कैच के नए कैम्पेन में अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 8 नवंबर 2022

कैच के नए कैम्पेन में अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर

Akshay-bhumi-in-catch
मुंबई : डीएस समूह के अंग, डीएस स्पाइसको द्वारा कैच सॉल्ट्स एंड स्पाइसेस के लिये लॉन्च किए गए एक नए कैम्पेन में बॉलीवुड के कलाकार अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर नजर आयेंगे। इस नए कैम्पेन में कैच की नई पोजीशनिंग “क्योंकि खाना सिर्फ खाना नहीं होता” पर जोर दिया गया है। इस कैम्पेन की परिकल्पना डेंट्सू क्रिएटिव ने की है और इसमें दिखाया गया है कि खाना कई सारी चीजों से मिलकर बनता है- उनमें यादें होती हैं, रिश्ते होते हैं, परंपराएं और मूल्य होते हैं। इस तरह यह कैम्पेन ब्रांड को उपभोक्ता की रोज की जिंदगी के और भी करीब लाने की कोशिश कर रहा है। इस नए कैम्पेन में अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर इसी अवधारणा को खूबसूरती से पेश करते हुए नजर आयेंगे। यह कैम्पेन आगे इस बात पर भी जोर देता है कि खाना यानी भोजन एक भाषा है, जिसका इस्तेमाल अलग-अलग भावनाओं का इजहार करने के लिये किया जाता है। अक्षय कुमार कहते हैं, “हम भारतीय सिर्फ खाने का मजा नहीं लेते, बल्कि उसे जीते हैं। मैं कैच सॉल्ट्स एंड स्पाइसेस और इसके नए कैम्पेन का हिस्सा बनकर बहुत खुश हूं। मेरे लिए खाने की भूमिका मेरे जीवन में प्रधान रही है। इस भावना को परदे पर निभाना मेरे लिए खुशी की बात है।” भूमि पेडनेकर ने कहा, “कैच सॉल्ट्स एंड स्पाइसेस अपने उत्‍पादों की बड़ी श्रृंखला के साथ एक घरेलू नाम बन चुका है। मेरा मानना है कि किसी के दिल तक पहुंचने का रास्ता, खाने से होकर जाता है। और इसलिए यह बात ‘क्योंकि खाना सिर्फ खाना नहीं होता’ की सोच को और भी मजबूत करती है।” डीएस स्पाइसको प्राइवेट लिमिटेड के बिजनेस हेड, श्री संदीप घोष ने कहा, “मसाले भारतीय भोजन की जान हैं। एक ब्रांड के तौर पर हम मसालों की अपनी रेंज के साथ ग्राहकों के किचन पर राज करना चाहते हैं। यह नया कैम्पेन खाने के साथ होने वाली ग्राहकों की बातचीत की अलग-अलग बारीकियों को सामने लेकर आएगा। मुझे अक्षय और भूमि का स्वागत करते हुए बेहद खुशी हो रही है, जिन्होंने अपनी परफॉर्मेंस से हमारे प्रस्‍ताव को और भी बेहतर बना दिया है।” यह फिल्म एक पति और पत्नी के बीच प्यारी-सी नोंकझोंक के साथ शुरू होती है, लेकिन बात तब बिगड़ जाती है जब पत्नी को पता चलता है कि रविवार को कुक छुट्टी पर रहेगा। एक केयरिंग हसबैंड के रूप में अक्षय कुमार अपनी पत्नी भूमि पेडनेकर को खुश करने के लिये उस दिन खाना पकाते हैं। यह फिल्म इस विचार के साथ खत्म होती है “क्योंकि खाना सिर्फ खाना नहीं होता, कभी नोंक झोंक, कभी प्यार भी होता है”। जोकि इस बात को सामने लाता है कि कैसे अच्छा खाने से कुछ ऐसे पल सामने आते हैं जिन्हें जिंदगी भर संजोकर रखा जा सकता है। मल्टी-फिल्म कैम्पेन में यह पहली विज्ञापन फिल्म है और प्रत्येक टीवी विज्ञापन को इस कैम्पेन की मुख्य सोच के अनुसार ही बनाया गया है। कैच सॉल्ट्स एंड स्पाइसेस ने फिल्मों की श्रृंखला, पीओएस, ओओएच और डिजिटल के साथ एक संपूर्ण कैम्पेन चलाने की योजना बनाई है।

कोई टिप्पणी नहीं: