बिहार अगर देश होता तो दुनिया का छठवां सबसे गरीब देश होता - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 16 जनवरी 2023

बिहार अगर देश होता तो दुनिया का छठवां सबसे गरीब देश होता

  •  बिहार की बदहाली पर प्रशांत किशोर ने कहा

Bihar-woupd-be-pooarest-nation
जन सुराज पदयात्रा के दौरान गोपालगंज के उसरी पंचायत में आम सभा को संबोधित करते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि आज बिहार अगर देश होता तो दुनिया का छठवां सबसे गरीब देश में इसकी गिनती होती। मैं देख रहा हूं कि आज बिहार में इतनी गरीबी है की 100 लड़के पैदल दौड़ रहे हैं तो आधे लड़कों के शरीर पर कपड़े तक नहीं हैं, न ही पांव में पहनने के लिए चप्पल है। उन्होंने कहा कि मुझे आपका साथ नहीं चाहिए। जो अपने बच्चों के साथ खड़ा नहीं हो सकता वो प्रशांत किशोर के साथ क्या खड़ा होगा? मुझे आपसे कोई वोट न लेना है न चाहिए। मैं गांव-गांव जाकर हाथ जोड़ कर समझा रहा हूं कि जागिए, अपने नहीं तो अपने बच्चों के लिए जगिए, वरना जीवन भर आपके बच्चे मजदूर बनकर घूमते फिरेंगे। अगर आपके बच्चें पढ़ ही नहीं रहे हैं और पिल्लू वाली खिचड़ी खा रहे हैं तो इससे आपका बेटा डॉक्टर या कलेक्टर कहां से बनेगा? कोई ऐसा घर नहीं है जिसके लड़के बिहार से बाहर मजदूरी न कर रहे हों।

कोई टिप्पणी नहीं: