बिहार : स्थानीय जनता से संवाद करते रहे - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 14 सितंबर 2022

बिहार : स्थानीय जनता से संवाद करते रहे

bihar-news
पटना . राज्य निर्वाचन आयुक्त के पद पर डॉ दीपक प्रसाद है.उन्होंने 27 जुलाई 2021 को योगदान दिये.नये निर्वाचन आयुक्त के आने के बाद 18 मार्च को पंचायत उप चुनाव संपन्न करा लिए हैं और अब नगर निकायों के चुनाव करा रहे हैं.राज्य निर्वाचन आयुक्त डॉ दीपक प्रसाद ने नगर निकाय के शंखनाद कर दिये हैं.इसके साथ ही चुनाव आचार संहिता लागू हो गया है.बिहार में नगर निकाय चुनाव दो चरणों में मतदान होंगे. 10 अक्टूबर और 20 अक्टूबर को मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. पहले चरण की मतगणना 12 अक्टूबर को होगी, जबकि दूसरे चरण की मतगणना 22 अक्टूबर को होगी.  प्रदेश के सभी 38 जिलों के सभी निकायों में होने वाले चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग की तरफ से नए वार्ड और आरक्षण रोस्टर की लिस्ट भी जारी कर दी गई है. बिहार निर्वाचन आयोग के द्वारा चुनाव के तारीखों का ऐलान करने के बाद चुनावी सरगर्मी तेज हो गई है.प्रथम चरण का नामांकन प्रक्रिया 10 सितंबर से जारी है, जो 19 सितंबर तक चलेगा . बिहार में नगर निकाय चुनाव की घोषणा हो गई है. दो चरणों में मतदान होंगे. 10 अक्टूबर और 20 अक्टूबर को मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. पहले चरण की मतगणना 12 अक्टूबर को होगी, जबकि दूसरे चरण की मतगणना 22 अक्टूबर को होगी. पहले चरण में 37 जिलों में चुनाव होगा. कुल 156 नगर पालिका के मतदाता पहले चरण में प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे. पहले चरण का नामांकन प्रक्रिया 37 जिलों के अनुमंडल कार्यालय में चल रहा है. पहले चरण का मतदान 10 अक्टूबर को होगा .बिहार निर्वाचन आयोग ने नॉमिनेशन फीस इसमें नॉमिनेशन के लिए नगर पंचायत में अनारक्षित (सामान्य) वर्ग के पार्षद को 400 रुपए, उप मुख्य पार्षद को 800 रुपए और मुख्य पार्षद को 800 रुपए देने होंगे. तो वहीं नगर परिषद में पार्षद का 1000, उप मुख्य पार्षद और मुख्य पार्षद का 2 हजार रुपए फीस तय किया गया है. जबकि नगर निगम में पार्षद का दो हजार, उप मुख्य पार्षद और मुख्य पार्षद का 4 हजार रुपए देने होंगे.   दूसरे चरण का मतदान 20 अक्टूबर को होगा. जबकि मतगणना 22 अक्टूबर को की जाएगी. 23 जिलों में दूसरे चरण में चुनाव होगा. दूसरे चरण में 23 जिले के 17 नगर निगम के लिए मतदान होगा. मुख्य पार्षद, उप मुख्य पार्षद, वार्ड का चुनाव होना है. पहले चरण के लिए 10 सितंबर से प्रत्याशी नामांकन करेंगे. वहीं, नाम वापसी के अंतिम तिथि 22 सितंबर से 24 सितंबर तक है. मतदान सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक होगा. दूसरे चरण का चुनाव 20 अक्टूबर को होगा, जिसके लिए नामांकन 16 सितंबर से 24 सितंबर तक चलेगा. जबकि, 27 से 29 सितंबर तक उम्मीदवार के नाम वापसी की अंतिम तिथि रखी गई है. नगर पालिका चुनाव में पहली बार तीन पदों पार्षद, उप मुख्य पार्षद और मुख्य पार्षद के पदों के चुनाव के लिए ईवीएम से वोटिंग होगी. चुनाव दो चरणों में कराए जाएंगे. निर्वाचन आयोग ने पटना सहित 19 नगर निगमों के साथ सभी 38 जिलों में क्षेत्र विस्तारित, उत्क्रमित और नवगठित शहरी निकायों के वार्ड पार्षदों सहित पुराने शहरी निकायों में मुख्य और उप मुख्य पार्षद का आरक्षण जारी कर दिया है. प्रथम चरण में होने वाले नगर निकाय चुनाव को लेकर दूसरे दिन सोमवार को दूसरे दिन भी एक भी नामांकन नहीं हुआ. सुगौली नगर पंचायत चुनाव को लेकर दूसरे दिन सोमवार को एक भी प्रत्याशी ने नामांकन नहीं किया.नामांकन 19 सितंबर तक चलेगा. सदर एसडीएम कार्यालय में नामांकन प्राप्त किया जा रहा गई. इसके आर ओ सदर एसडीएम सौरभ सुमन यादव बनाए गए हैं. चकिया नगर परिषद के सभापति, उप सभापति व वार्ड पार्षद के चुनाव के नामांकन प्रक्रिया के दूसरे दिन सोमवार को नामांकन शून्य रहा. प्रशासन ने नामांकन प्रक्रिया को शांतिपूर्ण संपन्न कराने को लेकर व्यापक तैयारी की है.एसडीओ सह निर्वाची पदाधिकारी शंभू शरण पाण्डेय ने बताया कि अनुमंडल कार्यालय रोड, अनुमंडल कार्यालय के मुख्य गेट व निर्वाची पदाधिकारी के कार्यालय के मुख्य गेट पर सुरक्षा को लेकर दंडाधिकारी व पुलिस पदाधिकारी तैनात किया गया है. नामांकन प्रक्रिया को सफल बनाने को लेकर सभापति पद के नामांकन के लिए 1, उपसभापति पद के नामांकन के लिए 1 व वार्ड पार्षद पद के नामांकन के लिए तीन काउंटर बनाया गया है.सभी काउंटर पर पदाधिकारी व कर्मी तैनात किया गया है. एसडीएम ने बताया कि नगर परिषद क्षेत्र के 25 वार्ड के वार्ड पार्षद, सभापति व उपसभापति के चुनाव को शांतिपूर्ण व भयमुक्त वातावरण में सम्पन्न कराने के लिए व्यापक तैयारी की गई है. पदाधिकारियों को आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से अनुपालन करने का निर्देश दिया गया. एसडीओ ने बताया कि नामांकन पत्र 10 से 19 सितंबर तक दाखिल किया जाएगा. 20 व 21 सितंबर को नामांकन पत्रों की संवीक्षा की जाएगी. 22 से 24 सितंबर तक अभ्यर्थी अपना नाम वापस ले सकेंगे. 25 सितंबर को अभ्यर्थियों को चुनाव चिन्ह आवंटित कर दिया जाएगा.पहले चरण के चुनाव के लिए नामांकन पत्र भरने का कार्य हो रहा है. पटना नगर परिषद फुलवारी शरीफ का नामांकन अनुमंडल कार्यालय सदर में किया जा रहा है. यहां सुबह से ही लोगों का आवागमन जारी है. आज मंगलवार को 13 वार्ड पार्षद उम्मीदवार ने नामांकन किया है.वहीं दूसरी तरफ, नगर परिषद मसौढ़ी के नामांकन के तीसरे दिन एक उम्मीदवार ने अपना नामांकन पत्र दाखिल किया है. वहीं नगर पंचायत पुनपुन में भी एक उम्मीदवार ने आज अपना नामांकन पर्चा दाखिल करवाया है. नामांकन के तीसरे दिन अभी तक महज दो ही उम्मीदवारों ने अपना नामांकन कराया है. अब तक कुल 59 उम्मीदवार अपना नामांकन पर्चा के लिए रसीद कटवा चुके हैं. दूसरे चरण का चुनाव 20 अक्टूबर को होगा, जिसके लिए नामांकन 16 सितंबर से 24 सितंबर तक चलेगा. जबकि, 27 से 29 सितंबर तक उम्मीदवार के नाम वापसी की अंतिम तिथि रखी गई है.इसके आलोक में मेयर प्रत्याशी,डिप्टी मेयर प्रत्याशी,वार्ड पार्षद प्रत्याशी और उनके प्रतिनिधि प्रजातंत्र के राजाओं यानी मतदाताओं के पास जाकर मनभावन बातों से रिझाने लगे हैं.इस बार निवर्तमान डिप्टी मेयर सह वार्ड पार्षद (22 सी) श्रीमती रजनी देवी मेयर प्रत्याशी हैं.उनके समर्थन में पटना नगर निगम के प्रतिनिधि समाजसेवी पप्पू राय जी वार्ड 22 ए में मेयर प्रत्याशी रजनी देवी के लिए मतदान करने के लिए स्थानीय जनता  से  संवाद  करते रहे. समाजसेवी पप्पू राय लोकल प्रतिनिधि को समर्थन करने पर बल दिए.उनका कहना है कि दीघा में लोकल प्रतिनिधि के तौर पर सांसद,विधायक और मेयर नहीं हैं.सभी दूर से दूर रहते हैं.किसी तरह का कार्य करवाने में समय और धन बर्बाद होता है.इस बार मौका है कि लोकल मेयर को प्रतिनिधि बनाने का.उन्होंने कहा कि वार्ड सी के सुधि मतदाता दूसरी बार रजनी देवी जी को विजयी माला पहनाने को बेताब है.आपलोगों यानी वार्ड ए के मतदाताओं का भी कर्तव्य है कि मेयर प्रत्याशी रजनी देवी जी को समर्थन करके विजयी बना दें.

कोई टिप्पणी नहीं: