दरभंगा : स्कीम वर्कर की सवाल पर मुकम्मल संघर्ष समय की मांग है : सरोज चौबे - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 12 सितंबर 2022

दरभंगा : स्कीम वर्कर की सवाल पर मुकम्मल संघर्ष समय की मांग है : सरोज चौबे

  • महंगाई, बेरोजगारी, स्कीम वर्कर की मांग को लेकर ऐपवा ने निकाला महंगाई विरोधी महिला मार्च. महंगाई, बेरोजगारी, स्कीम वर्कर की सवाल पर मुकम्मल संघर्ष समय की मांग है- सरोज चौबे.गरीबो की आवाज पप्पू खान को झूठे मुकदमे में फ़साने वाले डीएसपी और मनीगाछी सीओ पर करवाई करे सरकार - शशि यादव..

saroj-chaubey
दरभंगा . मंहगाई पर रोक लगाओ,रसोई गैस, पेट्रोल,डीजल, खाद्य वस्तुओं के दाम घटाओं, खाद्य पदार्थों पर लगी जीएसटी वापस लेने, रजवाड़ा कांड की उच्चस्तरीय जांच करवाने, माले नेता पप्पू खान सहित अन्य लोगों पर से झूठा मुकदमा वापस लेने सहित अन्य मांग को लेकर ऐपवा के 8वां राज्य सम्मेलन के अवसर पर आज लहेरियासराय स्टेशन से मार्च निकाला गया.मार्च चट्टी चौक होते हुए, लहेरियासराय टावर होते हुए, हाजमा चौक होते हुए पुनः लहेरियासराय टावर पर आकर सभा मे तब्दील हो गया. मार्च का नेतृत्व ऐपवा राज्य सचिव शशि यादव,ऐपवा राज्य अध्यक्ष सरोज चौबे, ऐपवा जिला सचिव शनिचरी देवी, जिला अध्यक्ष साधना शर्मा, रानी सिंह, सबिता देवी, जिला परिषद सदस्य सुमित्रा देवी ,आइसा नेत्री ओणम कुमारी, नीतू कुमारी रसोइया संघ के संतरा देवी,नीलम देवी, आरती देवी, ममता देवी सहित  कई लोग कर रहे थे.


लहेरियासराय टावर पर ऐपवा जिला अध्यक्ष साधना शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए संबोधित करते हुए ऐपवा के राज्य अध्यक्ष सह बिहार राज्य विद्यालय रसोइया संघ के राज्य महासचिव सरोज चौबे ने कहा कि आसमान छूती महंगाई से हर परिवार परेशान है रसोई गैस, डीजल, पेट्रोल के दाम तो पहले से बढ़े हुए थे, खाद्य पदार्थों पर जीएसटी लगने से महंगाई और भी बढ़ गई है। महंगाई के इस आलम में रोजगार का हाल बेहाल है. पढ़े लिखे लड़के-लड़कियां हों या असंगठित क्षेत्र में रोजगार खोजने वाली महिलाएं हों किसी को भी ढंग का रोजगार नहीं मिल पा रहा है हाल ही में अग्निपथ योजना लाकर सेना का न सिर्फ निजीकरण किया जा रहा है अपितु देश की सुरक्षा के साथ भी खिलवाड़ किया जा रहा है शिक्षा और स्वास्थ्य का हाल भी बदहाल है इसके खिलाफ मुकम्मल संघर्ष समय की मांग है. श्रीमती चौबे ने कहा कि गैस का दाम हाफ करना चाहिए और महंगाई पर  रोक लगानी चाहिए. इस मौके पर सभा को संबोधित करते हुए ऐपवा के राज्य सचिव सह बिहार राज्य आशा कार्यकर्ता संघ के राज्य अध्यक्ष शशि यादव ने कहा कि स्वयं सहायता समूह माइक्रो फाइनेंसिंग कंपनियों के कर जी की वजह से महिलाओं की हालत बहुत खराब हो जाती है खासकर लॉकडाउन में उनके अधिकारों के द्वारा किए गए अपमान की वजह से समस्तीपुर में एक परिवार के चार सदस्यों ने आत्महत्या तक कर लिया. स्कीम वर्करों की हालत तो और भी खराब है उनका शोषण सस्ते श्रम के रूप में किया जाता है कोरोना काल काल में उन्हें कोरोना वायरस तो कहा गया लेकिन उनका पारिश्रमिक नहीं दिया गया. मोदी राज्य में वे न तो कर्मचारी हैं न मजदूर. उनका आर्थिक दोहन जारी है आगे श्रीमती यादव ने आम-अवाम  से आह्वान किया कि इसके खिलाफ गांव गांव में महिलाओं को संगठित कर जनसंघर्ष को तेज कर जनविरोधी मोदी सरकार को हटा कर ही दम लिया जाएगा. श्रीमती यादव ने कहा कि आज दरभंगा के डीएम एसएसपी मनमानी कर रहे है. गरीबो की आवाज उठाने वाले माले नेता पप्पू खान को झूठा मुकदमा में जेल में बंद कर गरीबो के आवाज को दबाना चाहती है. लेकिन पप्पू खान की गिरफ्तारी से गरीबो की आवाज दबने वाली नहीं है। उन्होंने कहा कि रजवाड़ा कांड की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए तथा इस कांड के जिम्मेवार बेनीपुर डीएसपी व मनीगाछी सीओ पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई  करनी चाहिए. इस अवसर पर रानी शर्मा, कौशर खातून, जैबुल निशा, प्रियंका देवी, उजाला देवी, बसंती देवी, शोभा देवी, सुनीता देवी, कविता देवी, तारा देवी, मुन्नी देवी, मधु सिन्हा, जिनन्त प्रवीण, गुड़िया देवी, फूलों देवी, कौशर खातून, सहित कई लोग शामिल थे.

कोई टिप्पणी नहीं: