बिहार : एमएसएमई दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन 5 जनवरी से - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 4 जनवरी 2023

बिहार : एमएसएमई दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन 5 जनवरी से

Msme-workshop-bihar
पटना,04 जनवरी, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय के एमएसएमई विकास कार्यालय पटना  द्वारा गया में 05 और 06 जनवरी 2023 को बिहार राज्य के उद्योग संघों, चैम्बर्स एवं गया जिले में कार्यरत एवं चिन्हित क्लस्टरों के सहयोग से खरीद और विपणन सहायता स्कीम पर एक कार्यशाला का आयोजन किया जायेगा। कार्यशाला का उदघाटन मुख्य अतिथि के रूप में मयंक वरवड़े आईएएस प्रमंडलीय आयुक्त, मगध प्रमंडल, द्वारा 05 जनवरी को किया जायेगा। जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता कार्यालय के निदेशक प्रदीप कुमार, आईईडीएस द्वारा किया जाएगा। कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य भारत सरकार के एमएसएमई मंत्रालय द्वारा एमएसएमई इकाईयों को नए बाजार सुविधा, नए बाजार श्रृजन,  बेहतर पैकेजिंग, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय बाजार में नवीनतम चलन, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी में भाग लेना, जेडईडी प्रमाणन, स्फूर्ति योजना, क्लस्टर विकास योजना, डिजिटल एड्वाटाजिंग, ई-मार्केटिंग, जेम पोर्टल, सार्वजनिक खरीद नीति  इत्यादि के बारे में वृहद रुप से जागरुक करना है। कार्यक्रम में विशिस्ट अतिथि के रूप मे मगध उद्योग संघ, गया के अध्यक्ष  अनूप केडीया, सेंट्रल बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष  कौशलेन्द्र प्रसाद  सिंह, लघु उद्योग भारती, पटना के अध्यक्ष रवीद्र प्रसाद सिंह, मानपुर हैंडलूम क्लस्टर, गया के अध्यक्ष प्रेम नारायण, जेम पटना के विशेषज्ञ मो॰ इम्तियाज़ अंसारी एवं अन्य एमएसएमई हितधारक कार्यक्रम मे सम्मलित होंगे । कार्यक्रम के प्रथम एवं द्वितीय दिवस में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय बाजार में नवीनतम चलन, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी में भाग लेना, जेडईडी प्रमाणन, स्फूर्ति योजना, क्लस्टर विकास योजना, डिजिटल एड्वाटाजिंग, ई-मार्केटिंग, जेम पोर्टल, सार्वजनिक खरीद नीति  इत्यादि विषयों पर प्रतिभागियों हेतु प्रस्तुतीकरण संबन्धित विशेषज्ञों द्वारा दी जाएगी एवं सेमिनार भी आयोजित की जाएगी ।

कोई टिप्पणी नहीं: