यात्रियों के किराए से अर्जित रेलवे की राजस्व आय में 71 प्रतिशत की बढ़ोतरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 2 जनवरी 2023

यात्रियों के किराए से अर्जित रेलवे की राजस्व आय में 71 प्रतिशत की बढ़ोतरी

  • रेलवे ने आरक्षित यात्री खंड में 46 प्रतिशत और अनारक्षित यात्री खंड में 381 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की

railway-fair-profit-increase
नई दिल्ली, अप्रैल से दिसंबर 2022 के दौरान प्रारंभिक आधार पर भारतीय रेलवे को यात्री किराए से कुल अनुमानित 48913 करोड़ रुपये की आय हुई है जो कि 71 प्रतिशत की बढ़ोतरी है, क्योंकि पिछले वर्ष इसी अवधि में उसने 28569 करोड़ रुपये अर्जित किए थे। आरक्षित यात्री खंड में, 1 अप्रैल से 31 दिसंबर 2022 की अवधि के दौरान बुक किए गए यात्रियों की कुल अनुमानित संख्या पिछले वर्ष की समान अवधि के दौरान 56.05 करोड़ की तुलना में 59.61 करोड़ रही है, जो कि 6 प्रतिशत की बढ़ोतरी है। 1 अप्रैल से 31 दिसंबर 2022 की अवधि के दौरान आरक्षित यात्री खंड से उत्पन्न राजस्व पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 26400 करोड़ रुपये की तुलना में 38483 करोड़ रुपये रहा है, जो कि 46 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्शाता है। अनारक्षित यात्री खंड में, 1 अप्रैल से 31 दिसंबर 2022 की अवधि के दौरान बुक किए गए यात्रियों की कुल अनुमानित संख्या पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 16968 लाख की तुलना में 40197 लाख है, जो 137 प्रतिशत की वृद्धि है। 1 अप्रैल से 31 दिसंबर 2022 की अवधि के दौरान अनारक्षित यात्री खंड से उत्पन्न राजस्व पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 2169 करोड़ रुपये की तुलना में 10430 करोड़ रुपये है जो कि 381 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्शाता है।

कोई टिप्पणी नहीं: