राहुल का मासूम को कंधे पर बैठाना इटावा के लोगों को आज भी याद - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 15 सितंबर 2022

राहुल का मासूम को कंधे पर बैठाना इटावा के लोगों को आज भी याद

etawah-still-remember-rahul-carrying-the-innocent
इटावा, 15 सितंबर, कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का नेतृत्व कर सुर्खियां बटोर रहे राहुल गांधी की 14 साल पुरानी एक तस्वीर की चर्चा इन दिनो इटावा में हर शख्स की जुबां पर है जिसमें वह एक मासूम बच्चे को कंधे पर बैठाए हुये हैं। वर्ष 2008 में कैमरे में कैद की गयी राहुल गांधी की यह तस्वीर इकदिल थाना के अमीनाबाद गांव की है जहां श्री गांधी पांच दलित लोगो की हत्या के बाद संवेदना व्यक्त करने आये थे। समाजवादी पार्टी (सपा) मे शामिल हो चुके पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष उदयभान सिंह यादव ने बताया कि 2008 मे पांच दलितो की हत्या के बाद इकदिल इलाके के अमीनाबाद गांव मे राहुल गांधी आये थे जहॉ पीडित परिवार से मिलने के बाद वे वापस लौट रहे थे कि अचानक एक आलू किसान से मिल कर उन्होने उनका हाल चाल लिया और साथ ही उसकी बेटी को भी अपने कंघे पर उठा कर अपनेपन का एहसास कराया ।

कोई टिप्पणी नहीं: