गर मैं सुधर गयी तो टीआरपी गिर जाएगी- किशोरी शहाणे विज - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 26 दिसंबर 2022

गर मैं सुधर गयी तो टीआरपी गिर जाएगी- किशोरी शहाणे विज

Shahane-vij
मुंबई : मराठी फिल्म इंडस्ट्री में किशोरी शहाणे विज का नाम खूब बड़ा है। किशोरी ने कुछ हिंदी फिल्मों व घारावाहिकों में भी काम किया है। अब किशोरी की लोकप्रियता में चार चांद लग गये हैं और इसका श्रेय जाता है धारावाहिक "गुम है किसी के प्यार में" को। पिछले दो सालों से इसका प्रसारण स्टार प्लस चैनल पर हो रहा है और इसने नंबर एक या दो की पोजिशन पर खुद को कायम रखा हुआ है। किशोरी शहाणे द्वारा इसमें घर की मुखिया भवानी देवी की भूमिका निभायी गयी है और धारावाहिक को लोकप्रिय बनाने में इस किरदार का बड़ा हाथ रहा है। इस भूमिका के बारे में किशोरी कहती है, "मेरे कैरियर में एक समय वह आ गया था जब मुझे रटी रटायी भूमिकाएं ऑफर हो रही थी और कैरियर में ठहराव सा आ गया था। मैं खुद भी इस तरह की भूमिकाओं से बोर होने लगी थी। लोक डाउन के दौरान जब खाली बैठी थी तो सोचने लगी कि कैरियर में बदलाव लाने का यही सही समय है। इस बदलाव की शुरुआत कैसे होगी इस बारे में सोच रही थी कि मुझे इस धारावाहिक की ऑफर मिली। पहले मैं पशोपेश में भी थी कि क्या मैं भवानी देवी के किरदार संग न्याय कर पाउंगी क्योंकि यह किरदार ग्रे शेड्स लिये है। फिर ख्याल आया कि टीवी के कई ग्रे शेड्स वाले किरदार भी खूब लोकप्रिय हुये हैं। तो मैंने इस किरदार के लिये हां कह दी। इस किरदार के लिये मैंने न तो तो भारी मेकअप का इस्तेमाल किया है न ही बड़ी बिंदी लगायी है। बस, अपनी आंखों से अभिनय किया है। यहाँ भवानी देवी अपनी हर बात अपनी आँखों से कह जाती है और दर्शकों को यह अंदाज खूब पसंद आ गया है। इस किरदार की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से भी मिलता है कि हाल ही में मुझे बहुप्रतिष्ठित एवार्ड आयटीए (इंडियन टेलिविजन एकेडमी) से भी नवाजा गया। स्वयं चैनलवालों के मुताबिक भवानी देवी का किरदार इस सीरियल की जान है।'" अब आलम यह है कि किशोरी जहां कहीं जाती है तो लोग उन्हें घेर लेते हैं और अमूमन एक ही सवाल पूछते हैं कि आप क्यों दूसरों को तंग करती रहती हो? लोगों की ऐसी प्रतिक्रिया को किशोरी अपने किरदार की जीत मानती है। कहानी में मोड़ लाने के लिये कई बार किरदार में बदलाव लाते भी देखा गया है, तो आगे चल भवानी देवी भी क्या अपने तीखे तेवर छोड़ नरम बन जाएगी? इस सवाल के जवाब में मीठी मुस्कान बिखेरते हुए किशोरी कहती है, "गर मैं सुधर गयी तो सीरियल की टीआरपी गिर जाएगी।" यानि भवानी देवी का तीखा अंदाज़  इस धारावाहिक में जारी रहने वाला है।

कोई टिप्पणी नहीं: