सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 05 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

गुरुवार, 5 अप्रैल 2018

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 05 अप्रैल

आदिवासी संस्कृति के संरक्षण एवं संवर्धन को संकल्पित है सरकार - मुख्यमंत्री
  • आदिवासी सम्मेलन में श्री शिवराज सिंह चौहान

sehore-news-05-april
मुख्यमंत्री मंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सीहोर जिले के सालारोड गांव में आयोजित आदिवासी सम्मेलन में सीहोर तथा आस-पास के जिलों से आये आदिवासियों से चर्चा करते हुये कहा कि वे सरकार द्वारा आदिवासियों के भले के लिये चलाई जा रही योजनाओं का लाभ अवश्य लें। समाज में चर्चा कर नई योजनाओं की जानकारी ले। उन्होंने कहा कि ढाई एकड़ तक की जमीन के छोटे किसानों को वे सभी सुविधायें प्राप्त होगी, जो असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिको को मिलती है। श्री चौहान ने कहा कि आदिवासी समाज के सभी युवा स्वरोजगार के लिये चलाई जा रही योजनाओं का लाभ लें। बैंकों से लोन लेने पर उसकी गारंटी सरकार देगी। उन्होने कहा कि आदिवासी बच्चों में प्रतिभा की कमी नही है। यदि उन्हें थोडी सुविधाऐं मिल जाय तो वे चमत्कार कर सकते है। मेंधावी छात्र योजना का उल्लेख करते हुय श्री चौहान ने कहा कि सभी प्रतिभावान बच्चों को उच्च शिक्षा का लाभ देने के लिये यह योजना बनाई गयी है। बच्चों फीस की चिन्ता छोड पढाई-लिखाई में मन लगायें, फीस सरकार भरेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस साल से तेन्दूपत्ता तुडाई की दर बारह सौ से बढाकर दो हजार रूपयें कर दी गयी है। साथ तेन्दूपत्ता तुडाई से जुडे श्रमिकों को चरण पादुकाऐं और पानी की बोतल दी जायेगी। महिला श्रमिकों को साडी भी देने के निर्देश दिये गये है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गौंडी बोली को तीसरी भाषा का दर्जा दिलाने का प्रस्ताव केन्द्र शासन को भेजा जायेगा। रानी कमलावती की विशाल प्रतिमा भोपाल में स्थापित की जायेगी। गिन्नोरगढ़ के किले में स्थापित की जायेगी। गिन्नौरगढ़ के किले में स्थित मंदिर पूजा हेतु आने-जाने वाले आदिवासी भाई सहजतापूर्वक आ जा सकें, इसके लिये वन विभाग के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये जायेंगे। श्री चौहान ने कहा प्रदेश में आदिवासियों के पूज्य बड़ा महादेव के पूजा स्थलों को विकसित किया जायेगा। इस अवसर पर प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री कु. विजय शाह ने शासन द्वारा आदिवासी कल्याण के लिये चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। सालारोड में बड़ादेव की आरती कर मंगल कामना की।  मुख्यमंत्री नसरुल्लागंज तहसील के ग्राम आम्बाकदीम पहुंचे और सात दिवसीय सद्गुरु कबीर पुराण एवं ज्ञानयज्ञ के समापन मे शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने आम्बाकदीम तथा वासुदेव मे आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सद्गुरु कबीर का समत्व दर्शन सदैव प्रासंगिक रहेगा। उन्होंने कहा कि असंगठित श्रमिक पंजीयन मे कोई भी पात्र व्यक्ति वंचित नहीं रहने दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने इसमे प्राप्त होने वाले लाभ पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए कहा कि गतवर्ष न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूँ विक्रय करने वाले कृषकों के खातों मे 10अप्रैल को 200 रूपये तथा इस वर्ष गेहूँ विक्रय करने वाले पंजीकृत कृषकों के खातों मे 10जून को 265 रूपये डाले जाएंगे। चना 4400 रुपये प्रति क्विंटल के समर्थन मूल्य पर खरीदी के पश्चात सौ रुपये मामा मूल्य भी कृषकों के खातों मे डाला जाएगा। उन्होंने बताया की शीघ्र ही एक लाख शासकीय पदों पर भर्ती की जा रही है इनमें  शिक्षक पद पर पचास प्रतिशत महिलाओं के लिए आरक्षित रहेंगे। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा पात्र विद्यार्थियों को निःशुल्क सायकल वितरण तथा असंगठित श्रमिकों के पंजीयन हेतु शिविर का आयोजन भी किया गया। वासुदेव में श्री रामानंद आश्रम पहुंच कर यज्ञ के समापन मे पूजा कर प्रदेशवासियों की उन्नति एवं कल्याण की मंगल कामना की। उन्होंने हितग्राही सम्मेलन तथा नशामुक्ति कार्यक्रम मे शिरकत की। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा मंत्री कुँवर विजय शाह, अपेक्स बैंक प्रशासक श्री रमाकांत भार्गव, वन विकास निगमाध्यक्ष    श्री गुरूप्रसाद शर्मा, मध्यप्रदेश वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन के अध्‍यक्ष   श्री राजेंद्र सिंह राजपूत, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा, खातेगांव विधायक श्री आशीष शर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि भोपाल संभागायुक्त श्री अजातशत्रु श्रीवास्तव, कलेक्टर श्री तरुण कुमार पिथोडे, डीआईजी श्री के.बी.शर्मा, एसपी श्री सिद्धार्थ बहुगुणा सहित अन्य शासकीय सेवक तथा बडी संख्या मे जनता उपस्थित थे।

नेशनल लोक अदालत में प्रकरणों का निराकण कराने हेतु निर्देश जारी 

कलेक्टर श्री तरूण कुमार पिथोडे द्वारा जिले के समस्त कार्यालय प्रमुखों को निर्देशित किया गया है कि वे 14 अप्रैल,2018 को आयोजित नेशलन लोक अदालत में जिला न्यायालयों / तालुक न्यायालय, श्रम न्यायालयों, कुटुम्ब न्यायालयों में अधिक से अधिक संख्या में लंबित प्रकरणों का निराकरण कराया जाना सुनिश्चित करे तथा की गई कार्यवाही उपरांत जिला कार्यालय को अवगत करावें। 

पी.सी.व्ही. वैक्सीन की जिला स्तरीय मीडिया कार्यशाला संपन्न

पी.सी.व्‍ही. वैक्‍सीन की जिला स्‍तरीय मीडिया कार्यशाला 5 अप्रैल को ट्रामा सेंटर जिला चिकित्‍सालय सीहोर में संपन्न हुई। कार्यशाला में डॉ. टी.आर.उइके. जिला स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी सीहोर, डॉ. एम.के. चंदेल जिला टीकाकरण अधिकारी सीहोर, श्रीमती उषा अवस्‍थी जिला मीडिया अधिकारी सीहोर एवं श्री मनीष राठौर जिला आर.आई. डाटा मैनेजर सीहोर उपस्थित थे।  कार्यशाला में समस्‍त पत्रकारों को पी.सी.व्‍ही. के संबंध में विस्‍तृत रूप से अवगत करते हुए बताया कि न्‍यूमोनिया एवं डायरिया 5 साल से छोटे बच्‍चों में मृत्‍यु के प्रमुख कारण हैं। न्‍यूमोकोकस बैक्‍टीरिया न्‍यूमोनिया का एक मुख्‍य कारण है। यह स्‍वस्‍थ लोगों के नाक और गले में बिना कोई बीमारी किए हुए भी पाया जाता है। यह शरीर के अन्‍य हिस्‍सों में भी फैल सकता है और कई बीमारियों जैसे – न्‍यूमोनिया, खून का इंफेक्‍शन बुखार, कान का इन्‍फेक्‍शन, आदि करता है।  न्‍यूमोकोकल बीमारी एक व्‍यक्ति से दूसरे व्‍यक्ति को खांसने और छींकरने से फैलती है। यह बैक्‍टीरिया 5 साल से छोटे बच्‍चों को, खासकर 2 साल से छोटे बच्‍चों को, कम प्रतिरोधक क्षमता वाले बच्‍चों को एवं वृध्द लोगों को बीमार कर सकता है। पी.सी.व्ही. वैक्‍सीन न्‍यूमोकस बैक्‍टीरिया से होने वाले न्‍यूमोनिया एवं अन्‍य बीमारियों से बचाव का सबसे कारगर तरीका है। इस वैक्‍सीन के इस्‍तेमाल से बच्‍चों में न्‍यूमोनिया बीमारी और बाल मृत्‍युदर में काफी कमी आएगी। पी.सी.व्ही.महंगी वैक्‍सीन है, जो अभी तक केवल प्राइवेट डॉक्‍टरों के पास ही उपलब्‍ध थी। प्राइवेट में पी.सी.व्ही.की एक डोज की कीमत लगभग तीन से चार हजार रूपए हैं। भारत सरकार अब उसे नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत मुफ्त में उपलब्‍ध करा रही है।  पी.सी.व्ही. वैक्‍सीन को शुभारंभ जिले में 7 अप्रैल, 2018 से किया जावेगा।

विद्यालय में खुली कानून की पाठशाला’’

राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली सम्पूर्ण देश में व्यापक साक्षरता अभियान की शुरूआत करने जा रहा है जिस हेतु विधिक साक्षरता क्लब स्थापित किये जा रहे हैं। इसी तारतम्य में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर द्वारा आज महारानी लक्ष्मी बाई शासकीय उच्चतर कन्या विद्यालय सीहोर में विधिक साक्षरता क्लब का फीता काटकर शुभारंभ माननीय श्री ऋषभ कुमार सिंघई जिला एवं सत्र न्यायाधीष जिला न्यायालय सीहोर द्वारा किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर द्वारा उक्त क्लब में एक अलमीरा, एक कम्प्यूटर टेबिल, दो कुर्सियां, एक कम्प्यूटर, यू.पी.एस., कानूनी संबंधित किताबें वितरित की गई। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा कानूनी जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से विद्यालय  में लीगल लिटरेसी क्लब खोला गया है। उक्त क्लब में विधिक जागरूकता संबंधी विषयों जैसेः- बाल विवाह , महिलाओं के अधिकार , बच्चों के अधिकार, पर्यावरण, शिक्षा का अधिकार आदि विषयों पर लीगल लिटरेसी क्लब के सदस्यों द्वारा वाद-विवाद प्रतियोगिताएं, कविता, गायन जागरूकता भाषण आदि प्रतियोगिताएं कराये जाएंगी, कोई भी छात्रा रेगिंग से या कोई भी विधिक समस्या से पीड़ित होती है तो उक्त क्लब की सहायता ले सकती है। उक्त विधिक साक्षरता क्लब की मॉनीटरिंग सचिव, जिला विधिक सेवा  प्राधिकरण श्री शैलेन्द्र कुमार नागोत्रा द्वारा की जावेगी। उक्त साक्षरता क्लब में जो सदस्य रहेंगे वहां के शिक्षकगण एवं कक्षा 9वीं से कक्षा 11वीं की छात्राएं रहेगीं। उक्त साक्षरता क्लब द्वारा विधिक जागरूकता का कार्य किया जाऐगा एवं विधिक समस्याओं का समाधान जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर की मदद से किया जायेगा। उक्त कार्यक्रम में माननीय जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री ऋषभ कुमार सिंघई  जिला एवं सत्र  न्यायाधीश महोदय के अतिरिक्त श्री शैलेन्द्र कुमार नागोत्रा सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एवं डॉ. श्रीमती आरती शुक्ला, पाण्डेय जिला विधिक सहायता अधिकारी एवं प्राचार्य श्रीमती सरिता राठौर, एवं अन्य शिक्षकगण एवं काफी संख्या में  स्कूली छात्राएं उपस्थित थी। 
एक टिप्पणी भेजें
Loading...