मधुबनी : संजय गांधी पॉलिटेक्निक संस्थान को अवैध अतिक्रमणकारियों से मुक्त कराने की मांग - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 12 जनवरी 2023

मधुबनी : संजय गांधी पॉलिटेक्निक संस्थान को अवैध अतिक्रमणकारियों से मुक्त कराने की मांग

Manoj-jha
मधुबन, मिथिला लोकतांत्रिक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज झा ने मुख्यमंत्री से अपने समाधान यात्रा के क्रम में जिला मुख्यालय के लहेरियागंज स्थित संजय गांधी पालिटेक्निक संस्थान को अवैध अतिक्रमणकारियों के चंगुल से मुक्त कराने की दिशा में पहल करने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि जिले के प्रख्यात चिकित्सक डॉ वी. सी. झा द्वारा स्थापित इस संस्थान की वर्तमान स्थिति चिंताजनक है। जिले भर के छात्रों को टेक्निकल इंजिनियरिंग की शिक्षा देने के उद्देश्य से खोला गया यह उत्कृष्ट पालिटेक्निक संस्थान उपद्रवी अतिक्रमणकारियों के कब्जे में है। छात्रों के सुंदर भविष्य को लेकर उनके द्वारा देखे गए सपने के साथ इससे ज्यादा हृदय विदारक और कुछ हो ही नहीं सकता।  विदित हो कि लहेरियागंज गंज में वर्ष 1980 के दशक में डॉक्टर विनोद चंद्र झा द्वारा संजय गांधी पॉलिटेक्निक संस्थान स्थापित किया गया। जिसमें उन्होंने अपने लागत से संस्था मद करीब 10 बीघा जमीन खरीद कर एक तकनीकी महाविद्यालय को अध्ययन अध्यापन के लिए भवन बनाकर इस हेतु प्रैक्टिकल हॉल, क्लासरूम, पुस्तकालय व कार्यालय समेत उपस्कर, कीमती मशीन व आवश्यक सामग्री इत्यादि की व्यवस्था सुनिश्चित कराए। लेकिन इसके निर्माण के कुछ सालों बाद से ही नामचीन भूमाफिया द्वारा इस परिसर को नेस्तनाबूद कर इस उत्कृष्ट संस्थान के करोड़ों की सम्पत्ति के नाम पर आम लोगों को भ्रम व धोखा में डाल कर लाखों रुपए की उगाही किया और संस्थान तथा समाज के स्वर्णिम भविष्य का गला घोंट डालने का काम किया गया। इस परिस्थिति में मिथिला लोकतांत्रिक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज झा ने संजय गाँधी पॉलिटेक्निक संस्थान के पुनरूत्थान एवं मधुबनी क्षेत्र में शिक्षार्थियों के भविष्य के हितार्थ इसके अवरुद्ध विकास को देखते हुए संस्थान के परिसर को अवैध अतिक्रमणकारियों के चंगुल से अतिशीघ्र मुक्त कराने करते हुए समाधान किए जाने मांग सीएम से की है।

कोई टिप्पणी नहीं: