बजे तक 21 हजार से अधिक पार्थिव शिवलिंग का निर्माण कार्यक्रम के अलावा रुद्राभिषेक किया जाएगा। इस संबंध में जानकारी देते हुए माता मंदिर चौराहा उत्सव समिति के कार्यक्रम अध्यक्ष प्रिंस राठौर ने बताया कि सावन मास चल रहा है। इस दौरान श्रद्धालुओं के द्वारा पूर्ण विधि-विधान से पूजा अर्चना का क्रम जारी है। उक्त कार्यक्रम का आयोजन समिति के द्वारा सभी की सुख-समृद्धि और कल्याण के लिए किया जा रहा है। कार्यक्रम में पंडित महादेव शर्मा, वासुदेव शर्मा के मार्ग दर्शन में किया जाएगा। इस दौरान श्रद्धालुओं द्वारा रविवार की सुबह 11 बजे पार्थिव शिवलिंगों का निर्माण किया जाएगा और उसके पश्चात शाम को सीवन नदी के तट पर निर्मित शिवलिंगों का पूर्ण विधि-विधान से विसर्जन भी किया जाएगा। समिति ने सभी श्रद्धालुओं से कार्यक्रम में शामिल होने की अपील की है। 


धाकड़ युवा संघ में धरणीधर के जन्मोत्सव पर निकाली जाएगी भव्य वाहन रैली

  • एक दर्जन से अधिक गांवों और शहरी क्षेत्र के पदाधिकारी ने किया आह्वान

sehore-news
सीहोर। पिछले दो सालों से कोरोना महामारी के कारण अखिल भारतीय धाकड़ युवा संघ सीहोर के द्वारा समाज के आराध्य भगवान धरणीधर के जन्मोत्सव को मात्र औपचारिकता के साथ मनाया जा रहा था, लेकिन इस साल आगामी 17 अगस्त को श्री धरणीधर का जन्मोत्सव पूरी आस्था और उत्साह के साथ मनाया जाएगा। इस मौके पर घर-घर दीप का प्रज्जवलित कर भगवान की विशेष पूजा अर्चना की जाएगी और उसके पश्चात भव्य वाहन रैली निकाली जाएगी। शुक्रवार को को अखिल भारतीय धाकड़ युवा संघ सीहोर की भगवान धरणीधर के जन्मोत्सव को लेकर ग्राम काकड़खेड़ा माता मंदिर पर धाकड़ समाज की एक विशेष बैठक आयोजित की गई जिसमें प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्र नागर जिला अध्यक्ष गब्बर पटेल एवं सभी पदाधिकारी और आसपास के सभी धाकड़ समाज के ग्रामीण जन शामिल हुए जिसमें भगवान धरणीधर के जन्म उत्सव को लेकर  17 अगस्त को धाकड़ समाज के वरिष्ठ जनों एवं संगठन के सभी पदाधिकारी गण द्वारा वाहन रैली निकालने की सहमति बनी वाहन रैली भोपाल नाके से प्रारंभ होकर इंग्लिशपुरा कोतवाली चौराहा लिसा टॉकीज चौराहे तहसील चौराहे से होकर इंदौर नाके पटेल निवास पर इसका समापन होगा बैठक के दौरान प्रमुख रूप से ग्राम बिजोरी सुकलिया हंसराज, जमनी, बोरदी, मोगरा, बिशन खेड़ी, सेमली कल्याणपुरा, सिराड़ी, पीपलटोन पटारिया सीधा आदि ग्राम के  समाज के वरिष्ठ जन उपस्थित रहे। धाकड़ समाज के पदाधिकारियों ने बताया शहर में इस बार 500 से अधिक वाहनों के द्वारा डोल-ताशे के साथ रैली निकाली जाएगी। रैली से पहले भगवान धरणीधर की विशेष पूजा अर्चना की जाएगी और फिर शहर सहित आस-पास के ग्रामों से आए श्रद्धालुओं के द्वारा वाहन रैली का आयोजन किया जाएगा। जयंती को लेकर तैयारियां जारी है। शुक्रवार को इस संबंध में बैठक का आयोजन किया गया था। 


नर्मदापुरम रेलवे स्टेशन पर विक्रय किए जाएंगे अब बुधनी के खिलौने


जिले के बुधनी तहसील में बनने वाले लकड़ी के खिलौनों की ख्याति की दूर-दूर तक है। बुदनी में बड़े पैमाने पर लकड़ी के खिलौने बनाये जाते हैं। यहां के खिलौने दिल्ली सहित देश के अनेक राज्यों में पसंद किए जाते है। इन खिलौनों की बिक्री के लिए नर्मदापुरम (होशंगाबाद) रेलवे स्टेशन पर बुधनी के श्री भारत विश्वकर्मा ने खिलौने का स्टॉल लगाया गया है।    बुधनी में विगत कई वर्षों से काष्ठ शिल्पकार पीढ़ी दर पीढ़ी लकड़ी के खिलौने बनाते आ रहे हैं। अदभुत काष्ठ कारीगरी, रंग, बनावट और आकर्षक आकार के कारण देश में अलग पहचान है।  बुधनी के खिलौनों की प्रसिद्धी को ध्यान में रखते हुए इसे आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की वोकल फॉर लोकल की अवधारणा को साकार करने के लिए एक जिला एक उत्पाद के तहत बुधनी के खिलौनों का चयन किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर बुधनी को टॉय कलस्टर के रूप में विकसित करने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है। बुधनी में कारीगरों द्वारा खिलौना निर्माण के लिए दुधी लकड़ी का प्रयोग किया जाता है। इसका रंग सफेद होता है तथा इसमें अन्य लकड़ियों की तरह गांठ और रेसे नहीं होते। पूरी लकड़ी एक जैसी होने के कारण खिलौने सुन्दर और आकर्षक दिखते है। साथ ही यह लकड़ी मजबूत होती है। बच्चों द्वारा खेलते समय इसे दांतों से चबाने या मुह में लगाने से कोई नुकसान नहीं होता। इस लकड़ी के औषधिगुण भी हैं। दुधी लकड़ी बुदनी क्षेत्र के जंगलों में पाई जाती है। वन विभाग द्वारा इसे रियायती दर पर शिल्पकारों को उपलब्ध कराया जाता है।


दीनदयाल रसोई में जरूरतमंद लोगों को मिल रहा है स्वादिष्ट और भरपेट भोजन


गरीब और जरूरतमंद लोगों के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की पहल पर राज्य सरकार द्वारा प्रारंभ की गई दीनदयाल रसोई योजना जरूरतमंद लोगों के लिये बहुत मददगार साबित हो रही है। बस स्टेंड सीहोर में दीनदयाल रसोई में गरीब तथा जरूरतमंद व्यक्तियों के लिए भरपेट एवं स्वादिष्ट भोजन केवल 10 रूपये में मिल रहा है। दीनदयाल रसोई में प्रतिदिन प्रातः 11 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक भोजन कराया जाता है। इस रसोई में 100 से अघिक लोग रोज भोजन करते हैं। दीनदयाल रसोई में भोजन करने आए श्री गोपीलाल ने बताया कि 10 रूपए में स्वादिष्ट और भरपेट भोजन मिल जाता है। भोजन में दाल, चावल, सब्जी और रोटी दिया जाता है। उन्होंने बताया कि अगर बाहर होटल में भोजन करे तो यह 100 रूपये अधिक का होगा। उन्होंने दीनदयाल रसोई योजना संचालित करने के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद दिया।


"हर घर तिरंगा" अभियान में उत्साह और उल्लास के साथ भाग लें पंचायत प्रतिनिधि - मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • राष्ट्रप्रेम और राष्ट्र-भक्ति के महाआयोजन को सफल बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ें, प्रत्येक गाँव अपना गौरव दिवस मनाएँ, मुख्यमंत्री ने नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों को बधाई और शुभकामनाएँ दी, पंचायतों के नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों से किया संवाद

sehore-news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों को बधाई देते हुए अपने दायित्व का निर्वहन जन-अपेक्षाओं के अनुरूप करने के लिए उन्हें शुभकामनाएँ दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधि अपने क्षेत्र के विकास और लोगों के कल्याण में कोई कसर नहीं छोड़ें, राज्य सरकार पंचायत प्रतिनिधियों के साथ है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों को आजादी के अमृत महोत्सव में उत्साहपूर्वक सम्मिलित होने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। देश ने संघर्ष, त्याग, तपस्या और बलिदान से आजादी पायी है। इस काल को उत्सव के रूप में मनाना प्रत्येक प्रदेशवासी का कर्त्तव्य है। हम सब "हर घर तिरंगा" अभियान से जुड़ कर आनंद और उत्साह से आजादी का पर्व मनाएँ। मुख्यमंत्री श्री चौहान पंचायती राज संस्थाओं के नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से निवास कार्यालय से संबोधित कर रहे थे। अपर मुख्‍य सचिव सामान्य प्रशासन श्री विनोद कुमार, प्रमुख सचिव संस्कृति श्री शिव शेखर शुक्ला तथा पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। प्रदेश की सभी पंचायतों ने कार्यक्रम में वर्चुअली सहभागिता की। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जिला एनआईसी कक्ष से सीहोर विधायक श्री सुदेश राय, आष्टा विधायक श्री रघुनाथ मालवीय, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री गोपाल सिंह इंजीनियर, कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर, जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह तथा अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर वर्चुअली जुड़े।   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि "हर घर तिरंगा" अभियान देशवासियों में राष्ट्रीय ध्वज के बारे में जागरूकता उत्पन्न कर देश-भक्ति की भावना जागृत करने का अभियान है। पूरे देश में 11 से 17 अगस्त तक स्वतंत्रता सप्ताह मनाया जाएगा। हम सब 13 से 15 अगस्त तक अपने घरों, कार्यालयों और व्यावसायिक स्थलों पर तिरंगा अवश्य फहराएँ। यह भारत माता के प्रति अपने प्रेम, सम्मान और समर्पण का प्रकटीकरण है। यह आवश्यक है कि हम राष्ट्रीय ध्वज स्वयं क्रय कर लगाएँ। प्रदेश में महिलाओं के स्व-सहायता समूह और सहकारी समितियाँ राष्ट्रीय ध्वज निर्माण में लगी हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भारत सरकार द्वारा दिन के साथ रात में भी राष्ट्रीय ध्वज फहराने की अनुमति प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री श्री मोदी का आभार माना। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि "हर घर तिरंगा" अभियान में सभी की भागीदारी सुनिश्चित करने सम्पूर्ण प्रदेश में व्यापक स्तर पर वातावरण निर्माण की गतिविधियाँ जारी हैं। गाँव और नगरों में तिरंगा रैलियों, प्रभात फेरी और भजन मंडलियों द्वारा जन-जन को "हर घर तिरंगा" अभियान में भाग लेने के लिए प्रेरित किया जाए। समाज के प्रतिष्ठित व्यक्तियों, धर्मगुरूओं, समाजसेवियों, समाजसेवी संगठनों, विद्यालयों, महाविद्यालयों, एनसीसी, एनएसएस, जन अभियान परिषद के कार्यकर्ताओं तथा खेल एवं अन्य गतिविधियों से संबंधित संगठन देश प्रेम के इस कार्य में समर्पण और सक्रियता से भाग लें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंडला में मानव श्रंखला द्वारा भारत का नक्शा और रायसेन में 75 वर्ष के अंक के आकार की मानव श्रंखला बनाकर ड्रोन फोटोग्राफी कराने के नवाचार की सराहना की। मुख्यमंत्री ने बुरहानपुर में सभी धर्मों के धर्मगुरूओं द्वारा एक साथ तिरंगा फहराकर आकर्षक वीडियो तैयार करने की भी प्रशंसा की गई। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि "हर घर तिरंगा" अभियान से वृक्षा-रोपण गतिविधियों को भी जोड़ा जाए। साथ ही महापुरूषों के स्मारकों की साफ-सफाई जैसी गतिविधियों को भी अभियान में सम्मिलित कर उनका स्मरण और उनके प्रति सम्मान प्रकट किया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों को बताया कि वे स्वयं भोपाल में स्व-सहायता समूह की बहनों से तिरंगा लेने गए थे। उन्होंने पंचायत प्रतिनिधियों को भी अपने आसपास के स्व-सहायता समूह की बहनों से राष्ट्र ध्वज क्रय करने के लिए प्रेरित किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मुझे विश्वास है कि प्रदेशवासी राष्ट्र प्रेम और राष्ट्र-भक्ति के महाआयोजन को सफल बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। प्रदेश के हर घर और हर प्रतिष्ठान में 13 से 15 अगस्त तक तिरंगा अवश्य लहराएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों से चर्चा में समरस पंचायतों के गठन को प्रदेश की अभूतपूर्व उपलब्धि बताया। उन्होंने कहा कि प्रेम और सद्भाव से ही विकास की गौरव गाथा लिखी जा सकती हैं। पंचायतें अपने क्षेत्र के प्रत्येक पात्र व्यक्ति को संबंधित योजनाओं से जोड़ना सुनिश्चित करें। आवास, राशन, कौशल उन्नयन और स्व-सहायता समूह सहित रोजगार के लिए संचालित योजनाओं, लाड़ली लक्ष्मी, मातृ वंदना योजना आदि में शत-प्रतिशत सेचुरेशन सुनिश्चित किया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भारत सरकार और राज्य सरकार की 300 से अधिक योजनाओं के क्रियान्वयन की जिम्मेदारी पंचायत प्रतिनिधियों पर है। उन्हें आवश्यक प्रशिक्षण उपलब्ध कराया जाएगा। निष्पक्ष हितग्राही चयन और गुणवत्तापूर्ण निर्माण कार्य हम सबकी जिम्मेदारी है। राज्य सरकार, जन-प्रतिनिधि, पंचायत प्रतिनिधि और अधिकारी एक इकाई के रूप में परस्पर समन्वय से इस प्रकार कार्य करें, जिससे मध्यप्रदेश को एक आदर्श के रूप में पूरे देश के सम्मुख प्रस्तुत किया जा सके। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रत्येक गाँव अपना गौरव दिवस तय करें। अपने गाँव के विकास और ग्रामवासियों के कल्याण को हम अपना कर्त्तव्य समझें। गाँव में स्वच्छता, शौचालयों के सही उपयोग, कुपोषण से मुक्ति, आँगनवाड़ी और शालाओं के संचालन में जन-भागीदारी, बिजली की बचत, नशामुक्ति, बेटियों के सम्मान के लिए सक्रियता और संवेदनशीलता के साथ सभी लोग कार्य करें। यह अभियान समाज को सही दिशा में ले जाने का अभियान भी है। प्रमुख सचिव संस्कृति श्री शिवशेखर शुक्ला ने जानकारी दी कि प्रदेश में सभी राशन दुकानों, आँगनवाड़ियों, पंचायतों में राष्ट्रीय ध्वज उपलब्ध हैं। प्रदेश की महिला स्व-सहायता समूहों तथा सहकारी संस्थाओं द्वारा 75 लाख ध्वजों का निर्माण किया गया है। भारत सरकार की संस्थाओं से भी ध्वज प्राप्त हुए हैं। सभी जिलों में हर घर तिरंगा के लिए वातावरण निर्माण की गतिविधियाँ जारी हैं।


मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में 08 अगस्त, को अवार्ड वितरण कार्यक्रम का आयोजन


मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में 08 अगस्त, को दोपहर 01.00 बजे कायाकल्प अवार्ड वितरण कार्यक्रम कुशाभाऊ ठाकरे हॉल में आयोजित किया गया है। अवार्ड के लिए चयनित स्वास्थ्य संस्थाओं की घोषणा तथा अवार्ड वितरण कार्यक्रम-मिशन सेहत के अंतर्गत 55 करोड़ रूपये की राशि शासकीय संस्थाओं के प्रभारियों को सिंगल क्लिक के माध्यम वितरित की जाएगी। कार्यक्रम में समस्त कमिश्नर एवं कलेक्टर वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से भाग लेंगे ।


डॉ. भीमराव अम्बेडकर आर्थिक कल्याण योजना संचालित


डॉ भीमराव अम्बेडकर आर्थिक कल्याण योजनान्तर्गत 10 हजार से रूपये 1 लाख तक की स्वरोजगार परियोजनाएँ संचालित है। जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति के कार्यपालन अधिकारी ने बताया कि योजना का लाभा प्राप्त करने के लिए पात्रता आयु 18 से 55 वर्ष, आयकर दाता न हो। वित्तीय सहायता ब्याज अनुदान योजनान्तर्गत अनुसूचित जाति वर्ग के हितग्राहीयों को बैंक द्वारा वितरित, शेष (Outstanding) ऋण (Term Loan&Working Capital Loan) पर 7 प्रतिशत की दर से ब्याज अनुदान, अधिकतम 5 वर्षो तक (मोरेटोरियम अवधि सहित) नियमित रूप से ऋण भुगतान की शर्त पर दिया जायेगा एवं म.प्र. शासन द्वारा गांरटी फीस देय होगी। आवेदन प्रक्रिया आवेदक द्वारा (www.samast.mp.gov.in) पोर्टल से आवेदन किया जा सकता है। योजना से संबंधित अधिक जानकारी के लिये कार्यपालन अधिकारी जिला अंत्यावसायी सहकरी विकास समिति मर्या. कलेक्ट्रेट कार्यालय कमरा नं. 121 एंव 122 में कार्यालयीन समय में सम्पर्क किया जा सकता है।


हर घर तिरंगा अभियान के तहत साइकिल रैली आज, शासकीय आवासीय खेल परिसर से प्रातः 9 बजे प्रारंभ होगी साइकिल रैली


आजादी का अमृत महोत्सव अन्तर्गत 11 से 17 अगस्त तक जिले भर में हर घर तिरंगा अभियान चलाया जा रहा है। अभियान को सफल बनाने एवं स्वतंत्रता सप्ताह में 13 से 15 अगस्त तक हर घर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए लोगो को जागरूक करने के उद्देश्य से जिले भर में अनेक जागरूकता कार्यक्रम चलाए जा रहे है। इसी क्रम में 6 अगस्त को साइकिल रैली आयोजित की गई है। साइकिल रैली प्रातः 9 बजे जिला मुख्यालय स्थित शासकीय आवासीय खेल परिसर से प्रारंभ होकर नगर के प्रमुख मार्गो से होते हुए  पुराने कलेक्ट्रेट के पास बालविहार मैदान पर समाप्त होगी। साइकिल रैली में जिले के समस्त जिला अधिकारियो को शामिल होने के निर्देश दिए गए है।


स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने नागरिकों से तिरंगा अभियान से जुड़ने की अपील की


मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत संचालित स्व सहायता की दीदियों ने हर घर तिरंगा अभियान के अंतर्गत ग्राम पड़ियाला में तिरंगा अभियान का प्रचार प्रसार करते हुए सभी से तिरंगा अभियान से जुड़कर 13 से 15 अगस्त तक अपने अपने घरों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने की अपील की।


चित्रकला प्रतियोगिता के माध्यम से छात्र-छात्राओ ने हर घर तिरंगा अभियान से जुड़ने का दिया संदेश


sehore-news
आजादी के अमृत महोत्सव के तहत 11 से 17 अगस्त तक जिले भर में "हर घर तिरंगा" अभियान  चलाया जा रहा है। जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में हर घर तिरंगा अभियान के तहत विभिन्न गांव के स्कूलों में चित्रकला प्रतियोगिताएं आयोजित कर नागरिकों को स्वतंत्रता सप्ताह 13 से 15 अगस्त तक अपने घरो पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इसी क्रम में हर घर तिरंगा अभियान के तहत ग्राम रावनखेड़ा में चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की गई। जिसमें छात्र-छात्राओं ने राष्ट्रीय ध्वज का चित्र बनाकर जनसामान्य को हर घर तिरंगा अभियान से जुड़़ने का संदेश दिया और स्वतंत्रता सप्ताह में 13 से 15 अगस्त तक अपने घरों पर तिरंगा फहराने के लिए प्रेरित किया।  


समर्थन मूल्य पर लहसून प्याज खरीदे प्रदेश सरकार, नहीं तो कर्ज में डूबकर बर्बाद हो जाएंगे कास्तकार


sehore-news
सीहोर। लगातार गिरती लहसुन प्याज की कीमतों ने हजारों किसानों को मुश्किल में डाल दिया है। प्रदेश सरकार अगर समर्थन मूल्य पर लहसुन प्याज नही खरीदती है या फिर मंडी में भावांतर नहीं देती है तो कर्ज में डूबकर हजारों किसान बर्बाद हो जाएंगे। इस संबंध में संयुक्त किसान मोर्चा ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर मुख्यमंत्री के नाम डिप्टी कलेक्टर सतीष राय को ज्ञापन दिया है। संयुक्त किसान मोर्चा के पदाधिकारियों ने शीघ्र समस्या का समाधान नहीं किया जाने पर सरकार को 9 अगस्त को बड़ा आंदोलन करने की चैतावनी भी दी है। संयुक्त किसान मोर्चा प्रतिनिधि मंडल ने कहा की वर्तमान समय में मध्यप्रदेश में लहसुन व प्याज का भाव समर्थन मूल्य से बहुत कम है जिससे किसान की लागत तो दूर मंडी तक ले जाने का भाड़ा भी नहीं निकल पा रहा है। लहसुन प्याज उतपादक किसान पूरी तरह से बर्बाद हो जाएंगे। किसानों के पास आजीविका का संकट भी खड़ा हो चुका है। ऐसी परिस्थिति में सरकार लहसून प्याज को समर्थन मूल्य पर खरीदें और मंडी में भी भावांतर देकर किसानों को बड़ी आर्थिक हानी से बचाऐं। किसान नेताओं ने कहा की कई राज्यों की सरकारों ने लहसुन व प्याज के किसानों को वर्तमान वर्ष में इस समय इस तरह की सुविधा दी हुई है जिससे किसानों को विषम परिस्थिति में राहत मिल सकें और किसान आत्महत्या जैसे कदम उठाने से बच सकें। ज्ञापन देने वालों में संयुक्त किसान मोर्चा के बलराम मुकाती,  ,भानु प्रताप मेवाड़ा,  प्रहलाद भगत जी ,नारायण सिंह मेवाडा, बाबूलाल पटेल ,देवकरण मेवाड़ा, राम सिंह परमार ,लाड सिंह परमार ,भानु प्रताप मेवाड़ा, रूप सिंह परमार ,विष्णु प्रसाद जलोदिया ,राधेश्याम वर्मा, राधेश्याम वर्मा, ,मुकेश मालवीय ,भगवान सिंह मेवाडा, नरेश मेवाडा आदि शामिल रहे।


आक्रोशित कोटवारों ने कलेक्ट्रेट में की नारेबाजी सीहोर आष्टा के विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष,डिप्टी कलेक्टर को दिया चार सूत्रीय मांगों का ज्ञापन


sehore-news
सीहोर। मांग पूरी नहीं होने से आक्रोशित सैकड़ों चौकीदार ग्राम कोटवार शुक्रवार को कलेक्टोरेट पहुंचे। चौकीदारों ने कलेक्ट्रेट परिसर में में जोरदार नारेबाजी कर विरोध दर्ज कराया। कोटवारों चौकीदारों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम का चार सूत्रीय मांगों का ज्ञापन सीहेार विधायक सुदेश राय, आष्टा विधायक रघुनाथ सिंह मालवीय, जिला पंचायत अध्यक्ष गोपाल सिंह इंजीनियर और डिप्टी कलेक्टर ब्रिजेश सक्सेना को कोटवार चौकीदार संघ जिलाध्यक्ष सूरेश मालवीय के नेतृत्व दिया। कोटवार संघ पदाधिकारी छगनलाल मालवीय ने बताया की अंग्रेजों के जमाने से कोटवारों को नीली वर्दी पहनाई जा रही है यह देश की गुलामी की प्रतीक है हम लम्बे समय से पुलिस के जवानों की तरह खाकी वर्दी की मांग कर रहे है लेकिन कोई सुनवाई नहीं की जा रही है नीली वर्दी हमारी आत्मा को कचौट रही है। कोटवारों को प्रति माह कुल 4 सौ रूपये का मानदेय दिया जा रहा है बड़ती मंहगाई में हमें 13 रूपये मजदूरी दी जा रही है कई बार आवेदन निवेदन कर चुके है पर सम्मान जनक वेतन भी नहीं दे रहे है। परेशानियां यही खत्म नहीं होती है लोकसभा विधानसभा और त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव और नगरीय निकाय चुनावों में लगे सभी अधिकारियों कर्मचारियों को चुनाव कार्य भत्ता दिया जाता है लेकिन कोटवारों को कुछ नहीं दिया जाता है जबकी वजन वाला काम कोटवारों से ही कराया जाता है। हमें सरकारी कर्मचारी तक नहीं माना जाता है। सरकार ने कोटवारी को दस एकड़ सेवा भूमि दी है लेकिन अधिकांश इन जमीनों पर दबंग लोगों का कब्जा है जिस से भूमि पर खेती पर नहीं कर पाते है जिन कोटवारों के पास भूमि सुरक्षित है तो उस पर कृषि कार्य के लिए बैंक ऋण तक नहीं देते है। कोटवार गांवोंं में झोपडिय़ों में रहकर जीवन यापन कर रहे है। कोटवार होने से प्रधानमंत्री योजना से अपात्र घोषित किया जा रहा है आवास का लाभ भी नहीं दिया जा रहा है। कोटवार संघ ने वेतन बढ़ाने, खाकी वर्दी पहनने की अनुमति देने, कोटवारों की भूमि कब्जेदार दबंगों से मुक्त कराने,सरकारी कर्मचारी घोषित करने, चुनावी कार्य के लिए अलग से मानदेय देने, प्रधानमंत्री सम्मान निधि और प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिए जाने की मांग मुख्यमंत्री से की है। प्रदर्शन में विष्णु मालवीय, छगनलाल मालवीय,रमेश ,लीलाधर, मुकेश ,दिनेश, मांगीलाल, देवकरण, प्रेम, भगवत ,महेश कुमार,मदन, चेतराम ,ग्यारवी लाल, रामभरोस, बंसीलाल, रमेश कुमार ,लीला किशन, सुनील, मांगीलाल, बहादुर सिंह, बद्रीलाल ,हेमराज , रमेश ,चेतन, विजय सिंह ,गेंदालाल ,गोविंद प्रसाद ,राजू मुरलीधर, देवराज ,रामचरण, कमल सिंह ,खुशीलाल, दिलीप, जितेन,  बलदेव, जगदीश, देव सिंह ,भैयालाल ,लल्लू लाल, देव सिंह, बाबूलाल ,माखन सिंह, मूलचंद, सूरज ,चुन्नीलाल ,लखनलाल ,रूपसिंह, राधे श्याम ,नारायण ,विष्णु, चुन्नीलाल, लखनलाल, जितेन आदि सैकड़ों कोटवार शामिल रहे।

कोई टिप्पणी नहीं: