बैंकिंग समूह ने शेयर बाजार को गिरावट से उबारा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 8 सितंबर 2022

बैंकिंग समूह ने शेयर बाजार को गिरावट से उबारा

banking-group-rescued-the-stock-market-from-the-fall
मुंबई 08 सितंबर, आसमान छूती महंगाई को काबू में करने के लिए यूरोपीय केंद्रीय बैंक (ईसीबी) के ब्याज दरों में बढ़ोतरी की पूरी तैयारी से वैश्विक बाजार के कमजोर रुख के बावजूद स्थानीय स्तर पर अन्य के साथ बैंकिंग समूह के मजबूत प्रदर्शन की बदौलत शेयर बाजार पिछले दो दिन की गिरावट से उबरते हुए आज एक प्रतिशत से अधिक की तेजी पर रहा। रिजर्व बैंक के इंफ्रास्ट्रक्चार पर व्यय बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करने से देश को आपूर्ति पक्ष आधारित महंगाई को नियंत्रित करने में मदद मिलने के बयान और आईसीआईसीआई बैंक के इंफ्रा बॉन्ड के जरिये 10 हजार करोड़ रुपये पूंजी जुटाने की तैयारी से बैंकिंग समूह में सबसे अधिक 1.94 प्रतिशत का उछाल आया, जिससे बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 659.31 अंक की छलांग लगाकर 59688.22 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 174.30 अंक उछलकर 17798.70 अंक पर पहुंच गया। बीएसई का मिडकैप 0.29 प्रतिशत बढ़कर 25,895.23 अंक और स्मॉलकैप 0.60 प्रतिशत मजबूत होकर 29,474.63 अंक पर रहा। इस दौरान बीएसई में कुल 3589 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 2066 में लिवाली जबकि 1397 में बिकवाली हुई वहीं 126 में कोई बदलाव नहीं हुआ। इसी तरह एनएसई में 33 कंपनियाें में तेजी रही जबकि 16 गिर गई वहीं एक अपरिवर्तित रही। रिजर्व बैंक के कार्यकारी निदेशक डॉ. सीतीकांठा पटनायक ने आज एक कार्यक्रम में कहा कि बुनियादी ढांचे पर व्यय पर ध्यान केंद्रित करने से देश को दीर्घकालिक आपूर्ति पक्ष आधारित मुद्रास्फीति को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी। साथ ही आईसीआईसीआई बैंक ने बीएसई को बताया कि उसने इंफ्रा बॉन्ड के माध्यम से 10 हजार करोड़ रुपये पूंजी जुटाने संबंधी प्रस्ताव निदेशक मंडल को भेजा है। इसके बाद उसके शेयर सार्वकालिक उच्चतम स्तर पर पहुंच गए। इससे बीएसई में बैंकिंग समूह में सबसे अधिक 1.94 प्रतिशत लिवाली हुई। साथ ही तेरह अन्य समूह में भी तेजी देखी गई। बेसिक मैटेरियल्स 0.53, वित्त 1.54, आईटी 1.02, दूरसंचार 0.71, ऑटो 0.62, कैपिटल गुड्स 0.65 और टेक समूह के शेयर 1.04 प्रतिशत की बढ़त पर रहे। ऊंची मुद्रास्फीति पर लगाम लगाने के लिए ऐसा माना जा रहा है कि आज ईसीबी ब्याज दरों में 0.75 प्रतिशत की बढ़ोतरी कर सकती है। इससे विदेशी बाजारों का रुख नकारात्मक रहा। इस दौरान ब्रिटेन का एफटीएसई 0.30 और जापान का निक्केई 2.31 प्रतिशत चढ़ गया जबकि जर्मनी का डैक्स 0.16, हांगकांग का हैंगसेंग 1.00 और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.33 प्रतिशत उतर गया।

कोई टिप्पणी नहीं: