सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 13 सितंबर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 14 सितंबर 2022

सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 13 सितंबर

मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान शिविरों की तिथियां निर्धारित


राज्य एवं केन्द्र सरकार की हितग्राही मूलक योजना का लाभ जिले के सभी पात्र हितग्राहियों को देने के लिए प्रदेश के साथ ही जिले में भी 17 सितम्बर से 31 अक्टूबर तक "मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान" प्रारंभ किया जा रहा है। जिसमें हितग्राहियों को योजनाओं से लाभान्वित करने शिविर लगाए जाएंगे।  अभियान के तहत सभी जनपदों में शिविरों की तिथियां निर्धारित की गई है।


जनपद पंचायत सीहोर में 17 सितम्बर से एक अक्टूबर तक आयोजित शिविर

जनपद पंचायत सीहोर में 17 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत चांदबड़, सुआखेड़ा, हसनपुर तिनोनिया, कतपोन, पानबिहार, खजुरिया खुर्द, देवली, कपूरी, रायपुरा, कराड़ियाभील, कोडियाछीतू, पचामा, पचपिपलिया, मगसपुर, धबोटी, टिटौरा, ढाबला, लीलाखाड़ी, 19 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत गवां, गढ़ीबगराज, पीलूखेड़ी, बराड़ीकलां, सोनकच्छ, करंजखेड़ा, कादराबाद, मुहाली, मोनीखेड़ी मोसाई, राजूखेड़ी,सेवनियां, रायपुर नयाखेड़ा, लालाखेड़ी, नापलाखेड़ी, अल्हादाखेड़ी, बिजलौन, कुलासखुर्द, भन्डेली, 20 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत आछारोई, सीलखेड़ा, अरनियासुल्तानपुरा, जमुनियां खुर्द, सौंठी, घाटपलासी, धोबीखेड़ी, निपानियां कलां, जमोनिया तालाब, जानपुर बाबड़िया, रोला, छापरी कलां, डोडी, लसूड़िया धाकड़, मोगरापफूल, धाबनखेड़ा, शिकारपुर, इमलीखेड़ा, बीलखेड़ा खुर्द, 21 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत बांसिया, दौलतपुरा, बर्री, बरखेड़ाखरेट, सतोरनियां, कादमपुर, शेखपुरा, मूंडलाखूर्द, दुपाड़िया भील, संग्रामपुर, चितोड़िया लाखा, जहांगीरपुरा, बरखेड़ी, हीरापुर, 22 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत मानपुरा, मगरदा, बमूलिया दौराहा, सिकन्दरगंज, छापरी दोराहा, बैरागढ़ खुमान, रावनखेड़ा, मुंगावली, महोड़िया, खामलिया, लसूड़िया खास, जताखेड़ा, हसनाबाद, पिपलियामीरा, सागोनी, खारी, सालीखेड़ी में शिविर आयोजित किया जाएगा। इसी प्रकार 23 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत छतरपुरा, सातनबाड़ी, पड़ियाला, बरखेड़ी दोराहा, पाटन, गुलखेड़ी, सरखेड़ा, मूंडला कलां, सेमली कलां, थूनाकलां, खापरा, रफीकगंज, तकीपुर, बड़नगर, कुलासकलां, आंवलीखेड़ा, 26 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत सांकला, मुंगावली दोराहा, छत्री, मुख्तारनगर, सिराड़ी, धनखेड़ी, सेमरादांगी, बिजोरी, लसूड़िया परिहार, हैदरगंज, गुड़भेला, मोगराराम,  बमूलिया, पड़ली, खेड़ली, 27 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत हाथियाखेड़ी, हिनौती, बरखेड़ा देवा, महुआखेड़ा, मगरखेड़ा, खण्डवा, बिजोरा, आमला, सतपिपलिया, उलझावन, भोजनगर, 28 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत पाटेर, नाईहेड़ी, रसूलपुरा, झरखेड़ा, निवारिया, शाहपुर कोड़िया, सोंडा, आमाझिर, बिलकिसगंज, 29 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत शाहजहांपुर, अजमतनगर, वनखेड़ा, खजूरियां कला, कचनारिया, मुल्लानी, पाटनी, 30 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत दूरगांव, लोधीपुरा, छाईखेड़ा, दोराहा, श्यामपुर, मुस्कुरा, 01 अक्टूबर को शिविर ग्राम पंचायत बरखेड़ाहसन, चरनाल, 03 अक्टूबर को शिविर ग्राम पंचायत अहमदपुर में शिविर आयोजित किया जाएगा।


जनपद पंचायत नसरूल्लागंज में 17 सितम्बर से 06 अक्टूबर तक आयोजित शिविर

17 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत छापरी, सेमलपानी कदीम, सतराना, बचगांव बरखेड़ी, धौलपुर, इटावाखुर्द, हाथीघाट, 19 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत घुटवानी, निमोटा, नंदगांव, कुमनताल, बालागांव, मुहाई, रिठवाड़, 20 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत पलासीकलां, गोरखपुर, खनपुरा, गोपालपुर, रिछाड़ियाकदीम, बाई, खातियांखेड़ी, 21 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत  पिपलानी, छिदगांव मोजी, सोयत, सीगांव, गिल्लौर, मगरिया, तजपुरा, 22 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत  भादाकुई, गुलपुरा, कलवाना, इटारसी, हलियाखेड़ी, श्यामपुर, चिचलाहकला, 23 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत आम्बाकदीम, पाचोर, बोरखेड़ी, इटावाकलां, निम्नागांव, मंजीखेड़ी, रमपुरा चकल्दी, 24 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत लाड़कुई, लाचोर, चनपुरा, छीपानेर, बोरखेड़ाकला, सुकरवास, कोठरा पिपल्या, 26 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत टीकामोड़, जोगला, दिगवाड़, चौरसाखेड़ी, खसरानियां, हमीदगंज, पाटतलाई, 27 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत भिलाई, सिराली, तिलाड़िया, महांगावजदीद, बगवाड़ा, सीलकंठ, वासुदेव, अमीरगंज, 28 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत झाली सेवनियां, पाड़ल्या, श्यामुगांव, डिमावर, सातदेव, बड़नगर, ढाबा, 29 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत सिंहपुर कोसमी, चंदाग्रहण, बाबरी, छिदगांव काछी, जमोनिया कला, बोरखेड़ा खुर्द, खजूरी, 30 सितम्बर को शिविर ग्राम पंचायत रफीकगंज, राला, खेड़गांव, आम्बाजदीद, सोहनपुर, नरेला,01 अक्टूबर को शिविर ग्राम पंचायत कुरीनयापुरा, महागाव कदीम, आगरा, नीलकंठ, बोरखेड़ी, लावापानी, 03 अक्टूबर को शिविर ग्राम पंचायत बसंतपुरा पांगरी, चींच, आमडो, 04 अक्टूबर को शिविर ग्राम पंचायत डाबरी, सोठियां, जमोनियाबाज्याप्त, 06 अक्टूबर को शिविर ग्राम पंचायत मोगराखेड़ा, ससली में शिविर आयोजित किया जाएगा।


प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस पर आयोजित होगा विशाल रक्तदान शिविर


आजादी के अमृत महोत्सव तथा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस पर 17 सितंबर 2022 को विशाल रक्तदान शिविर जिला चिकित्सालय सीहोर में आयोजित किया गया है। रक्तदान के लिए आरोग्य सेतु एप अथवा www.eraktkosh.in पर पंजीयन किया जा सकता है। अभियान से जुड़ने के लिए स्वयं सेवी संस्थाएं, एनसीसी, एनएसएस, नेहरू युवा केन्द्र, सामाजिक संगठनों से अनुरोध किया गया है कि वे भी इस अभियान में साझीदार बनकर मानवता के इस पुनीत कार्य से जुड़े़।


कलस्टर आधारित गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए कार्यशाला 15 सितम्बर को


जिले में कलस्टर आधारित गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए चिन्हांकित मछली पालन एवं मुर्गी पालन की गतिविधि को कलस्टर आधारित गतिविधि के रूप में करने के लिए 15 सितम्बर 2022  को जिला पंचायत सभागृह में दोपहर 2.30 बजे से 4.00 बजे तक कार्यशाला आयोजित की जाएगी। जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह ने सभी संबंधित अधिकारियों को कार्यशाला में अपने विभागों की विभागीय योजनाएं एवं कलस्टर विकास के लिए आवश्यक सुझाव देने के लिए उपस्थित होने के निर्देश दिए है।


दिव्यांगजनो को सहायक उपकरण प्रदान करने शिविर 17 सितम्बर को


प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस पर दिव्यांगजनो को विभिन्न कृत्रिम अंग, सहायक उपरकण के लिए चिन्हांकित कर वितरित करने के लिए शासकीय आवासीय खेल कूद संस्थान में 17 सितम्बर को प्रात: 11 से शाम 4 बजे तक शिविर आयोजित किया जाएगा। शिविर में जिला मेडिकल बोर्ड के विषय विशेषज्ञ चिकित्सको द्वारा चिन्हाकन, अनुशंसा अनुसार दिव्यांगजनो को शासन के नियमानुसार कृत्रिम अंग, सहायक उपकरण प्रदाय किए जाएंगे।


धान, ज्वार, बाजरा उपार्जन के लिए समिति प्रबंधक एवं ऑपरेटरों को प्रशिक्षण 14 को


जिले में खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 अंतर्गत समर्थन मूल्य पर धान, ज्वार एवं बाजरा के उपार्जन के लिए ई-उपार्जन पोर्टल पर निर्धारित किसान पंजीयन केन्द्रों के समिति प्रबंधक एवं ऑपरेटरों का प्रशिक्षण कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में 14 सितम्बर को दोपहर 12 बजे रखा गया है। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री एसके तिवारी निर्धारित किसान पंजीयन केन्द्रों के समिति प्रबंधकों एवं ऑपरेटरों को प्रशिक्षण में अनिवार्यत: उपस्थित होने के लिए आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है।


आबकारी विभाग ने अप्रैल से सितम्बर तक 270 प्रकरण कायम कर अवैध मदिरा एवं महुआ लाहन जप्त किया


कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर के निर्देश पर आबकारी विभाग द्वारा अवैध मदिरा के विरुद्ध अभियान निरंतर चलाया जा रहा है। आबकारी दल ने जिले के अनेक क्षेत्रों में कार्यवाही करते हुए अप्रैल 2022 से 11 सितम्बर तक 34 लाख 90 हजार 905 रुपये की देशी-विदेशी मदिरा एवं महुआ लाहन जप्त किया है। जिला आबकारी अधिकारी श्रीमती कीर्ति दुबे ने बताया कि अप्रैल 2022 से 11 सितम्बर तक आबकारी अमले ने सीहोर जिले में मध्यप्रदेश आबकारी अधिनियम 1915 की विभिन्न धाराओं के अन्तर्गत छापामार कार्रवाई की। इन कार्रवाईयों में 270 प्रकरण दर्ज कर 2170.64 लीटर देशी-विदेशी मदिरा जप्त की गई। इसके अलावा 63 हजार 310 किलोग्राम महुआ लाहन जप्त किया गया है। जप्त मदिरा एवं महुआ लाहन की अनुमानित कीमत 34 लाख 90 हजार 905 रुपये है।


मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजना के तहत यात्रा 25 सितम्बर से 11 अक्टूबर तक


मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजना के तहत यात्रा 25 सितम्बर से 11 अक्टूबर 2022 तक निर्धारित की गई है। योजना अंतर्गत मध्यप्रदेश के वरिष्ठ नागरिकों जो 60 वर्ष या अधिक आयु के व्यक्ति महिलाओं के मामले में 2 वर्ष की छूट जो आयकर दाता नहीं है, को प्रदेश और प्रदेश के बाहर स्थित विभिन्न तीर्थ स्थानों में से एक या युग्म तीर्थों की यात्रा सुलभ कराने के लिए मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना परिकल्पित की गयी है। ट्रेन जिस स्थान से प्रारंभ होगी उसी स्थान पर ही वापस आकर रुकेगी। यात्रियों का चयन संबंधित जिले के कलेक्टर द्वारा किया जायेगा। तीर्थ यात्रियों को विशेष ट्रेन द्वारा प्रस्थान के स्टेशन से लेकर यात्रियों को वापस उसी स्टेशन पर पहुंचाने की जिम्मेदारी IRCTC की रहेगी। यात्रा के दौरान यात्रियों को भोजन, नाश्ता एवं चाय आदि IRCTC उपलब्ध करायेगा। यात्रियों के रुकने की व्यवस्था, उन्हें तीर्थ स्थल तक बसों द्वारा ले जाने, वापस ट्रेन में लाने एवं गाइड आदि की व्यवस्था भी IRCTC करेगा । IRCTC द्वारा तीर्थ यात्रियों को तुलसी माला एवं स्मृति चिन्ह प्रदान किए जावेंगे तथा तीर्थ यात्रियों के लिए भजन मण्डली की व्यवस्था तथा भजन संध्या का आयोजन भी किया जावेगा। ट्रेन जिन-जिन स्टेशनों से प्रारंभ होगी एवं रुकेगी वहाँ तक यात्री को स्वयं अपने व्यय से आना होगा। उसके पश्चात यात्रा के लिए कोई शुल्क देय नहीं होगा। यात्रियों से अपेक्षा है कि वे मौसम के अनुरूप वस्त्र, ऊनी वस्त्र, व्यक्तिगत उपयोग की सामग्री यथा कंबल, चादर, तौलिया, साबुन, कंघा, दवाईयां, दाढ़ी बनाने का सामान आदि साथ में रखें। तीर्थ यात्री अपने साथ ओरीजनल आधार कार्ड, वोटर कार्ड एवं कोविड़ वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट की छायाप्रति अनिवार्य रूप से रखें। प्रत्येक ट्रेन में कुल 1000 बर्थ उपलब्ध रहेगी। इन बर्थो के विरुद्ध तीर्थ यात्रियों, सहायकों अनुरक्षक (एस्कार्ट) के रूप में शासकीय अधिकारी/कर्मचारियों को भेजा जाना है।रेल जिस जिले से प्रारंभ होगी उसी जिले से सुरक्षा कर्मियों की व्यवस्था की जाएगी। आवेदक एक या एक से अधिक स्थान के लिये यात्रा के लिए आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं। परन्तु वह केवल एक ही स्थान की यात्रा कर सकेगा। आवेदन निकटतम तहसील, स्थानीय निकाय, जनपद कार्यालय अथवा कलेक्टर द्वारा निर्धारित अन्य स्थानों पर जमा किये जा सकेंगे। जिस जिले से ट्रेन आरंभ होगी उस जिले के कलेक्टर ट्रेन में तीर्थ यात्रियों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए एक शासकीय डॉक्टर की ड्यूटी लगाना सुनिश्चित करेंगे। ड्यूटी डॉक्टर चाहे तो अपनी पत्नी को भी यात्रा में साथ ले जा सकते है। जिले को आवंटित निर्धारित कोटे से अधिक आवेदन प्राप्त होते है। तो ऐसी स्थिति में यात्रियों का चयन कम्प्युटराईज्ड लॉटरी से किया जाये। निर्धारित कोटे से 10 प्रतिशत अतिरिक्त तीर्थ यात्रियों की पृथक से सूची तैयार करेंगे। मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत संबंधित तीर्थ यात्रियों को उत्तम गुणवत्ता का भोजन, नाश्ता एवं शुद्ध पेयजल कम से कम 2 मिनरल वाटर की बोतल प्रतिदिन दी जावें। जिले से एक पर्यवेक्षक (एक अनुरक्षक के स्थान पर) जो पद में तहसीलदार अथवा उसके समकक्ष होगा। ट्रेनों में कोविड प्रोटोकॉल के तहत वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र की अनिवार्यता के साथ मास्क का उपयोग एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाये। तीर्थ स्थान अयोध्या-वाराणसी काशी, के लिए यात्री रेलवे स्टेशन नर्मदापुरम, बुधनी (सीहोर) और होशंगाबाद नर्मदापुरम-रानी कमलापति भोपाल,सागर से यात्रा प्रारंभ होगी। इसके लिए आवेदन की अंतिम तिथि 16 सितम्बर 2022 रहेगी।


मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना में 10 नई ट्रेन चलेंगी


प्रदेश की महत्वाकांक्षी "मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना" की 10 नई ट्रेन और चलाई जाएंगी। नर्मदापुरम से अयोध्या-वाराणसी-काशी, की ट्रेन 25 सितंबर को जायेगी। अयोध्या-वाराणसी-काशी ट्रेन में सीहोर, बैतूल, विदिशा के तीर्थ-यात्री, रहेगें। प्रदेश के 60 वर्ष के पुरुष और 58 वर्ष की महिला या उससे अधिक आयु के नागरिक जो आयकर दाता नहीं है, इस योजना में तीर्थ-दर्शन कर सकते हैं। आवेदन संबंधित जिले में निकटतम तहसील, स्थानीय निकाय, जनपद कार्यालय या कलेक्ट्रेट द्वारा निर्धारित अन्य स्थानों पर जमा किए जा सकेंगे। यात्रियों का चयन संबंधित जिले के कलेक्टर द्वारा किया जाएगा। यात्रा के दौरान यात्रियों को भोजन, नाश्ता, चाय, रूकने की व्यवस्था, तीर्थ दर्शन तक बसों से जाने, वापस ट्रेन में लाने और गाइड की व्यवस्था आईआरसीटीसी करेगा। तीर्थ-यात्रियों को तुलसी माला और स्मृति चिन्ह दिए जाएंगे। तीर्थ यात्रियों के लिए भजन मंडली की व्यवस्था और भजन संध्या का आयोजन भी किया जाएगा। यात्रियों से अपेक्षा है कि वे मौसम के अनुरूप वस्त्र, ऊनी वस्त्र, व्यक्तिगत उपयोग की सामग्री, कंबल, चादर, तौलिया, साबुन, कंघा, दाढ़ी बनाने का सामान आदि साथ में रखें। तीर्थ-यात्री अपने साथ ओरिजिनल आधार कार्ड, वोटर कार्ड और कोविड वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट की प्रति भी अनिवार्य रूप से रखें। 


प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजनान्तर्गत मत्स्य पालन कृषक योजना का लाभ प्राप्त करें


प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना अंतर्गत जिले में मत्स्योद्योग विभाग द्वारा वर्ष 2021-22 एवं वर्ष 2022-23 के अगस्त 2022 तक जिलभर में अनेक मत्स्य किसानों को विभिन्न योजना का लाभ प्रदान किया जा चुका है। मत्स्य विभाग के सहायक संचालक श्री भारत सिंह मीना ने बताया कि मत्स्य विभाग द्वारा ग्राम हीरापुर में चायनिज हेचरी का निर्माण कराकर 12 लाख रूपए का अनुदान प्रदाय किया गया है। जिससे मत्स्य किसानो द्वारा अच्छा लाभ प्राप्त किया जा रहा है। साथ ही दो अन्य गाँवों में दो वायोफलक निर्माण कराकर दोनों मत्स्य किसानों को 9 लाख रूपए का अनुदान प्रदाय किया गया है। उन्होंने बताया कि मत्स्य विभाग ने पांचों विकासखण्डों में अभी 70 तालाबों का निर्माण कराया गया है जो कि 0.500 हैक्टेयर के है। सभी किसानों को दो लाख 40 हजार रूपए का अनुदान दिया गया है। सभी किसानों द्वारा अपनी भूमि पर बनवाये गये। उन्होंने बताया कि मत्स्योद्योग ने 52 मत्स्य कृषको को मोटर साइकिल उपलब्ध कराई। प्रत्येक मोटर साइकिल पर किसानों को 30 हजार रूपए का अनुदान दिया गया। जिससे मत्स्य किसान आईस बॉक्स में मछली रखकर गॉव-गॉव मोटर सायकल से मछली का विक्रय कर अच्छा लाभ प्राप्त कर रहे है। विभाग ने दो मत्स्य किसानों को दो फिश फिड मीलो का निर्माण कराकर प्रत्येक को 15 लाख रूपए का अनुदान दिया। दोनो कृषकों द्वारा मछियो को खिलाने के दाने का निर्माण किया जा रहा है। अब सीहोर में ही कृषकों का मछली के दाने असानी से उपलब्ध हो रहे है।     


कोहिनूर ट्रेडर्स सीहोर से हर्बीसाइड के शेष स्टाक को क्रय-विक्रय एवं स्थानांतरण से प्रतिबंधित


कीटनाशी निरीक्षक विकास खण्ड सीहोर द्वारा कोहिनूर ट्रेडर्स सीहोर से कीटनाशक निर्माता कंपनी कृषि रसायन एक्सपर्ट प्रायवेट लिमिटेड द्वारा निर्मित हर्बीसाइड Clodinafop propargyl 15प्रतिशत wp निरीक्षक 21 दिसम्बर 2020 का नमूना लिया जाकर परीक्षण के लिए कीटनाशक गुण नियंत्रण प्रयोगशाला फरीदाबाद भेजा गया था। प्रयोगशाला से प्राप्त विश्लेषण रिपोर्ट में नमूना अमानक स्तर का पाया जाने पर 26 अगस्त 2022 को द्वारा हर्बीसाइड के शेष स्टाक को क्रय-विक्रय एवं स्थानांतरण से प्रतिबंधित करते हुये कारण बताओं सूचना पत्र जारी किया गया था। सूचना पत्र का उत्तर अभी तक इस कार्यालय को प्राप्त नहीं हुआ है। ऐसी स्थिति में अमानक हर्वीसाइड का व्यवसाय करने के फलस्वरूप कीटनाशी अधिनियम 1968 की धारा 17 एवं 18 का उलंघन पाये जाने पर धारा 12 में प्रदत्त शक्तिओं का उपयोग करते हुये मैं, उप संचालक, किसान कल्याण तथा कृषि विकास पदेन पंजीयन अधिकारी पौध संरक्षण सीहोर कीटनाशक अनुज्ञप्ति क्रमांक 2108 जारी दिनांक 16.06.2015 को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है।


जिले में अब तक 1404.2 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज


जिले में 01 जून से 13 सितम्बर 2022 तक 1404.2 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। जो कि गत वर्ष इसी अवधि में औसत वर्षा 805.9 मिलीमीटर थी। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 13 सितम्बर 2022 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 1490.9 मिलीमीटर, श्यामपुर में 1522.0 आष्टा में 1257.2, जावर में 1047.7, इछावर में 1461.3, नसरूल्लागंज में 1207.7, बुधनी में 1564.0 और रेहटी में 1682.6 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बीते 24 घंटे में वर्षा

जिले में बीते 24 घंटे में प्रात: 8 बजे तक 3.6 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 5.0 मिलीमीटर, श्यामपुर में 0.0, आष्टा में 0.0, जावर में 0.0, इछावर में 9.0, नसरुल्लागंज में 0.0, बुधनी में 6.0 एवं रेहटी में 8.4 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


पंजीकृत निर्माण श्रमिक खिलाड़ी प्रोत्साहन योजना का लाभ प्राप्त करें


पंजीकृत निर्माण श्रमिक अथवा उनके परिवार के सदस्य खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा संचालित खिलाड़ी प्रोत्साहन योजना का लाभ उठाएं। मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार मंडल की खिलाड़ी प्रोत्साहन योजना के नियमों के अनुसार पंजीकृत निर्माण श्रमिक अथवा उनके परिवार के सदस्य को जिला स्तरीय खेल प्रतियोगिता में चयनित होने पर 10 हजार रूपए, संभाग स्तरीय खेल प्रतियोगिता में चयनित होने पर 25 हजार रूपए तथा राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में चयनित होने पर 50 हजार रूपए की प्रोत्साहन राशि प्रदाय की जाती है। योजना का लाभ उठाने के लिए पंजीकृत निर्माण श्रमिक अथवा उनके परिजन ग्रामीण क्षेत्र के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत तथा शहरी क्षेत्र में मुख्य नगरपालिका अधिकारी नगर पालिका परिषद, नगर पंचायत में संपर्क कर सकते हैं। इच्छुक पंजीकृत निर्माण श्रमिकों एवं उनके परिजनों से कहा है कि वे खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा समय-समय पर आयोजित होने वाली विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं में भाग लेकर उक्त योजना का लाभ प्राप्त करें।


पशुपालक अपने पशुओं में लम्बी रोग होने पर तत्काल चिकित्सक को दिखाएं


पशु चिकित्सक विभाग ने बताया कि पशुपालक अपने पशुओं में लम्पी रोग के लक्ष्ण में शुरू में बुखार आता है और वे चारा खाना बंद कर देते हैं। इसके बाद चमड़ी पर गाँठें दिखाई देने लगती है, पशु थका हुआ और सुस्त दिखाई देता है, नाक से पानी बहना एवं लंगड़ा कर चलता है। यह लक्षण दिखाई देने पर पशुपालक तुरंत अपने नजदीकी पशु चिकित्सालय में पशु को ले जाकर दिखायें या चिकित्साक को घर ले जाकर बीमार पशुओं का उपचार कराएँ। पशु सामान्यतः: 10 से 12 दिन में स्वस्थ हो जाता है। संक्रमित पशु को स्वस्थ पशु से तत्काल अलग करें। पशु चिकित्सक से तत्काल उपचार आरंभ कराएँ। संक्रमित क्षेत्र के बाजार में पशु बिक्री, पशु प्रदर्शनी, पशु संबंधी खेल आदि पूर्णत: प्रतिबंधित करें। संक्रमित पशु प्रक्षेत्र, घर, गौशाला आदि जगहों पर साफ-सफाई, जीवाणु एवं विषाणु नाशक रसायनों का प्रयोग करें। पशुओं के शरीर पर होने वाले परजीवी जैसे- किलनी, मक्खी, मच्छर आदि को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करें। स्वस्थ पशुओं का टीकाकरण कराएँ और पशु चिकित्सक को आवश्यक सहयोग भी करें।


"मुख्यमंत्री जन-सेवा" अभियान क्रियान्वयन, प्रत्येक पात्र व्यक्ति को लाभान्वित करना पहली प्राथमिकता


प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के जन्म-दिन 17 सितम्बर से राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री जन-सेवा अभियान शुरू किया जाएगा। जन-सेवा अभियान 17 सितम्बर से 31 अक्टूबर तक केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं में पात्र व्यक्तियों को प्राथमिकता के आधार पर लाभान्वित किया जाएगा। अभियान के क्रियान्वयन के लिए अधिकारियों को पूर्ण कार्य-योजना बनाने के निर्देश दिये। इसके सफल क्रियान्वयन में कोई कसर नहीं रहने दी जायेगी। संचालित इस कार्यक्रम को शत-प्रतिशत पात्रताधारी व्यक्ति को केन्द्र एवं राज्य सरकार की लोक कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिल सके। मुख्यमंत्री जन-सेवा अभियान के प्रचार-प्रसार के लिये सभी माध्यमों का उपयोग सुनिश्चित किया जाएगा, जिससे पात्र व्यक्ति योजनाओं का लाभ प्राप्त करने से वंचित न रहे।


प्रदेश में जिला वेटलैंड संरक्षण समितियां गठित


राज्य शासन द्वारा जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में वेटलैंड संरक्षण समितियों का पुनर्गठन किया गया है। समिति में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ग्रामीण क्षेत्रों के लिये और मुख्य नगर पालिका अधिकारी नगरीय क्षेत्रों में सदस्य सचिव होंगे। सदस्यों में जिला वन मण्डलाधिकारी, जिला भू-बंदोबस्त अधिकारी, अधीक्षण या कार्यपालन या सहायक यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी और जल-संसाधन विभाग, कृषि, मछली-पालन, क्षेत्रीय अधिकारी मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और राज्य वेटलैण्ड प्राधिकारण एप्को के अधिकारी होंगे। जिला वेटलैण्ड संरक्षण समिति के कर्त्तव्यों में जिला स्तर पर तालाबों के समग्र संरक्षण और प्रबंधन के संबंध में समुचित कार्यवाही करना, राज्य वेटलैण्ड प्राधिकरण की सहयोगी इकाई के रूप में कार्य करना, जिले में वेटलैण्ड नियम-2017 का प्रभावी क्रियान्वयन, राज्य और केन्द्र शासन द्वारा संचालित योजनाओं के क्रियान्वयन, मूल्यांकन और निगरानी में राज्य वेटलैण्ड प्राधिकरण का सहयोग करना है। समिति जिले के तालाबों की समस्त जानकारी एकत्र कर डाटाबेस तैयार करेगी और उसके संधारण के लिये भी उत्तरदायी होगी। समिति जिले में तालाबों के संरक्षण से जुड़े संबंधित विभागों और हितधारकों के बीच समन्वय करने के साथ जिले में चिन्हित डिजिटल वेटलैण्ड इन्वेंट्री के अनुसार तालाबों की पहचान एवं मैदानी स्तर पर पुष्टि करेगी। समिति वेटलैण्ड, तालाब, नदी, अन्य जल-स्रोतों, प्राकृतिक संसाधनों के पर्यावरणीय संरक्षण एवं प्रदूषण नियंत्रण के लिये लोगों को जागरूक करने जागरूकता प्रशिक्षण और क्षमता विकास के कार्यक्रम विश्व वेटलैण्ड दिवस, विश्व जल दिवस, विश्व पृथ्वी दिवस, विश्व पर्यावरण दिवस आदि विशेष अवसरों पर करेगी।


वरिष्ठ नागरिकों के लिए एल्डर लाइन नम्बर 14567


वरिष्ठजन के साथ शारीरिक या भावनात्मक रूप से दुर्व्यवहार किया जा रहा है, तो वह एल्डरलाइन नंबर 14567 पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार तथा सामाजिक न्याय और निशक्तजन कल्याण विभाग के अंतर्गत वरिष्ठ नागरिकों की सुविधाओं एवं मार्गदर्शन हेतु सहायता के लिए हेल्पेज इंडिया द्वारा हेल्पलाइन टॉलफ्री नम्बर जारी किया गया है। वरिष्ठ नागरिकों के लिए स्थापित एक योजना है, जो मप्र के सभी जिलों में संचालित है। यह हेल्पलाइन सप्ताह के सातों दिन सुबह 08 बजे से रात 08 बजे तक कार्य करती है। एल्डर लाइन के अतंर्गत सेवाओं के एक भाव के रूप में मुफ्त कानूनी मार्गदर्शन प्रदान किया जाता है तथा वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण और रख-रखाव के अधिनियम 2007 के बारें में और पेंशन योजनाओं के बारें में जानकारी प्रदाय की जाती है। यदि किसी वरिष्ठजन के साथ शारीरिक या भावनात्मक रूप से दुर्व्यवहार किया जा रहा है, तो वह इस हेल्पलाइन नंबर पर रिपोर्ट कर सकतें है। कोई भी वरिष्ठजन अकेला हो या भावनात्मक रूप से कमजोर महसूस कर रहा हों, वे फोन करके बात कर सकतें है। हेल्पलाइन के माध्यम से भावनात्मक परामर्श प्रदान करने, परित्यक्त वृद्ध लोगों को अस्थाई आश्रय प्रदान करनें, उन्हें फिर से उनके परिवार के साथ मिलानें में मदद की जाती है। इसके अलावा वृद्धाश्रम, देखभाल करने वाली संस्थाओं, अस्पतालों आदि के बारें में भी जानकारी प्रदान की जाती है।


केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री डॉ. मुरूगन का दौरा कार्यक्रम


केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री डॉ. एल मुरूगन 14 सितम्बर को प्रात: 7.35 बजे भोपाल एयरपोर्ट से प्रस्थान कर प्रात: 9 बजे वीआई यूनिवर्सिटी कोठरीकलां पहुंचेंगे। यहां वे वीआईटी में आयोजित वार्षिकोत्सव कार्यक्रम में शामिल होंगे। तत्पश्चात वे दोपहर 2 बजे कोठरीकलां से भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे।


अनुभाग स्तर पर बीएलओं की बैठक आयोजित


कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर के निर्देश पर अनुविभाग स्तर पर समस्त बीएलओ की बैठक आयोजित की गई। बैठक में एसडीएम श्री अमन मिश्रा ने अनुभाग में चल रहे कार्यों की प्रगति की समीक्षा करते हुए समस्त बीएलओ को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। आधार सीडिंग कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए उन्होंने समस्त बीएलओं को आधार सीडिंग कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के तहत किए जा रहे डोर-टू-डोर सर्वें कार्य के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने सीएम हेल्पलाइन लंबित प्रकरणों का त्वरित निराकरण करने के अधिकारियों को निर्देश दिए।


परिवहन विभाग ने की स्कूल वाहनों पर चालानी कार्यवाही


जिला परिवहन विभाग द्वारा आष्टा में स्कूल वाहनों की चेकिंग की गई। इस दौरान अनफिट वाहनों पर कार्रवाई भी की गई। जिला परिवहन अधिकारी श्री रितेश तिवारी ने बताया कि आष्टा में चेंकिंग के दौरान 17 अनफिट वाहनों पर चालानी कार्रवाई करते हुए 53 हजार रूपए शमन शुल्क वसूल किया गया। चैकिंग के दौरान वाहन की फिटनेस, बीमा, प्रदूषण प्रमाण पत्र आदि की जांच की गई।


लक्ष्मी के रेडिमेड व्यवसाय को‍ बढ़ाने में मददगार साबित हुई मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना


sehore-news
मध्यप्रदेश शासन द्वारा संचालित मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना स्वयं का व्यवसाय प्रारंभ करने तथा व्यवसाय को आगे बढ़ाने के इच्छुक व्यक्तियों के लिये वरदान बन गई है। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना से अनेक लोग स्वयं का व्यवसाय स्थापित कर आत्मनिर्भर बन रहे है। जिससे उनके परिवार की आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ हो रही है। योजना के तहत बैंकों के माध्यम से लोगो को ऋण उपलब्ध कराया जाता है और शासन द्वारा उस ऋण पर निर्धारित सब्सिडी प्रदान की जाती है। जिले के इछावर तहसील की वार्ड क्रमांक-8 निवासी श्रीमती लक्ष्मी ताम्रकार ग्रहणी होने के साथ ही स्वयं का व्यवसाय भी चला रही है। लक्ष्मी की इछावर बाजार में रेडिमेड की दुकान है। गत दिवस आयोजित रोजगार-स्वरोजगार कार्यक्रम में लक्ष्मी को डेढ़ लाख रूपए का ऋण प्रदान किया गया है। जिसमें शासन द्वारा उन्हें सब्सिडी भी दी गई है। इस राशि से लक्ष्मी ने अपने रेडिमेड व्यवसाय को और अधिक बढ़ाया है। लक्ष्मी बताती है कि पहले वे पैसो के अभाव में अपने व्यवसाय को बढ़ा नही कर पा रही थी। उन्हें रिश्तेदारों से जब मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना का पता चला तो उन्होंने बिना समय गवाएं योजना से ऋण के लिए आवेदन किया। लक्ष्मी बताती है कि आवेदन के कुछ समय पश्चात उन्हें ऋण स्वीकृत कर दिया गया। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना चलाकर अनेक लोगो को स्वयं का रोजगार स्थापित करने में मदद करने के लिए लक्ष्मी में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद किया है।


धूमधाम से मनाई जाएगी अग्रसेन जयंती


sehore-news
सीहोर। अग्र कुल प्रवर्तक महाराजाधिराज श्री अग्रसेन की जयंती महोत्सव को हर्षोल्लास से मनाने के लिए अग्रवाल समाज प्रबंध समिति की व सभी सहयोगी संगठनों की बैठक का आयोजन शहर के बड़ा बाजार स्थितअग्रवाल पंचायती भवन में किया गया। इस मौके पर बड़ी संख्या में समाजजन शामिल हुए। बैठक में सर्व सम्मति से निर्णय हुआ कि श्री अग्रसेन जयंती महोत्सव में दस दिवसीय कार्यक्रम होंगे जोकि आगामी 17 से 26 सितंबर तक चलेंगे। इस दौरान विभिन्न सांस्कृतिक, मनोरंजक कार्यक्रम, आनंद मेला व विभिन्न प्रकार की गतिविधियां आयोजित की जाएंगी। बैठक की अध्यक्षता वरिष्ठ समाजसेवी हरीश चंद्र अग्रवाल ने की। इस अवसर पर समाज के अध्यक्ष निलेश अग्रवाल, उपाध्यक्ष कमलेश अग्रवाल, सचिव उमेश अग्रवाल, राजकुमार गुप्ता, गोविंद मित्तल, कमल अग्रवाल, अमित अग्रवाल, डॉ. कैलाश अग्रवाल, श्याम सुंदर मोदी, दिलीप रूठिया, गोपाल अग्रवाल, महिला मंडल अधक्ष श्रीमती ज्योति अग्रवाल, श्रीमती प्रेमलता रुठिया, मंजू अग्रवाल, मालती अग्रवाल सहित सभी पदाधिकारी व सदस्य उपस्थित रहें। इस मौके पर वरिष्ठ समाजसेवी हरीश अग्रवाल ने बताया कि अग्र कुल प्रवर्तक महाराजाधिराज श्री अग्रसेन की जयंती महोत्सव को हर्षोल्लास से मनाने के लिए अग्रवाल समाज प्रबंध समिति के तत्वाधान में दस दिवसीय भव्य आयोजन किया जाएगा। महोत्सव का आयोजन पूरी भव्यता के साथ किया जाएगा। दस दिवसीय कार्यक्रमों की शुरूआत आगामी 17 सितंबर से आरंभ होगी। 


प्रभारियों के भरोसे चल रहा है पीजी कॉलेज प्रोफेसर,लाइब्रेरियन,स्पोर्ट टीचर के पद खाली

  • अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने किया कॉलेज में जोरदार प्रदर्शन नारेबाजी कर सौपा उच्च शिक्षा आयुूक्त के नाम प्राचार्य को ज्ञापन

sehore-news
सीहोर। चंद्रशेखर आजाद पीजी कॉलेज प्रभारियों के भरोसे चल रहा है। जिले के नोडल कॉलेज में अव्यवस्थाओं का आलम बना हुआ है। कॉलेज में कई प्रोफेसर,लाइब्रेरियन,स्पोर्ट टीचर के पद खाली पड़ हुए है। इन्ही सब मुददों लेकर मंगलवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुडे छात्र छात्राओं ने जोरदार प्रदर्शन किया। कॉलेज में जारी अव्यवस्थाओं से पीडि़त सैकड़ों विद्यार्थियों ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नगर अध्यक्ष विशाल यादव के नेतृत्व में नारेबाजी कर उच्च शिक्षा आयुूक्त के नाम प्राचार्य को ग्यारह सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन सौपा है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नगर मंत्री हर्षित मेवाड़ा ने बताया की कॉलेज में प्रभारी प्राचार्य है कभी भी प्राचार्य को बदल दिया जाता है जिस से विद्याथियों को काफी परेशानियों का सामना करना होता है। प्रभारी की जगह की परमानेंट प्राचार्य की नियुक्ति की जानी चाहिए। इसी प्रकार प्रभारी लाइब्रेरियन की जगह परमानेंट लाइब्रेरियन की नियुक्त किया जाए। पीजी कॉलेज ग्राउंड की हालत ठीक नहीं है खिलाडिय़ों को परेशानी हो रहीे है ग्राउंड जल्दी ठीक कराई जाए। कॉलेज में जिन विषयों के प्रोफेसर नहीं है उनमें प्रोफेसरों की नियुक्ति की जानी चाहिए। कॉलेज में छात्र संघ चुनाव कराए जाए जिस से की नये नेता विद्यार्थियों में से उभर कर सामने आए। पीजी कॉलेज में गल्र्स बॉयज हॉस्टल की व्यवस्थाएं की जाए। परमानेंट स्पोर्ट टीचर की नियुक्ति की जाए। गल्र्स और बॉयस के लिए अलग जिम की व्यवस्थाएं की जाए। कॉलेज में नियमित साफ  सफाई कराई जाए, पार्किंग की व्यवस्था सही व्यवस्था की जाए। कॉलेज के बाहर बच्चों के बैठने के लिए कुर्सियां लगाई जाए। एससी.एसटी की स्कॉलरशिप में कटौती नही की जाए। प्रदर्शन में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सभी पदाधिकारी और बड़ी संख्या में छात्र छात्राएं शामिल रहे। 


सर्व सेन समाज मनाएगा अमृत महोत्सव आयोजित किया जाएगा सम्मान समारोह


सीहोर। सर्व सेन समाज अमृत महोत्सव मनाएगा। सम्मान समारोह आयोजित किया जाएगा। सर्व सेन समाज ने अमृत महोत्सव मनाने की तैयारिया शुरू कर दी है।  सर्व सेन समाज अध्यक्ष तुलसीराम सेन ने बताया की कार्यक्रम सेन कुटी धर्मशाला माता मंदिर चौराहा गंज में गुरूवार 15 सितंबर सुबह 11 बजे से आयोजित किया जाएगा। सम्मान समारोह के मुख्य अतिथि वरिष्ठ समाजसेवी अखिलेश राय होंगे। विशेष अतिथि के रूप में विधायक सुदेश राय और नगर पालिका अध्यक्ष पिं्रस राठौर सम्मिलित होंगे। सामाजिक कार्यो में मुख्य भूमिका निभाने के लिए सर्व सेन समाज के द्वारा अतिथियों का स्मृति चिंह भेंटकर साफा बांधकर पुष्प मालाओं से स्वागत कर सम्मान किया जाएगा।  सर्व सेन समाज संगठन अध्यक्ष तुलसीराम सेन, वरिष्ठ पदाधिकारी राजकुमार श्रीवास, मूलचंद दहेलिया, ललित प्रसाद सेन, अरूण सेन, एलएस सेन, सुरेश सेन, महेश बगवैया, रितेश सेन, युवासेन संगठन अध्यक्ष विश्वास बगवैया, मनोज सेन, दीपक उमरे, धमेंद्र सेन, कमोद सेन, विष्णू सेन, नितिन सेन, रामस्वरूप सेन, संजय उमरे, कमल बगवैया, अर्जुन सेन अशोक सेन, विशाल सेन, शेलू सेन, गोलू सेन, राहुल सेन, संतोष सेन आदि ने समस्त समाजजनों से भव्य सम्मान समारोह में शामिल होने की अपील की है। 


भक्त हृदय में रहता है भगवान का वास-पंडित अरविन्द व्यास


sehore-news
सीहोर। शहर के कस्बा स्थित श्रीराम मंदिर में जारी सात दिवसीय भागवत कथा के तीसरे दिन ध्रुव, भक्त प्रह्लाद चरित्र और नरसिंह अवतार प्रसंग का वर्णन किया, कथावाचक पंडित अरविन्द व्यास ने कहा- भगवान को सच्चे हृदय से करें तो ईश्वर उसकी मदद के लिए हमेशा तत्पर रहते है। भक्त के ह्दय में भगवान का वास होता है। क्योंकि जो धड़कन है वह ईश्वर के द्वारा दिया गया उपहार ही है। जिस दिन धड़कन बंद हुई वह दिन प्राणी का आखिरी होता है। प्राणी विभिन्न योनियों में जन्म लेकर पाप और पुण्य कमाता है। मनुष्य योनी सभी योनियों में श्रेष्ठ है। इसमें मनुष्य को पूरा ज्ञान रहता है कि वह पाप कर रहा है या पुण्य लेकिन माया जाल में फंस कर वह भी भ्रमित हो जाता है। जो मनुष्य ईश्वर में विश्वास और आस्था रखते हैं भगवान उसके साथ रहते हैं। हर पल जो भगवान का याद रखता है वही तो भक्त है। ऐसा ही प्राणी प्रभु को प्यारा होता है। भगवान की प्राप्ति के तीन मार्ग बताए गए है। जिसमें प्रमुख है भक्ति मार्ग, इस मार्ग पर चलने वाले भक्तों को भगवान की शरण मिलते है और उनका नाम अमर हो जाता है। उन्होंने कहा कि राजा उत्तानुपाद के दो पत्नियों में एक का नाम सुनीति और दूसरी का नाम सुरुचि था। सुरुचि के कहने पर उत्तानुपाद ने सुनीति को जंगल भेज दिया था। एक दिन सुनीति का पुत्र खेलते-खेलते राज दरबार जा पहुंचा और उत्तानुपाद की गोदी में बैठ गया। सुरुचि ने उसे फटकारते हुए गोद से उतार कर भगा दिया। इससे दुखी बालक ध्रुव जगंल में तपस्या करने लगा। भीषण बारिश और आंधी, तूफान भी उसे डिगा नहीं सके। नारद मुनि के समझाने पर भी ध्रुव ने तपस्या नहीं छोड़ी। कठिन तपस्या देख भगवान ध्रुव के सामने प्रकट हुए और उन्हें ब्रह्मांड में अटल पदवी दी। आज भी ध्रुव तारा अपने स्थान पर अटल रहते हुए चमक बिखेरता है। कथा के दौरान बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे, अंत में आरती कर प्रसाद वितरण किया गया।


भगवान की भक्ति में ही शक्ति है

कथावाचक पंडित श्री व्यास ने कहा कि भागवत कथा सही मार्ग दिखाता है, भक्ति करनी है तो ध्रुव और भक्त प्रहलाद जैसी करो। भगवान ने प्रहलाद के लिए अवतार लेकर हिरण्कश्यप का वध किया था। यदि भक्ति सच्ची हो तो ईश्वरीय शक्ति अवश्य सहायता करती है। उन्होंने कहा कि सभी अपने बच्चों को संस्कार अवश्य दें, जिससे वह बुढ़ापे में अपने माता पिता की सेवा कर सकें, गो सेवा, साधु की सेवा कर सकें।


शहर के इतिहास में पहली बार एक साथ 500 से अधिक खिलाड़ियों को किया जाएगा

  • आगामी 16 सितंबर को भव्य समारोह में मंत्री विश्वास सारंग करेंगे खिलाड़ियों को पुरस्कार वितरण

sehore-news
सीहोर। शहर के इतिहास में पहली बार आगामी 16 सितंबर को सैकड़ाखेड़ी स्थित संकल्प नशा मुक्ति केन्द्र में लगातार दो माह तक जारी संकल्प खेल महोत्सव का समापन आगामी 16 सितंबर को प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग के मुख्य आतिथ्य में किया जाएगा। इस मौके पर केन्द्र के संचालक राहुल सिंह की अध्यक्षता में होने वाले भव्य समारोह के दौरान जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों और खेल के कोचों की मौजूदगी में 12 से अधिक प्रतियोगिता में शामिल 500 से अधिक प्रतिभागियों को मैडल के साथ प्रमाण-पत्रों से पुरस्कृत किया जाएगा। आगामी 16 सितंबर को होने वाले संकल्प खेल महोत्सव के समापन को लेकर केन्द्र के संचालक श्री सिंह और खेल प्रशिक्षक शैलेन्द्र सिंह चंदेल की मौजूदगी में मैदान का निरीक्षण किया गया। इस मौके पर केन्द्र के संचालक श्री सिंह ने बताया कि पिछले दो माह से केन्द्र के भव्य खेल परिसर सहित बीएसआई मैदान, चर्च मैदान आदि में केन्द्र के तत्वाधान में जारी एक दर्जन से अधिक प्रतियोगिताओं का आयोजन चलता रहा है।  इसके अलावा आगामी दिनों में खो-खो और कुश्ती की फाइनल प्रतियोगिता का आयोजन भी किया जाना है। कार्यक्रम की तैयारियां पूर्ण हो गई है, अब आगामी 16 सितंबर को प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग के मुख्य आतिथ्य में प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन करने वालों के साथ सभी प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को पुरस्कार वितरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पिछले दो माह से एक दर्जन से अधिक विभिन्न खेलों की प्रतियोगिता का आयोजन संकल्प नशा मुक्ति केन्द्र के तत्वाधान में किया गया था। जिसमें क्रिकेट, फुटबाल को शहर के चर्च मैदान और  बीएसआई मैदान में जिला फुटबाल एसोसिएशन एवं जिला क्रिकेट एसोसिएशन के सहयोग से अनेक मैचों का आयोजन किया गया था। इन प्रतियोगिता में फुटबाल और क्रिकेट की अनेक टीमों ने हिस्सा लिया था, इसके अलावा केन्द्र परिसर में बेडमिन्टन, टेबिल-टेनिस, कुश्ती, बाक्सिंग, पावर लिफ्टिंग, शतरंज आदि का आयोजन किया गया। इन प्रतियोगिता में 500 सौ से अधिक खिलाड़ियों ने भाग लेकर शानदार प्रदर्शन किया।


आज मनाया जाएगा हिन्दी दिवस

बुधवार को हिन्दी दिवस के मौके पर शहर के हिन्दी के शिक्षकों के अलावा साहित्य से जुड़े लोगों का शहर के सैकड़ा खेड़ी स्थित संकल्प नशा मुक्ति केन्द्र में श्रद्धा भक्ति सेवा समिति के तत्वाधान में शाम को चार बजे सम्मान किया जाएगा। इस मौके पर केन्द्र के संचालक राहुल सिंह की उपस्थित में आधा दर्जन से अधिक लोगों का सम्मान किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं: