दरभंगा : महेश साह और उनके बच्चे अल्पसंख्यक के सिर पर पर चढ़ गए - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 1 सितंबर 2022

दरभंगा : महेश साह और उनके बच्चे अल्पसंख्यक के सिर पर पर चढ़ गए

darbhanga-news
दरभंगाः आप किसी के घर के खिड़की के सामने लघुशंका करेंगे तो घर के लोग जरूर ही मना करेंगे.ऐसा ही मना अल्पसंख्यक स्टीवन जौन सरपिस ने भी किया था.इसका नकारात्मक स्वरूप देकर बहुसंख्यक पड़ोसी ने जमकर अल्पसंख्यक परिवार के लोगों की धुनाई कर दी.हद तो उस समय सामने आया कि बीचबचाव करने आयी एक युवती को सीना मसल दिया गया और उसके वस्त्र फाड़ दिया गया. मामला ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय थाने का है. इस थाने अन्तर्गत ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय थानान्तर्गत लक्ष्मी सागर कॉलोनी,जे.पी.चौक के मूल निवासी स्टीवन जौन सरपिस हैं. इनके पड़ोसी महेश साह हैं.स्टीवन के मकान से पश्चिम तरफ महेश साह का घर है.बहुसंख्यक महेश साह और उनके बच्चे अल्पसंख्यक के सिर पर पर चढ़ गए हैं. अल्पसंख्यक स्टीवन के घर की खिड़की सामने ही लघुशंका महेश साह कर रहे थे.उनको मना किया गया कि यह गली चालू और आप मेरे घर के खिड़की के सामने आकर ही लघुशंका कर रहे हैं.बस इतना ही कहना था कि महेश साह ने अपने लड़को के साथ मिलकर अल्पसंख्यक स्टीवन के परिवार के सदस्यों को बुरी तरह से पिटायी कर डाली और सिर फोड़ दिया.यह मामला ललित नारायण मिथिला विश्वविघालय थाने में दर्ज है.फिलवक्त कार्रवाई नगण्य है.दरभंगा के डीएम से कार्रवाई करने की मांग की जारी है.समाचार लिखने पर अब भी लोग गवर्नमेंट हॉस्पिटल दरभंगा में हैं. इस बीच बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश उपाध्यक्ष सिसिल साह ने दरभंगा में ईसाई समुदाय के शिक्षक एवं उनके परिवार पर हुए जानलेवा हमले की घटना पर खेद व्यक्त किया है तथा आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की है. सिसिल साह ने कहा कि स्टीवन जौन सरपिस दरभंगा के प्रतिष्ठित ईसाई स्कूल होली क्रॉस के सेवा निवृत शिक्षक हैं तथा उनकी पुत्री भी अभी इसी विद्यालय में शिक्षिका हैं.पूरा परिवार लंबे समय से शिक्षण कार्य से जुड़ा है तथा समाज में काफी प्रतिष्ठित है. ईसाई अल्पसंख्यक समुदाय को प्रताड़ित करना अत्यंत गंभीर विषय है. बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के उपाध्यक्ष राजन क्लेमेंट साह ने कहा कि प्रभावित अल्पसंख्यक स्टीवन जौन सरपिस होली क्रॉस हाई स्कूल, दरभंगा के सेवानिवृत टीचर हैं.जो यहां पर करीब पिछले 48 वर्षों से मोहल्ला लक्ष्मी सागर कॉलोनी,जे.पी.चौक दरभंगा में सपरिवार रहते आ रहे हैं.उन्होंने कहा कि 28 अगस्त रविवार को पूर्वाह्न 11ः30 कुछ मन बरहू दबंगई अल्पसंख्यक ईसाई पर दिखा दिए.इस परिवार के 4 लोगों को घायल कर दिया.स्टीवन जौन सरपिस के बेटे लॉरेन सरपिस का सर बुरी तरह फट गया है.कई टांके लगे हैं.उनकी को भी चोट आई हैं. सभी डीएमसीएच सर्जरी विभाग डॉ डीसी कर्ण जी के  विभाग में भर्ती हैं.उन्होंने कहा कि आज शाम उनसे जब मिला गया तब जाकर पूरी घटना की पूरी जानकारी ली सकी है. बड़ा ही दुख हुआ कि एक सभ्य समाज में बरसों से आपके बीच ही आपके भरोसे यकीन के साथ आपके भाई की तरह रहते हैं. इस बीच व्यापार संयोजक श्री अंकुर गुप्ता जी, दीपक पंजियार जी, समीम वारसी   जी खुद अन्य कई हमारे साथी भाजपा सभी इस घटना में संज्ञान सुधि लेने पहुंचे. इस परिवार से मिले.तनवीर हसन अधिवक्ता के द्वारा निष्पक्ष कानूनी कार्रवाई कर रहे हैं. मौके पर भी गये.बीजेपी से जुड़े हैं.

कोई टिप्पणी नहीं: