महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा मजबूत करने के लिए हज़ारों नए पद सृजित !! - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 1 जून 2010

महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा मजबूत करने के लिए हज़ारों नए पद सृजित !!


राष्ट्रीय राजधानी के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, जामनगर की रिलायंस रिफाइनरी और बेंगलुरू के विप्रो परिसर में आतंकी हमलों की आशंका के मद्देनजर देश के महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा मजबूत करने के लिए सरकार ने केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल में लगभग 1100 नए पद सृजित किए हैं।

गृह मंत्री श्री पी चिदंबरम ने यहां संवाददाताओं को इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि इन 1090 नए पदों में से 879 इंदिरा गांधी हवाई अड्डे के लिए, 105 रिलायंस रिफाइनरी के लिए, 66 विप्रो के बेंगलुरू परिसर के लिए और 40 यहां स्थित इंदिरा गांधी स्मृति संग्राहलय के लिए सृजित किए गए हैं।

केन्द्रीय सुरक्षा एजेंसियों को ऐसी सूचनाएं मिली हैं कि उक्त चारों प्रतिष्ठानों सहित देश के चुनिंदा महत्वपूर्ण स्थल आतंकियों का निशाना बन सकते हैं। इस आशंका को देखते हुए ऐसे प्रतिष्ठानों की अचूक सुरक्षा व्यवस्था के लिए यह कदम उठाया गया है।
पाकिस्तानी सीमा के करीब होने के कारण रिलायंस रिफाइनरी के आतंकी हमले का आसान निशाना बनने की आशंका के चलते उसकी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई है। गृह मंत्रालय ने इसके आलावा नागरिक विमानन सुरक्षा ब्यूरो को निर्देश दिया है कि वह सभी हवाई अड्डों में सीसीटीवी कैमरे लगाना, उचित संख्या में सुरक्षा बल तैनात करना, परिसरों की दीवारों को ऊंचा करना और निगरानी टावरों को स्थापित करना सुनिश्चित करे।

अधिकतर हवाई अड्डों की निगरानी करने वाले सीआईएसएफ को ये निर्देश भी दिए गए हैं कि वह बम निरोधी दस्ते और खोजी कुत्तों की उपलब्धता भी अनिवार्य करे। श्री चिदंबरम ने अपने मासिक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि राष्ट्रमंडल खेलों की सुरक्षा के बारे में दिल्ली पुलिस और केन्द्रीय अर्ध सैनिक बलों से मिल कर समीक्षा की गई है। इन खेलों के संदर्भ में 23 से 30 मई तक हुई परीक्षण स्पर्धाओं के लिए सीपीएमएफ की छह कंपनियां तैनात की गई थीं।
 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...