यशपाल-प्रतिभा शर्मा ने किया बॉलीवुड इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का आगाज़ - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 15 दिसंबर 2022

यशपाल-प्रतिभा शर्मा ने किया बॉलीवुड इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का आगाज़

Bolywood-international-film-festival
मुंबई : 2022 में अभिनेता यशपाल शर्मा ने उल्लेखनीय काम किया। बॉलीवुड नहीं, इस बार उनका करिश्माई कौशल हरियाणवी सिनेमा में देखने को मिला। सुपरहिट हरियाणवी फ़िल्म चंद्रावल के बाद हरियाणा के लोग हिट के लिए तरसते रहे। ऐसी फिल्म जो बॉक्स ऑफिस को गरमा दे, लेकिन टिकेट खिड़की ठंडी रही। यशपाल शर्मा ने ठान लिया कि हरियाणवी सिनेमा को अस्त नहीं होने देना है और वो लेकर आये अद्भत हरियाणवी फ़िल्म दादा लखमी, जिसने वैश्विक स्तर पर 68 से अधिक पुरस्कार जीते हैं। यशपाल ने अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभाई। अब वो एक नए रास्ते पर चलने को तैयार हैं जिसमें उनका साथ दे रही हैं प्रतिभा शर्मा। जी हां, बॉलीवुड इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (बीआईएफएफ) की संस्थापक-अध्यक्ष प्रतिभा शर्मा और अभिनेता-निर्देशक यशपाल शर्मा ने फिल्म समारोह को एक अलग दिशा में लेकर जाने और चुनिंदा फिल्में की सौगात चाहने वालों तक पहुचाने के लिए कमर कस ली है। हाल ही में हुए मीडिया मीट में उन्होंने कहा, "एक फिल्म समारोह को नैतिक और निष्पक्ष होने की जरूरत है और बॉलीवुड इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल वास्तव में यही करने का प्रयास करता है।"  बॉलीवुड अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव द्वारा प्राप्त 200 से अधिक प्रविष्टियों में से सर्वश्रेष्ठ का चयन अंतरराष्ट्रीय फिल्म निर्माताओं की एक प्रतिष्ठित टीम द्वारा किया गया। चुनी हुई फिल्मे 17-18 दिसंबर तक कार्निवल सिनेमा मुंबई में दर्शकों के लिए दिखाई जाएंगी फेस्टिवल में यशपाल शर्मा की हरियाणवी फिल्म दादा लखमी की एक विशेष स्क्रीनिंग भी दिखाई जाएगी। प्रतिष्ठित जूरी में अशोक राणे, अमित राय, संदीप शर्मा, फ्रांसीसी अभिनेत्री मरीन बोरबो और बांग्लादेश के तौकीर अहमद शामिल हैं। बीआईएफएफ के सदस्य मोनिका डावर, मिनाक्षी सिंह, दलबीर सिंह, समीर चौधरी, तबस्सुम जहां, अल्पना सुहासिनी, सुनील बैनीवाल, विशाल शर्मा, तपन पटानी, अनुषा श्रीनिवासन अय्यर के साथ मौजूद थे।   यशपाल कहते हैं कि हमारा उद्देश्य लोगों को गुणवत्तापूर्ण सिनेमा से परिचित कराना है, चाहे वह फीचर फिल्म, लघु फिल्म, मोबाइल फिल्म या एक वृत्तचित्र हो। यूएस, अफगानिस्तान, ईरान और कई यूरोपीय देशों की फिल्में इस फेस्टिवल का हिस्सा होंगी जो उद्योग के इच्छुक लोगों के लिए मास्टरक्लास का भी दावा करती है।

कोई टिप्पणी नहीं: