बिहार : अधिका‍री फंड की कमी का बहाना बनाते हैं : रामचंद्र प्रसाद - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शनिवार, 26 नवंबर 2022

बिहार : अधिका‍री फंड की कमी का बहाना बनाते हैं : रामचंद्र प्रसाद

Hayaghat-bjp-mla-ram-chandra-prasad
दरभंगा जिले के हायाघाट से विधायक हैं डॉ रामचंद्र प्रसाद। उन्‍होंने आजादी के बाद मै‍थिली कथा में राजनीतिक चेतना विषय पर पीएचडी किया है। 2006 से 2020 तक लगातार दरभंगा जिला परिषद के सदस्‍य रहे और जिप सदस्‍य रहते हुए विधायक बने। वे कहते हैं कि भाजपा में पंचायत स्‍तर से राजनीति शुरू की थी और राज्‍य परिषद सदस्‍य होते हुए विधान सभा तक पहुंचे हैं। वे कहते हैं कि पिछले दो वर्षों में क्षेत्र के कई मुद्दों को सदन में उठाया और सरकार ने उसके आलोक में कई योजनाओं को स्‍वीकृति भी प्रदान की। लेकिन जब कार्य शुरू होने का समय आया तो पार्टी विपक्ष में चली गयी। उनको आशंका है कि नयी सरकार उनके क्षेत्र की विकास योजनाओं को लटका सकती है। रामचंद्र प्रसाद कहते हैं कि विधान सभा सत्र के दौरान पार्टी की भूमिका बदल जाएगी। विपक्ष में जनता के मुद्दों को पूरजोर ढंग से उठाएंगे और उनके समाधान के लिए सरकार पर दबाव बनाएंगे। वे कहते हैं कि हायाघाट उनकी जन्‍मभूमि है और कर्मभूमि भी है। इसलिए क्षेत्र के विकास के लिए पूरी ईमानदारी से कोशिश करते हैं। उनकी शिकायत है कि मुख्‍यमंत्री सड़क योजना के तहत बनने वाली सड़कों के निर्माण के लिए विभाग के पास पैसे नहीं हैं। अधिका‍री फंड की कमी का बहाना बनाते हैं। वे कहते हैं कि अपने क्षेत्र के विकास के लिए लगातार प्रयासरत रहे हैं। क्षेत्र में उद्योग की नयी-नयी संभावनाओं की तलाश की दिशा में लगातार प्रयासरत हैं।






--- वीरेंद्र यादव न्‍यूज ----

कोई टिप्पणी नहीं: