मधुबनी : डीएम ने की साप्ताहिक समीक्षा बैठक, दिए कई निर्देश - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 23 जनवरी 2023

मधुबनी : डीएम ने की साप्ताहिक समीक्षा बैठक, दिए कई निर्देश

  • विभिन्न विभागों में मानवाधिकार, लोक शिकायत, न्यायालय में लंबित मामलों, सूचना के अधिकार आदि से सबंधित लंबित मामलों को एक सप्ताह के अंदर शून्य करने का दिया निर्देश।
  • "जनता के दरबार मे जिलाधिकारी कार्यक्रम" में प्राप्त आवेदनों के त्वरित निष्पादन को लेकर सघन मॉनिटरिंग हेतु एक विशेष  कोषांग बनाने का दिया निर्देश। निलाम पत्रवाद में तेजी से करवाई करने का दिया निर्देश। 

Madhubani-dm-weekly-meeting
मधुबनी, डीएम अरविन्द कुमार वर्मा ने समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में जिला स्तरीय सभी विभागों के वरीय पदाधिकारियों के साप्ताहिक समीक्षा बैठक कर कई निर्देश दिये। जिलाधिकारी द्वारा जिला नीलाम पत्र शाखा, जिला सामान्य शाखा, जिला लोकायुक्त कोषांग, जिला विधि शाखा, जिला आपदा प्रबंधन शाखा, जिला स्थापना शाखा, जिला लोक सूचना कोषांग से संबंधित विषयो पर बारी बारी समीक्षा की  साथ ही एमजेसी, सिडब्ल्यूजेसी, एलपीए, मानवाधिकार, सिपिग्राम आदि की लंबित मामलों की व्यापक समीक्षा की गई।माननीय उच्च न्यायालय में लंबित मामलों की समीक्षा के क्रम में जिला भूअर्जन, शिक्षा, आपूर्ति, कल्याण विभाग में ज्यादा लंबित मामले पाए गए। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि अगले सप्ताह तक सभी विभाग हर हाल में ससमय शपथ पत्र दाखिल करें। सामान्य शाखा में जिलाधिकारी ने मानवाधिकार एवं सेवांत लाभ के लंबित मामलों की समीक्षा की। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में निर्देश दिया की  सभी संबधित विभाग एक सप्ताह के अंदर सभी लंबित मामलों को शुन्य करें। जिलाधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों को संबोधित करते हुए स्पष्ट किया कि विभागवार लंबित मामलों के बारे में संबंधित प्रखंड को पत्राचार कर निश्चिंत न हो लें। बल्कि, अनुपालन सुनिश्चित करवाने के दृष्टिकोण से संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारियों अथवा अंचल अधिकारियों से दूरभाष पर भी फॉलो अप करते रहें। ताकि, ससमय अनुपालन सुनिश्चित किया जा सके। जनता के दरबार मे जिलाधिकारी कार्यक्रम में प्राप्त आवेदनों के त्वरित निष्पादन एवं सघन मॉनिटरिंग के लिए एक विशेष कोषांग बनाने का निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिया गया।  जनता उक्त बैठक में अपर समाहर्ता नरेश झा, नगर आयुक्त, अनिल चौधरी, विशेष कार्य पदाधिकारी, जिला गोपनीय शाखा, अमेत विक्रम बैनामी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, परिमल कुमार, जिला शिक्षा पदाधिकारी, दिनेश कुमार चौधरी, जिला परिवहन पदाधिकारी, शशि शेखरण, कार्यपालक अभियंता, विद्युत, मो. अरमान, निदेशक डीआरडीए, राजेश्वर प्रसाद, उत्पाद अधीक्षक, गणेश कुमार, सिविल सर्जन, ऋषिकांत पांडेय,  जिला योजना पदाधिकारी, विनोद कुमार सिंह सहित सभी वरीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: