युवा सावधानी से अपने प्रतिनिधि का चयन करें : राष्ट्रपति - Live Aaryaavart

Breaking

गुरुवार, 25 जनवरी 2018

युवा सावधानी से अपने प्रतिनिधि का चयन करें : राष्ट्रपति

select-carefully-ure-repersantative-president
नयी दिल्ली जनवरी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आज देश में लोकतंत्र की कामयाबी के लिए युवाओं से अपने प्रतिनिधियों का चुनाव पूरी सावधानी, सूझबूझ और परख के साथ करने की अपील करते हुए कहा कि बुज़ुर्ग मतदाताओं को इस काम में युवाओं का मार्गदर्शन करना चाहिए। कोविंद ने 8वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर कहा कि भारतीय लोकतंत्र की स्थिरता का श्रेय मतदाता को जाता है और मतदाताओं को मतदान के ज़रिए ज़िम्मेदार सरकार का चयन कर लोकतंत्र को मजबूत बनाने का अधिकार संविधान ने दिया है। उन्होंने युवा वर्ग से अपील की कि “ प्रतिनिधियों का चुनाव सावधानी से करें और बुजुर्ग अपने अनुभव से उनका मार्गदर्शन करें।” समारोह में छह देशों की निर्वाचन संस्थाओं के प्रतिनिधि भी मौजूद थे। राष्ट्रपति ने पहली बार मतदान का अधिकार पाने वाले युवा मतदाताओं को मतदाता पहचान पत्र वितरित कर सजग मतदाता बनने के लिए प्रोत्साहित किया। इस मौक़े पर राष्ट्रपति ने विभिन्न राज्यों में सफलतापूर्वक चुनाव सम्पन्न कराने में उत्कृष्ट भूमिका निभाने और नए विचार तथा तकनीक अपनाने के लिए राज्यों के चुनाव अधिकारियों को उत्कृष्टता पुरस्कारों से नवाजा। इस दौरान उन्होंने मतदाता जागरुता अभियान में सराहनीय योगदान के लिए मीडिया संगठनों को भी सम्मानित किया।

इस अवसर पर क़ानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, मुख्य चुनाव आयुक्त ओ पी रावत, चुनाव आयुक्त सुनील अरोरा और अशोक लवासा के अलावा पूर्व चुनाव आयुक्त नसीम जैदी और ए के जोती तथा विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि मौजूद थे। राष्ट्रपति ने देश में निर्वाचन प्रक्रिया को निष्पक्ष और विश्वसनीय बनाने के लिए बीते सात दशक में चुनाव आयोग के प्रयासों की विकास यात्रा पर आधारित आयोग की पत्रिका “वॉइस इंडिया” का विमोचन किया। कोविंद ने चुनाव आयोग से मतदाताओं को जोड़ने के लिए अत्याधुनिक तकनीक सहित सभी संसाधनों का हरसंभव इस्तेमाल करने को कहा। वहीं क़ानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने देश मे लोकसभा और राज्यों की विधानसभा के चुनाव एक साथ कराने की पुरज़ोर वकालत की। प्रसाद ने देश में साल भर चलने वाले चुनावों से संसाधनों की बर्बादी और विकास कार्यों के बाधित होने की समस्या से देश को बचाने के लिए इस दिशा में गम्भीर पहल करने की ज़रूरत पर बल दिया।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...