महाछठ : दानवीरों ने हाथ खोलें - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 7 नवंबर 2013

महाछठ : दानवीरों ने हाथ खोलें

mahaparv chhath
पटना। चार दिवसीय महाछठ के अवसर पर दानवीरों ने हाथ खोलकर दान करने लगे हैं। दीघा स्थित बांसकोठी के सामने एक दानवीर ने व्रततियों के गेहूं की पिसाई कर रहे हैं। उन्होंने व्रततियों के ऊपर छोड़ दिया है कि अगर आप चाहे तो गेहंू पिसाई की कीमत दे सकते हैं। वहीं श्री श्री जन कल्याण विकास समिति के बाल मंडली क्लब, दीघा घाट की ओर से व्रततियों को पूजा के समान वितरण किया गया। करीब 300 व्रततियों को दिया गया। इसके अलावे अर्घ्यदान करने वाले समानों की कीमत बाजार में उछाल देखा गया। बावजूद, इसके श्रद्धालु पूजा की समान को खरीदारी करने में कसूंसी नहीं दिखा रहे हैं। 

mahaparv chhath
श्री श्री जन कल्याण विकास समिति के बाल मंडली क्लब, दीघा घाट की ओर से व्रततियों को पूजा के समान वितरण करने वालों में सुबोधी कुमार, सुबोध कुमार अकेला, सोनू कुमार, नवाब कुमार, अरबिन्द कुमार, मंचन कुमार, श्रीराम वचन राय आदि शामिल थे। इनलोगों के द्वारा छठ व्रततियों के बीच में सूप,गगरा नीबू,नारियल और ईख दिया गया। बुधवार को नहाय खाए के साथ चार दिवसीय महाछठ पर्व शुरू हुआ। आज गुरूवार को खरना है। पर्वव्रति दिनभर उपवास रखेंगी। शाम के समय खरना का प्रसाद ग्रहण करेंगी। इसके बाद उपवास शुरू कर देंगी। शुक्रवार को डूबते भगवान भास्कर को प्रथम अर्घ्यदान करेंगी और शनिवार को उगते भगवान दिवाकर को अर्घ्यदान देंगी। इसके साथ ही महाछठ पर्व के प्रसाद लोगों के बीच में वितरण करना शुरू हो जाएगा।



आलोक कुमार
बिहार 

कोई टिप्पणी नहीं: