मोतिहारी : नव चयनित सीएचओ का हुआ एकदिवसीय प्रशिक्षण - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 19 जनवरी 2023

मोतिहारी : नव चयनित सीएचओ का हुआ एकदिवसीय प्रशिक्षण

  • - 85 सीएचओ का दो बैच में हो रहा है प्रशिक्षण
  • - प्रशिक्षण प्राप्त कर हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर करेंगे दायित्वों का निर्वहन

New-cho-training-motihari
मोतिहारी, 19 जनवरी, जिले के नवनियुक्त 85 कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर का प्रशिक्षण मोतिहारी सदर अस्पताल स्थित जीएनएम प्रशिक्षण केंद्र के पास चल रहा है। इसमें हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर 12 तरह की स्वास्थ्य सेवाओं का विशेष लाभ देने के लिए व कार्यों को सुचारू रूप से निर्वहन के लिए उन्हें प्रशिक्षित किया जा रहा है। जिले के सिविल सर्जन डॉ अंजनी कुमार और एसीएमओ डॉ रंजीत राय ने बताया कि हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के कार्यो में सीएचओ की महत्वपूर्ण भूमिका है, अतः उनका प्रशिक्षित होना बेहद आवश्यक है। इसी के मद्देनजर गुरुवार को पहले बैच में 42 सीएचओ का प्रशिक्षण हुआ है। दूसरे बैच में 43 सीएचओ का प्रशिक्षण शुक्रवार को होना है। प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन जपाइगो एवं यूनिसेफ के प्रतिनिधि डॉ छाया मंडल तथा धर्मेंद्र कुमार द्वारा पीपीटी के माध्यम से किया गया। सीएस ने कहा कि किसी भी तरह की दिक्कत होने पर आप मुझसे सीधे संपर्क कर सकते हैं।


स्वास्थ्य सेवाओं का प्रशिक्षण है महत्वपूर्ण- 

जपाइगो की प्रतिनिधि डॉ छाया मंडल ने बताया कि स्वास्थ्य सेवाओं का प्रशिक्षण महत्वपूर्ण है। इसमें सभी सीएचओ को उनके कर्तव्यों और उनके द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में विस्तार से बताया गया। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान स्क्रीनिंग, बीमारियों का जल्दी पता लगाने, जटिलताओं की पहचान करना, गर्भावस्था और बच्चे के जन्म, नवजात और शिशु स्वास्थ्य, परिवार नियोजन, गर्भनिरोधक सेवाएं, राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों सहित संचारी गैर-संचारी रोगों की जांच, रोकथाम, नियंत्रण, आपातकालीन चिकित्सा सेवाएँ, मानसिक स्वास्थ्य रोगों की जांच और बुनियादी प्रबंधन पर प्रशिक्षण दिया जा रहा है।  प्रशिक्षण कार्यक्रम में सिविल सर्जन डॉ अंजनी कुमार, एसीएमओ डॉ रंजीत राय, जपाइगो की डॉ छाया मण्डल, यूनिसेफ के धर्मेंद्र कुमार व अन्य लोग उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: