कैप्टन अमरिंदर सिंह का पार्टी सहित भाजपा में विलय - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 19 सितंबर 2022

कैप्टन अमरिंदर सिंह का पार्टी सहित भाजपा में विलय

amarinder-singh
नयी दिल्ली, 19 सितंबर, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और पंजाब लोक कांग्रेस के मुखिया कैप्टन अमरिंदर सिंह आज अपने निष्ठावान सैकड़ों समर्थकों समेत भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए और अपनी पार्टी का भाजपा में विलय कर लिया। भाजपा के केंद्रीय कार्यालय में भारी भीड़ के बीच केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर एवं किरन रिजीजू तथा पंजाब भाजपा के अध्यक्ष अश्विनी शर्मा ने कैप्टन सिंह और प्रमुख नेताओं को अंगवस्त्र पहनाया तथा सदस्यता पर्ची एवं गुलदस्ता देकर उनका भाजपा में स्वागत किया। इस मौके पर कांग्रेस छोड़कर कुछ समय पहले भाजपा में शामिल हुए किसान नेता सुनील जाखड़ भी मौजूद थे। श्री तोमर ने कैप्टन सिंह एवं उनके सहयोगियों का स्वागत करते हुए कहा कि पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री ने हमेशा अपनी पार्टी से राष्ट्र को अधिक महत्व दिया और देश को प्राथमिकता दी। इस नाते से वह भाजपा के करीब थे। उनके आने से भाजपा की ताकत बढ़ेगी और पंजाब में शांति, सुरक्षा एवं समृद्धि सुनिश्चित होगी। श्री तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमेशा से पंजाब और सिख समुदाय के मान सम्मान के लिए समर्पित रहे हैं। करतारपुर काॅरीडोर खोलने और गुरु तेगबहादुर के बच्चों की शहादत की याद में वीर बालक दिवस की घोषणा जैसे अनेक कदम उठाये हैं। वह कहते हैं कि पंजाब और सिख समाज के लोग देश और देश की संस्कृति की रक्षा के लिए हमेशा आगे रहे हैं इसलिए उनके मान सम्मान में कभी कोई कमी नहीं आने देंगे। श्री रिजीजू ने कहा कि यह भारत की राजनीति में एक बहुत बड़ी घटना है। जो भविष्य की राजनीति को दिशा दिखाएगी। कैप्टन सिंह ने अपने सहयोगियों का परिचय कराने के बाद कहा कि पंजाब की सीमा पाकिस्तान से लगी हुई है लेकिन चीन से भी बहुत खतरा है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से भारत की सीमा में 40 से 45 किलोमीटर तक ड्रोन आ रहे हैं और नशीले पदार्थ, हथियार और नकदी भेजी जा रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासन काल में सीमाओं की रक्षा के लिए कोई काम नहीं किया गया। ए के एंटनी के रक्षा मंत्री के कार्यकाल में एक भी हथियार नहीं खरीदा गया। इसलिए उन्होंने अपने साथियों से विचार विमर्श किया कि अब समय आ गया है कि देश की रक्षा की खातिर भाजपा से जुड़ा जाए। कैप्टन सिंह के साथ भाजपा में आने वाले नेताओं में सर्व श्री हरजिंदर सिंह, प्रेम मित्तल, कमल सैनी, अर्चना सिंह, अमरीक सिंह आदि शामिल थे।

कोई टिप्पणी नहीं: