बिहार : छात्र संगठनों ने बंद को बनाया असरदार,लॉ कॉलेज से डाकबंगला तक मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

सोमवार, 2 अप्रैल 2018

बिहार : छात्र संगठनों ने बंद को बनाया असरदार,लॉ कॉलेज से डाकबंगला तक मार्च

student-protest-in-bihar-band-sc-st-act
पटना (आर्यावर्त डेस्क):- छात्र संगठनों ने आज बंद को असरदार एवं प्रभावी बनाया | एस.सी.,एस.टी.एक्ट को निष्प्रभावी बनाने के खिलाफ सड़क पर उतरे छात्रों को आम जनता का जबरदस्त समर्थन मिला | ए.आई.एस.एफ,आइसा व छात्र राजद के बैनर तले सड़क पर उतरे छात्रों ने सबसे पहले आठ बजे से हीं लॉ कॉलेज के पास जाम लगा दिया | लगभग 10बजे जुलूस की शक्ल में छात्रों का हुजूम एनआईटी मोड़ पहुंचा और वहां भी जाम लगा दिया|पटना वि.वि. गेट,पटना कॉलेज,मखनिया कुंआं,बी.एन. कॉलेज एवं कारगिल चौक पर भी काफी देर तक रूककर जाम लगा दिया|छात्रों के जुलूस के दरम्यान अशोक राजपथ,गांधी मैदान के समीप एवं फ्रेजर रोड की दुकानें  पूर्णत: बंद रहीं एवं बंद शांतिपूर्ण रहा | जुलूस में शामिल छात्रों को जे.पी.गोलंबर पर रोकने की पुलिस ने कोशिश की लेकिन उग्र तेवर देख दण्डाधिकारी ने बीच-बचाव कर जाने दिया| जिसके बाद जुलूस डाकबंगला चौराहा तक गया | जुलूस का नेतृत्व  ए.आई.एस.एफ. के राज्य सचिव सुशील कुमार,राज्य कार्यकारिणी सदस्य सुभाष पासवान,आइसा के राज्य अध्यक्ष मोख्तार,छात्र राजद के वरीय नेता धीरज सिंह यादव एवं पीयू अध्यक्ष राहुल यादव कर थे| नेतृत्वकारी छात्रों ने पी.एम.सी.एच. स्थित बाबा साहब की प्रतिमा के पास संकल्प सभा भी आयोजित किया |  इस दौरान डाकबंगला चौराहा पर नेतृत्वकारी छात्र नेताओं ने कहा कि नीला,लाल एवं हरे झंडे की एकता की वजह जुमलेबाज सरकार बौखलाई हुई हैं | संविधान में छेड़छाड़ एवं दलित अधिकारों पर हमले आर.एस.एस.के इशारे पर जारी है | दरअसल आर.एस.एस. मनुवादी सिद्धांतों के आधार पर खंड-खंड में देश को बांटकर लंबे समय तक राज करना चाहती है| जिसे कामयाब नहीं होने दिया जाएगा |सुप्रीम कोर्ट व सांवैधानिक संस्थायें भी इससे परे नहीं है|पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट के जजों की पीड़ा को पूरे देश ने सुना है | आज का आंदोलन चेतावनी मात्र है | आज के आंदोलन में संजीत कुमार,अभिषेक राज,राजीव किशोर, राकेश प्रसाद, सैफ अली, गौतम सागर, फैज अख्तर, आशीष, विशाल, मुब्बसिर, जनार्दन, जन्मेजय, आनंद, प्रशांत, पंकज, संतोष सहित सैकड़ो लोग शामिल थे | 
एक टिप्पणी भेजें
Loading...