बिहार : नीतीश कुमार की समाधान यात्रा का रोज हो रहा विरोध - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 16 जनवरी 2023

बिहार : नीतीश कुमार की समाधान यात्रा का रोज हो रहा विरोध

  • कहीं काला झंडा दिखाया जा रहा,कहीं चप्पल-जूता चल रहा : प्रशांत किशोर

People-oppose-nitish-pk
सिधवलिया, गोपालगंज, गोपालगंज के सिधवलिया प्रखंड स्थित जन सुराज पदयात्रा शिविर में मीडिया से संवाद के दौरान प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार की समाधान यात्रा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नीतीश जी पटना के मुख्यमंत्री कार्यालय पटना से निकल कर प्रशासनिक बैठक करते हैं फिर घर वापस चले जाते हैं, फिर दुबारा किसी और जिले में बैठक करते हैं। इसे आप यात्रा कैसे बोल सकते हैं? नीतीश कुमार जी इतने पढ़े-लिखे आदमी हैं और कहते रहते हैं की दुसरो को कुछ आता जाता भी नहीं है। आप देखिए मैं कितना बेवक़ूफ़ हूं, मुझे जिन समस्याओं को समझने में जिले भर में 50 दिन से भी ज्यादा चलना पड़ा, वहीं नीतीश कुमार ने पूरे पश्चिम चंपारण का समाधान सिर्फ 4 घंटे में ही कर दिया। पूर्वी चंपारण का समाधान उन्होंने 15 मिनट में रोड पर चलते-चलते कर दिया। मौजूदा समय में मैं गोपालगंज जिले में हूं और इस जिले में आए बिना उन्होंने यहाँ कि समस्याओं का समाधान कर दिया। आप देख रहे हैं की आज नीतीश कुमार जहां भी जा रहे हैं वहां पूरा तंत्र लगा हुआ है कि कोई अप्रिय घटना न घट जाए। कोई ऐसा दिन नहीं जा रहा है जहां किसी ने उन्हें काला झंडा न दिखाया हो, जूता-चप्पल न चलाया हो, किसी ने कुर्सी न फेंका हो या नारेबाजी न की हो। सभी को दिख रहा है कि नीतीश कुमार की यात्रा के प्रति लोगों के मन में कितने सम्मान की भावना है।

कोई टिप्पणी नहीं: