अनंतनाग मुठभेड़ में हिजबुल के दो आतंकवादी ढेर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 6 सितंबर 2022

अनंतनाग मुठभेड़ में हिजबुल के दो आतंकवादी ढेर

two-hizbul-terrorists-killed-in-anantnag
श्रीनगर 06 सितंबर, जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में मंगलवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में प्रादेशिक सेना के एक जवान की हत्या में कथित रूप से शामिल हिजबुल के दो आतंकवादी मारे गये। एक पुलिस अधिकारी ने मारे गये दोनों आतंकवादियों की पहचान दानिश भट उर्फ ​​कोकब दुरी और बशारत नबी के रूप में की जो हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े थे। कहा जाता है कि अप्रैल 2021 में बिजबेहरा अनंतनाग के जबलीपोरा निवासी सिपाही मोहम्मद सलीम अखून की हत्या में शामिल थे। अधिकारी ने कहा कि पोशक्रीरी में मंगलवार को मुठभेड़ उस समय शुरू हुई जब सुरक्षा बलों ने घेराबंदी और तलाश अभियान चलाया। उन्होंने कहा,“जैसे ही सुरक्षा बल संदिग्ध स्थान के पास पहुंच रहे थे, छिपे हुए आतंकवादियों ने उन पर गोलीबारी की जिसके बाद दोनों ओर से गोलीबारी शुरू हो गई। मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए।” अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक विजय कुमार ने कहा,“दोनों नौ अप्रैल, 2021 को सलीम और 29 मई, 2021 को जबलीपोरा में दो नागरिकों की हत्या में शामिल थे।” प्रादेशिक सेना के 43 वर्षीय जवान सलीम अखून को उनके आवास पर गोली मार दी गई थी, जब वह नौ अप्रैल, 2021 को छुट्टी पर थे। उनकी हत्या के एक दिन बाद श्रीनगर स्थित रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि हमला लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों द्वारा किया गया था। सलीम को दो बार चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ कमेंडेशन कार्ड और एक नॉर्दन आर्मी कमांडर कमेंडेशन कार्ड से सम्मानित किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: