सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 08 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

गुरुवार, 8 फ़रवरी 2018

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 08 फ़रवरी

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन आज, साढे़ 5 लाख बच्चों किशोरों को खिलाई जाएगी कृमिनाशक दवा

sehore map
सीहोर 08 फरवरी 2018, राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस पर 9 जनवरी को जिले के समस्त निजी विद्यालय संगठन,केन्द्रीय विद्यालय शासकीय/अशासकीय चिकित्सालयों मदरसों, आंगनबाडी केन्द्रों में करीब 5 लाख 60 हजार 639 बच्चों किशोर/किशोरियों का कृमि नाशन गोली एल्बेंडाजाॅल खिलाई जाएगी। कार्यक्रम के व्यापक क्रियान्वयन हेतु जिला शिक्षा अधिकारी, आदिम जाति कल्याण अधिकारी, महिला एवं बाल विकास अधिकारी को कलेक्टर श्री तरूण कुमार पिथोडे द्वारा जरूरी दिशा निर्देश जारी कर दिए गए है। गौरतलब है कि 1 से 19 वर्षीय बच्चों में कृमि संक्रमण की रोकथाम एक साक्ष्य आधारित रणनीति है जिसके तहत 1 गोली मात्र को चबाकर सेवन करने से बच्चों को कृमिमुक्त कर सकते हैं।  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.डीआर अहिरवार ने बताया कि 9 फरवरी को स्कूल समय में प्रायमरी, माध्यमिक तथा उच्चतर माध्यमिक शालाओं में यह आयोजन किया जाएगा। डाॅ. अहिरवार ने बताया कि जिले में करीब 5 लाख 60 हजार 639 बच्चों किशोर/किशोरियों का एल्बेंडाजाॅल की गोली खिलाई जाएगी जिसमें आष्टा से 1 लाख 62 हजार 812 बच्चे, बुदनी 58 हजार 842, इछावर 67 हजार 819, नसरूल्लागंज 92 हजार 143 तथा सीहोर में 1 लाख 79 हजार 3 बच्चों तथा किशोरों को एल्बेंडाजाॅल गोली खिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.टी.आर.उइके ने बताया कि कृमिनाशन से बच्चांे की अनुपस्थिति में 25 प्रतिशत कमी आती है एवं उनकी पढाई में एकाग्रता भी बढ़ती है। कृमिनाशन से संपूर्ण स्वास्थ्य पोषण स्तर, एनीमिया की रोकथाम बौद्धिक विकास तथा शालाओं में उपस्थिति में सुधार देखा गया है इस संबंध में और अधिक जानकारी देते हुए जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ.एम.के.चंदेल ने बताया कि 1 से 2 वर्षीय बच्चों को एल्बेंडाजाॅल की आधी गोली (200 मि.ग्रा.) तथा 2 से 19 वर्षीय बच्चों को एल्बेंडाजाॅल की 1 गोली (400 मि.ग्रा.) का सेवन शिक्षक/आंगनबाडी की उपस्थिति में कराया जाएगा। सीएमएचओ डाॅ अहिरवार ने बताया कि कृमि संक्रामक की अधिकता से चक्कर आना, जी मचलना, सरदर्द, उल्टी, दस्त, थकान जैसा अनुभव होने की संभावना हो सकती है। गंभीर प्रतिकूल लक्षण होने पर जननी एक्सप्रेस 108 वाहन की व्यवस्था  किए जाने के निर्देश समस्त बीएमओ तथा सिविल सर्जन को दिए गए है। 
एक टिप्पणी भेजें
Loading...