बिहार : शोले फिल्म के कलाकार की तरह काम कर रहे हैं पप्पू और थप्पू - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 23 सितंबर 2022

बिहार : शोले फिल्म के कलाकार की तरह काम कर रहे हैं पप्पू और थप्पू

Patna-nagar-nigam
पटना. फिल्म शोले में धर्मेंद्र और अमिताभ बच्चन सिने कलाकार थे.इसी तरह पटना नगर निगम के चुनाव में सामाजिक कार्यकर्ता पप्पू और थप्पू शोले फिल्म के कलाकार की तरह काम कर रहे हैं पप्पू और थप्पू हैं. दोनों अनुज हैं.दोनों दीघा थानान्तर्गत कुर्जी मोहल्ला में रहते हैं.पटना नगर निगम चुनाव-2022 में पूरे जोश से शामिल होकर अपने प्रत्याशी को विजयी बनाने के लिए रात दिन लगे हुए हैं. पटना नगर निगम में 75 वार्ड का चुनाव होने जा रहा है.यह चुनाव चरण में हो रहा है.16 सितंबर से नामांकन हो रहा है.24 सितंबर को नामांकन की आखिरी तिथि है.इसके एक दिन पहले 23 सितंबर को मेयर पद के लिए नामांकन करने निवर्तमान वार्ड पार्षद सह डिप्टी मेयर रजनी देवी जा रही है.इस नामांकन समारोह का ऐतिहासिक दिवस बनाने में रजनी देवी के समर्थन लग गये हैं.हर तबके के लोग शामिल हो रहे हैं.गाजे-बाजे के साथ जाने की तैयारी है. आपको बता दें कि सामाजिक कार्यकर्ता पप्पू राय और राजकुमार उर्फ थप्पू आपस में कार्य बांट लिये हैं.सामाजिक कार्यकर्ता पप्पू राय के जिम्मे मेयर पद है.सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार उर्फ थप्पू के जिम्मे वार्ड संख्या-22 बी है.सामाजिक कार्यकर्ता पप्पू राय के द्वारा निवर्तमान वार्ड पार्षद सह डिप्टी मेयर रजनी देवी का नामांकन पत्र दाखिल करने का शानदार तैयारी करने में लगे हैं.वहीं सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार उर्फ थप्पू वार्ड संख्या-22 बी की भावी वार्ड पार्षद रीता देवी की तैयारी में लगे हैं.इतना तो जरूर है कि दोनों भाइयों का प्रयास राजधानी में छाप छोड़ने में सफल हो जाएगा. पटना नगर निगम के सभी मतदाताओं से निवेदन है कि श्रीमती रजनी देवी जी के नामांकन जो कि 23 सितंबर, 2022 को सुबह 10 बजे से सदाकत आश्रम, ब्रजकिशोर स्मारक से शुरू होगी, उसमे भारी से भारी संख्या में उपस्थित होकर नामांकन को सफल एवं ऐतिहासिक बनाये.

कोई टिप्पणी नहीं: