बिहार : समीना खातून ने कहा- मैं खुद घर से भागी थी, रंधीर तो निर्दोष है - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 25 अप्रैल 2018

बिहार : समीना खातून ने कहा- मैं खुद घर से भागी थी, रंधीर तो निर्दोष है

samina-flew-home-raandhir-innocent
सुपौल।  जीआरपी ने दरभंगा रेलवे स्टेशन से एक महिला को दो साल के बेटा के साथ बरामद किया। जब जीआरपी ने युवती से पूछताछ की तो युवती ने एक बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि उसका नाम समीना खातून है।समीना ने बताया कि वह सुपौल जिला के नरपतपट्टी गांव के मो. ताहिर की पुत्री है। जिसके अपहरण की शिकायत रतनपुरा थाना में उनके पिता ने दर्ज करवाया है। अपहरण का आरोप गांव के ही एक पहचान के युवक रंधीर राय पर लगाया है। समीना ने बताया कि उसकी शादी तीन वर्ष पूर्व हुई, लेकिन पति ने उसे छोड़ दिया। जिसके बाद वह अपने मायके आकर अपने माता-पिता के साथ रहने लगी। समीना का कहना है कि उसके मायके वाले हमेशा मारपीट के साथ तरह-तरह के प्रताड़ना करने लगे। उसी क्रम में 10 अप्रैल को फिर से मारपीट करते हुए घर से बाहर निकाल दिया। उसने कहा कि मैं भी रोज-रोज के इस के तरह प्रताड़ना से तंग होकर घर से निकली थी कि रास्ते में मुझे रंधीर मिल गया। मुझे रोता देख, उसने मुझे रोककर सारी बातों की जानकारी ली और मुझे काफी समझाकर घर वापस लौट जाने की बात कहने लगा। काफी देर समझाने के बाद रंधीर, मुझे मेरे घर पर ले जाकर मेरे पिता से कहा कि समीना के साथ आपलोग मारपीट नहीं करे। 

इसपर हमारे मायके वालों के साथ उसकी बहस भी हो गयी और हमारे मायके वाले अंजाम बुरा होने की बात कहकर उसे जाने को कह दिया। जिसके बाद हमारे मायके वाले ने फिर से गाली-गलौज करते हुए मुझे घर से बाहर निकाल दिया। इसके बाद मैं 10 तारीख को ही घर से निकल गई और ये प्रण कर ली की जैसे भी हो मैं जी लुंगी, लेकिन घर लौटकर वापस नहीं जाउंगी और दरभंगा होते हुए मैं मुजफ्फरपुर चली गई। लेकिन जब मैंने आज अपनी चाची से मोबाइल पर बात की तो पता चला कि मेरे अपहरण का केश मेरे पिता ने रंधीर पर कर दिया है। जिसके बाद मैं घर लौट रही थी और पुलिस ने मुझे पकड़ लिया। मेरा अपहरण नहीं हुआ है मैं खुद से प्रताड़ित होकर घर से निकली थी। इधर दरभंगा जीआरपी के सूचना पर देर रात सुपौल जिला की पुलिस पहुंची और समीना को अपने साथ सुपौल ले कर चली गई।  वहीं सुपौल पुलिस के अधिकारी ने बताया कि इसके अपहरण का मामला इसके पिता के द्वारा 15 अप्रैल को दर्ज करवाया गया था। जिस पर अपहरण का आरोप लगाया था वह लड़का भाजपा के सुपौल जिलाध्यक्ष राम कुमार राय का भतीजा रंधीर राय है।
एक टिप्पणी भेजें