नालंदा : बिचाली व्यवसाय करने के कलए ऋण की उपलब्धता की समीक्षा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 6 सितंबर 2022

नालंदा : बिचाली व्यवसाय करने के कलए ऋण की उपलब्धता की समीक्षा

nalanda-news
नालंदा: आज सोमवार को जिला पदाधिकारी नालन्दा श्री शशांक शुभंकर द्वारा हरदेव भवन सभागार में बिचाली व्यवसाय करने के कलए ऋण की उपलब्धता की समीक्षा की गई.बैठक में बिचाली (  बिचाली यानी पुआल (नेवारी) )  व्यवसाय से जुड़े किसान तथा बैंकों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया.जिला कृषि पदाधिकारी द्वारा उपलब्ध कराए गए प्रतिवेदन पर समीक्षा की गई. बताया गया कि कुल 106 किसानों ने बिचाली व्यवसाय के ऋण के लिए विभिन्न बैंकों को अपने डी पी आर समर्पित किये थे.सबसे ज्यादा 32 आवेदन पी एन बी,29 आवेदन भारतीय स्टेट बैंक,15 आवेदन ग्रामीण बैंक,8 आवेदन इंडियन बैंक,7 आवेदन केनरा बैंक को दिए गए थे. 106 डी पी आर के विरुद्ध मात्र 33 की स्वीकृति की जानकारी प्राप्त हुई. पी एन बी द्वारा 16,भारतीय स्टेट बैंक द्वारा 13 तथा केनरा बैंक द्वारा 4 स्वीकृति के अलावे किसी बैंक ने एक भी स्वीकृति नहीं की है. बैठक में एक किसान ने बताया कि बैंक प्रबंधक द्वारा हमेशा डी पी आर बदलने की बात की जाती है।जिला पदाधिकारी ने इसे काफी गंभीरता से लिया और सभी किसानों की शिकायतों के वीडियो बनाकर  बैंकों के प्रबंधकों को बारी-बारी से बुलाकर समाधान करने का निर्देश दिया.उन्होंने यह भी कहा कि इसके बावजूद भी अगर बैंकर टालमटोल करते रहे तो बैंकों के राज्य तथा राष्ट्रीय स्तर के पदाधिकारी को वीडियो भेजा जाएगा.

कोई टिप्पणी नहीं: