गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस समारोहों के लिए पास वितरण का डिजिटलीकरण - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 6 जनवरी 2023

गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस समारोहों के लिए पास वितरण का डिजिटलीकरण

  • रक्षा राज्य मंत्री ने अतिथियों के लिए ई-निमंत्रण भेजने और आम लोगों के लिए टिकटों की ऑनलाइन बिक्री का विस्तार करने को लेकर आमंत्रण प्रबंधन पोर्टल को शुरू किया

republic-day-ticket-digitaluzed
नई दिल्ली, रक्षा राज्य मंत्री श्री अजय भट्ट ने 6 जनवरी, 2023 को नई दिल्ली में एक ऑनलाइन आमंत्रण प्रबंधन पोर्टल (www.aamantran.mod.gov.in) को शुरू किया। इस पोर्टल की शुरुआत सरकार की ई-शासन पहल के तहत की गई है। इसका उद्देश्य अब से गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रमों को देखने के लिए गणमान्य व्यक्तियों/अतिथियों को ई-आमंत्रण देना और आम जनता के लिए टिकटों की ऑनलाइन बिक्री करना है। यह पोर्टल गणमान्य व्यक्तियों और उनके मेहमानों को ऑनलाइन पास जारी करने की सुविधा प्रदान करता है। इसके साथ ही आम जनता की भौगोलिक स्थिति की ध्यान रखे बिना उनके लिए ऑनलाइन टिकट खरीदने का प्रावधान भी करता है। यह आमंत्रण पोर्टल पूरी प्रक्रिया को उपयोगकर्ता और पर्यावरण के अनुकूल बनाएगा। साथ ही, सरकार और आम जनता के बीच की दूरी को भी समाप्त करेगा।


इसकी विस्तृत प्रक्रिया को निम्नलिखित लिंक के माध्यम से देखा जा सकता है:

इस अवसर पर श्री अजय भट्ट ने पोर्टल को 'डिजिटल इंडिया' पहल में एक और उपलब्धि बताया। इसके अलावा उन्होंने इसे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की ई-शासन मॉडल की अवधारणा की ओर एक कदम बताया, जो आसान, प्रभावी, सस्ती और पर्यावरण-अनुकूल शासन पर आधारित है। श्री भट्ट ने कहा कि सरकार हर नागरिक के जीवन को सुगम बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने आगे कहा कि 'डिजिटल इंडिया' व 'न्यूनतम सरकार, अधिकतम शासन' जैसी पहल सरकार और लोगों को एक साथ ला रही हैं। रक्षा राज्य मंत्री ने इस बात की सराहना की कि यह आमंत्रण पोर्टल लोगों के लिए गणतंत्र दिवस समारोह (आरडीसी) के लिए टिकट खरीदना आसान बना देगा और छपाई में उपयोग होने वाले कागज की बड़ी मात्रा की बचत करेगा। उन्होंने कहा कि यह पोर्टल आरडीसी को और अधिक सुरक्षित बनाएगा।


इस आमंत्रण पोर्टल में निम्नलिखित विशेषताएं हैं:

संवर्द्धित सुरक्षा के लिए क्यूआर कोड-आधारित प्रमाणीकरण, ईमेल/एसएमएस यानी डिजिटल माध्यम से पास/टिकट को भेजा जाना, टिकट को रद्द करने और हस्तांतरण करने की मनाही, मेहमानों से स्वीकृति लेने को लेकर पास के लिए आरएसवीपी का विकल्प, भविष्य की घटनाओं के बेहतर प्रबंधन को लेकर समारोह के बाद डेटा विश्लेषण, इस पोर्टल के माध्यम से ई-आमंत्रण देने के अलावा टिकटों की खरीद के लिए बूथ/काउंटर निम्नलिखित स्थानों पर स्थापित किए जाएंगे, जहां रक्षा मंत्रालय द्वारा ऑनलाइन टिकट की सुविधा प्रदान की जाएगी:

सेना भवन (गेट संख्या 2)

शास्त्री भवन (गेट संख्या 3)

जंतर मंतर (मुख्य द्वार के नजदीक)

प्रगति मैदान (गेट संख्या 1)

संसद भवन (स्वागत कार्यालय) – सांसदों के लिए विशेष काउंटर (18.01.2023 से शुरू किया जाएगा) इसके लिए सुबह 10:00 बजे से लेकर दोपहर 12:30 बजे तक और दोपहर बाद 2:00 बजे से शाम के 4:30 बजे तक समय निश्चित किया गया है। विस्तृत निर्देशों के लिए कृपया www.mod.gov.in, www.indianrdc.mod.gov.in पर जाएं।

कोई टिप्पणी नहीं: