मोदी ने पीएम केयर्स फंड में योगदान के लिए देशवासियों की सराहना की - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 21 सितंबर 2022

मोदी ने पीएम केयर्स फंड में योगदान के लिए देशवासियों की सराहना की

modi-appreciated-the-countrymen-for-their-contribution-to-the-pm-cares-fund
नयी दिल्ली 21 सितम्बर, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पीएम ‘केयर्स फंड’ में दिल खोलकर योगदान देने के लिए देशवासियों की सराहना की है। श्री मोदी ने बुधवार को यहां पीएम केयर्स फंड के न्यासी बोर्ड की बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने प्रधानमंत्री निधि में उदारता से योगदान देने के लिए देशवासियों की सराहना की। बैठक में इस निधि की मदद से शुरू की गई विभिन्न पहलों पर एक प्रस्तुति दी गई, जिनमें पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना भी शामिल है, जो 4345 बच्चों को सहायता प्रदान कर रही है। न्यासी बोर्ड के सदस्यों ने गंभीर समय में निधि के माध्यम से दी गयी सहायता की सराहना की। सदस्यों ने कहा कि पीएम केयर्स फंड न केवल राहत सहायता बल्कि विभिन्न उपायों और क्षमता निर्माण के माध्यम से आपात स्थिति तथा संकटपूर्ण स्थितियों से प्रभावी ढंग से निपटने की दिशा में काम करता रहेगा। प्रधानमंत्री ने पीएम केयर्स फंड का अभिन्न अंग बनने के लिए न्यासी बोर्ड के सदस्यों का स्वागत किया। बैठक में पीएम केयर्स फंड के न्यासी बोर्ड के सदस्यों केंद्रीय गृह मंत्री और केंद्रीय वित्त मंत्री के साथ-साथ नए नामित सदस्यों उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति के.टी. थॉमस, लोकसभा के पूर्व उपाध्यक्ष करिया मुंडा तथा टाटा सन्स के मानद अध्यक्ष रतन टाटा ने भी हिस्सा लिया। न्यास ने पीएम केयर्स फंड में सलाहकार बोर्ड के गठन के लिए पूर्व नियंत्रक और महालेखा परीक्षक राजीव महर्षि, इंफोसिस फाउंडेशन की पूर्व अध्यक्ष सुधा मूर्ति और टेक फॉर इंडिया के सह-संस्थापक तथा इंडिकॉर्प्स और पीरामल फाउंडेशन के पूर्व मुख्य कार्यकारी अध्यक्ष आनंद शाह को नामित करने का निर्णय लिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि न्यासी बोर्ड के नए सदस्यों और सलाहकारों की भागीदारी से पीएम केयर्स फंड के कामकाज को व्यापक दृष्टिकोण मिलेगा। सार्वजनिक जीवन का उनका लम्बा अनुभव विभिन्न सार्वजनिक जरूरतों के लिए फंड को और अधिक उत्तरदायी बनाने में और अधिक ताकत प्रदान करेगा।

कोई टिप्पणी नहीं: