बालू निकासी पर रोक से मजदूरों के सामने संकट, खनन विभाग द्वारा बालू निकासी कराये सरकार: माले - Live Aaryaavart

Breaking

रविवार, 13 अगस्त 2017

बालू निकासी पर रोक से मजदूरों के सामने संकट, खनन विभाग द्वारा बालू निकासी कराये सरकार: माले

stop-sand-mining-cpi-ml
पटना 13 अगस्त, माले राज्य सचिव कुणाल ने कहा है कि बालू निकासी पर लगी रोक की वजह से आज लाखों बालू व निर्माण मजदूरों के सामने गंभीर संकट उपस्थित हो गया है. उनमें कई परिवार भूखमरी के कगार पर पहुंच गये हैं. सरकार को इसपर तत्काल कार्रवाई करते हुए इस समस्या का समाधान ढूढना चाहिए.    उन्होंने कहा कि बालू उत्खनन में लूट व भ्रष्टाचार जगजाहिर है. नियमों की धज्जियों उड़ाकर बालू निकाला जाता है. लेकिन इसके लिए मुख्य रूप से सरकार ही जिम्मेवार है. उसने उत्खनन विभाग की बजाए बालू मिट्टी के भाव बालू निकालने का अधिकार ठेकेदारों को सौंप दिया. जहां ठेकेदार अपनी मनमर्जी करते हैं. जाहिर है कि लूट का पैसा राजनेताओं व प्रशासन के आलाअधिकारियों तक तक भी पहुंचता है. इस तरह एक मजबूत बालू का माफिया तंत्र काम कर रहा है. दिन में जेसीबी मशीन से बालू निकालने पर रोक है, ताकि मजदूरों को काम मिल सके. लेकिन अक्सर प्रशासनिक संरक्षण में ठेकेदार इस नियम की धज्जियां उड़ाते रहे हैं और सरकार तमाशा देखते रही है. जिसकी वजह से बालू पर निर्भर मजदूर परिवारों के सामनेे स्थायी रूप से रोजगार का संकट हो गया है.  माले राज्य सचिव ने कहा कि सरकार को राजनेता-प्रशासन व बालू माफिया के तंत्र पर प्रहार करना चाहिए और बालू उत्खनन में ठेकेदारी व्यवस्था को पूरी तरह खत्म कर देना चाहिए. उन्होंने मांग की है कि पहले की तरह उत्खन्न विभाग को बालू निकालने का जिम्मा दिया जाए और नियम-कानून के दायरे में बालू उत्खनन का कार्य आरंभ करने की गारंटी की जाए.

एक टिप्पणी भेजें
Loading...