झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 22 मई - Live Aaryaavart

Breaking

बुधवार, 23 मई 2018

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 22 मई

आक्रोशित पटवारियों ने 93 अतिरिक्त हल्कों का काम किया बंद

jhabua news
झाबुआ । मध्यप्रदेश पटवारी संघ के आव्हान पर दिनांक 21 मई 2018 सोमवार को तहसील झाबुआ व रामा के पटवारियों ने 93 अतिरिक्त हल्कों के बस्ते तहसीलदार शक्तिसिंह चैहान को सौंप दिये है। मध्यप्रदेश पटवारी संघ जिला झाबुआ के अध्यक्ष अखिलेश मुलेवा एवं तहसील अध्यक्ष नानुराम मेरावत ने बताया कि कल सचिव स्तरीय बातचीत बेनतीजा होने पर आक्रोशित पटवारियों ने अपने अतिरिक्त हल्कों के प्रभार के बस्ते तहसीलदार शक्तिसिंह चैहान को सौंप कर काम से विरत हो गये है। श्री मुलेवा ने बताया कि विगत कई वर्षों से पटवारियों की समस्याओं को लेकर पटवारी संघ के द्वारा अनेक बार शासन -प्रशासन एवं राजस्व मंत्री एवं मुख्यमंत्री तक ज्ञापन देने एवं उनके आश्वासन एवं घोषणाओं के उपरांत भी उनकी समस्याओं का निदान नहीं होने से प्रदेश के पटवारियों में आक्रोश व्याप्त है। अपनी पांच सूत्री मांगों को लेकर विगत दिनों चरणबद्ध आंदोलन के तहत जिला कलेक्टर, क्षेत्रीय विधायकों को ज्ञापन देने के उपरांत दिनांक 01 जून से 16 जून 2018 तक का अर्जित अवकाश आवेदन अपनी-अपनी तहसीलों में पटवारियों द्वारा प्रस्तुत किये गये है। इसी क्रम में प्रदेश की राजधानी भोपाल में दिनांक 16 मई 2018 बुधवार को प्रदेश के समस्त पटवारी साथीगण प्रातः 10ः30 बजे शाहजहांनी पार्क भोपाल में एकत्रित होकर नीलम पार्क तक आक्रोश रेली निकालकर नीलम पार्क में सभा आयोजित की गयी, जिसे प्रदेश के पदाधिकारी एवं अन्य वक्ताओं ने संबोधित किया । तदानुसार अतिरिक्त हल्कों का बहिष्कार शासकीय व्हाटसप ग्रूप का बहिष्कार करने का निर्णय लिया गया । इसी क्रम में तहसील झाबुआ व रामा के पटवारियों द्वारा 127 पटवारी हल्कों में से अतिरिक्त 93 पटवारी हल्कों के बस्ते तहसीलदार को सौंप कर काम से विरत हो गये है। इसी क्रम में जिला झाबुआ अंतर्गत अन्य तहसीलों में भी पटवारी अतिरिक्त हल्कों के बस्ते जमा कर रहें है। इस अवसर पर पटवारी श्री अभय व्यास, श्रीमती सविता डामोर, सुश्री रेखा वसुनिया, श्रीमती रेखा बिलवाल, श्रीमती लक्ष्मी गणावा, श्री अजीत चैहान, श्री बाबुलाल सोनी, श्री चंदनसिंह नायक सहित बडी संख्या में पटवारीगण उपस्थित थे।

युवामोर्चा की कार्यशाला 30 मई को थांदला मे बेठक कर बनाई रुपरेखा

jhaabua news
झाबुआ । भारतीय जनता युवा मोर्चा विधानसभा थान्दला द्वारा 30 मई को विधानसभा ’स्पेशल-11’ संयोजक की एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की जाएगी है जिसमें शासन की जनकल्याण योजनाओं के प्रचार -प्रसार के साथ पंचायत स्तर पर चुनावी तैयारीया व जनजातीय अधिकारों पर भी प्रकाश डाला जायेगा । उक्त एक दिवसीय कार्यशाला के सत्र में भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष श्री मनोहर जी सेठिया, क्षेत्रिय विधायक श्री कलसिंह जी भाबर, जिला महामंत्री श्री प्रफुल्ल जी गादीया, पूर्ण कालिक श्री गेंदालाल जी बमनका, भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष श्री भानु जी भूरिया, जिला महामंत्री श्री संजय जी भाबर व अन्य पदाधिकारी का मार्गदर्शन प्राप्त होगा ।यह कार्यशाला रूपरेखा के लिए आज थान्दला में बैठक आयोजित की गई जिसमें प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य प्रशांत उपाध्याय, युवा मोर्चा के जिला महामंत्री संजय भाबर,जिला उपाध्यक्ष गौरव खण्डेलवाल, भावेश भानपुरिया,प्रणव परमार ,आई. टी. सेल. विधानसभा प्रभारी राजेश जी डामोर मण्डल अध्यक्ष विपुल आचार्य, अर्जुन मैड़ा, सुरेश आईडिया, भगतसिंह डामोर,सचिन पंचाल, महामंत्री मोहन सिंगाड़, यशवंत बामनिया, सोहन परमार, राजु ठाकुर, राजेश डिंडोर, अर्जुन अम्लीयार, गजेन्द्र सिंगाड़, रालुसिंह डिंडोर बाबुलाल बारिया दिपक राठौर, बंटी अम्लीयार, आदि उपस्थित थे ।

गुमनाम व्यक्ति की मद्द कर नपा ने पेष की मानवता की अनूठी मिसाल
  • कपड़े पहनाकर गांव का पता कर बस से घर भिजवाया

jhabua news
झाबुआ। मानवता और इंसानियत की नेक भावना आज भी लोगों के जहन में है। इस संबंध में नगरपालिका झाबुआ ने भी ऐसी नेक एवं मानव के प्रति प्रेम की भावना को प्रदर्षित किया है। शहर के पिछले कुछ महीनों से एक अज्ञात व्यक्ति अपने घर से दूर होकर शहर के बाजारों एवं गली-मौहल्लों में भटक रहा था। घर से दूर होकर वह अत्यंत दुखी होने के साथ विक्षिप्त अवस्था में आ गया था। कोई उक्त व्यक्ति को मद्द को तैयार नहंी था। उक्त व्यक्ति बारे में जब नपा अध्यक्ष श्रीमती मन्नू डोडियार एवं सीएमओ एमएस निगवाल को पता चला, तो उन्होंने उक्त व्यक्ति की मद्द के लिए पहल की। नपा की टीम, जिसमें स्वच्छता प्रभारी प्रहलाद राठौर एवं लोक निर्माण शाखा के समयपाल चेतनप्रकाष सोलंकी आदि को भेजकर युवक को पूरे शहर मे ढूंढा गया। दिलीप गेट पर मिलने पर पहले यहां श्री राठौर, श्री सोलंकी एवं नपा उपाध्यक्ष के पुत्र अविनाष डोडियार तथा नाथुभाई मिस्त्री द्वारा युवक को चाय-नाष्ता करवाया गया। बाद लोडिंग वाहन से नपा कार्यालय ले जाया गया। चूंकि उक्त व्यक्ति परिवार से दूर होने से काफी विचलित होकर ना तो नहा रहा था, वहीं उसके कपड़े भी फट गए थे। इस पर नपा की सफाई टीम द्वारा युवक की दाड़ी बनाकर, उसे वाहन में शेेंपू-साबुन से निहलाया गया। बाद अच्छे कपड़े पहनाकर उसे तैयार किया गया। इसके बाद युवक का चेहरा भी खिल उठा। जब नाम पूछा तो उसने अपना नाम मुकेष मचार एवं तामेष्वर कुषलगढ़ में रहना बताया। पश्चात् उसे बस स्टेंड पर राजस्थान की बस से कुषलगढ़ के लिए रवाना किया गया।

सोष्यल मीडिया पर खबर मिली परिवारजनों को
जब सोष्यल मीडिया पर व्हाट्स एप एवं फेसबुक पर युवक का फोटो अविनाष डोडियार एवं चेतन सोलंकी द्वारा वायरल किया गया, तो मुकेष के घर वालों का इसका पता लगा और उन्होंने तत्काल मोबाईल पर अविनाष डोडियार से चर्चा कर मद्द के लिए धन्यवाद् ज्ञापित करते हुए मुकेष के कुषलगढ़ उतरने पर उसे घर में रखने की बात कहीं।

आज घर और परिवार मंे संस्कार खत्म से हो गए है -ः आचार्य रत्न सुंदर सूरीष्वरजी
  • आचार्य श्रीजी ने परिवर्तन प्रवचन माला के प्रथम दिन जीवन जीने के चार प्रकार बताएं
  • आचार्य रत्न सुंदर सूरीष्वरजी, पद्म सुंदर सूरीष्वरजी आदि ठाणा का शहर में हुआ मंगल प्रवेष

jhaabua news
झाबुआ। आज मनुष्य के अंदर देने की प्रवृत्ति पूरी तरह से खत्म हो चुकी है, वह सिर्फ लेना जानता है, लेकिन देना नहीं। हमारे पास पैसा तो बहुत है, लेकिन इसका सद्पयोग करने की आवष्यकता है। परमात्मा ने यह जीवन दिया है, तो उसे व्यर्थ ना जाने दे, इसका सद्पयोग करे। आज यह देखने को मिल रहा है घर और परिवार में संस्कार खत्म से हो गए है। युवा पीढ़ी आधुनिकता की ओर भटक रहीं है। हम एफडी तो करवाते है, लेकिन यह सोचकर नहीं कि इसका सद्पयोग करेंगे, अपितु विपरित परिस्थितियों में काम आए, इसलिए ऐसा करते है। उक्त प्रेरणादायी उद्गार स्थानीय पैलेस गार्डन पर मंगलवार को सुबह श्वेतांबर जैन श्री संघ की ओर से आयोजित तीन दिवसीय प्रवचन माला के प्रथम दिन ‘नहीं ऐसो जन्म बार-बार’ विषय पर संबोधित करते हुए पद्म विभूषण सम्मान से सम्मानित, दि गोल्डन बुक अवार्ड विजेता, मप्र के राजकीय अतिथि पपू आचार्य श्रीमद् विजय रत्न सुंदर सूरीष्वरजी मसा ने व्यक्त किए। प्रवचन माला में सकल जैन श्री संघ सहित पूरे शहर के नागरिकों की सहभागिता रहीं। आचार्य श्रीजी ने अपनी प्रवचन माला में आगे कहा कि हमे जीवन में बांटने का प्रयास करना चाहिए, ना कि संग्रह करने का। उन्होंने उदाहरण देकर बताया कि यदि प्रकृति एक दिन की छुट्टी ले तो, हम जी सकते है, हमे आॅक्सीजन नहीं मिलेगी और हमारी मृत्यु हो जाएगी। प्रकृति की प्रवृत्ति देने की है, उसी तरह हमारी प्रवृत्ति भी देने की होना चाहिए।

सुनते ज्यादा है, पालन कम करते है
आचार्य श्रीजी जीवन ने जीवन में संस्कारों पर प्रकाष डालते हुए कहा कि आज घर और परिवार में शर्म अैर संस्कार बचे हीं नहीं है। नौजवान पीढ़ी विषेषकर आधुनिकता की ओर आकर्षित कर उनमें संस्कार और सभ्यता के भाव कम हुए है। हम माता-पिता की सुनते तो सब है, लेकिन उसका पालन ना के बराबर करते है। आचार्य श्रीजी ने बताया कि उन्होंनें 19 वर्ष की आयु में युवा अवस्था में दीक्षा लेकर साधु जीवन व्यतीत करना शुरू दिया था। जीवन पतंग की डोर की तरह है, जितनी रस्सी खींचेंगे, उतना पतंग काबू में रहेगी, अर्थात माता-पिता अपने बच्चों को जितना काबू में रखेंगे और जैसे संस्कार देंगे, वैसा उनमें बीजारोपण होगा।

जीवन के चार प्रकार बताएं
आचार्य श्रीजी ने जीवन के चार प्रकार बताएं। शेयरिंग, कैयरिंग, डेयरिंग, बेरिंग एवं कहा कि यह चारों प्रवृत्तियां मनुष्य के अंदर होना आवष्यक है। आज हम श्रम करने से कतराते है, यदि पैसा मिले तो श्रम करते है, अन्यथा नहीं करते है, लेकिन यह सहीं है कि श्रम करने से ही जीवन सफल बनता है। जीवन में श्रम आप लोगों को भी करना पड़ता है और हम साधु-साध्वी भगवंतों को भी करना पड़ता है। आचार्य श्रीजी ने उपस्थितजनों को समझाईष दी कि यह मनुष्य जीवन परमात्मा ने दिया है, इसे व्यर्थ ना जाने दिजिए, इसे सद्कर्मों को करने में लगाईए। 

प्रवचन सुने नहीं, उसे अंगीकार भी करे
आचार्य रत्न सुंदर सूरीष्वरजी मसा ने उपस्थितजनों से पूछा कि हम अपने जीवन में एफडी क्यो करते  है ? तो बताया गया कि बिजिनेस में नुकसान होने पर या बीमार होने पर जरूरत पड़ने पर उन पैसों का उपयोग किया जा सके, इस पर मसाजी ने कहा कि हम सकारात्मक सोच लेकर एफडी करवाएं तो इन पैसों का उपयोग सकारात्मक कार्यो में हो सकेगा। आज हम रिक्षा में बैठते है तो रिक्षा वाला मीटर के हिसाब से यदि 10 रू. भी ज्यादा ले लेता है, तो हम आक्रोषित हो जाते है, हमे मन को शांत रखना होगा। प्रथम दिन आचार्य श्रीजी द्वारा सुबह 9.30 से 10.30 बजे तक प्रवचन दिए गए।

दीप प्रज्जवलन कर किया गया शुभारंभ
प्रवचन माला के पूर्व आचार्य श्रीजी द्वारा मंगलाचरण किया गया। गुरूवंदन की विधि सुश्रावक संजय मेहता द्वारा संपन्न करवाई गई। पश्चात् श्री नमस्कार महामंत्र का आचार्य श्रीजी ने पाठ किया। दीप प्रज्जवलन श्वेतांबर जैन श्री संघ से वरिष्ठ आनंदीलाल संघवी, कांतिलाल बाबेल, स्थानकवासी श्री संघ से प्रदीप रूनवाल, दिगंबर जैन श्री संघ से रमेष डोषी, अग्रवाल समाज से बाबुलाल अग्रवाल, नीमा समाज से लक्ष्मीनारायण शाह, सर्व ब्राहा्राण समाज से डाॅ. केके त्रिवेदी, श्री राम शरणम् सेवा समिति से प्रेमअदीपसिंह पंवार, शरत शास्त्री, कल्याणसिंह डामोर आदि द्वारा किया गया। सुंदर गीत की प्रस्तुति आषा कटारिया एवं किरण मेहता द्वारा दी गई। प्रवचन सभा का संचालन श्री संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं कार्यक्रम संयोजक यषवंत भंडारी ने किया। सर्व मंगल पाठ के साथ प्रथम दिन प्रवचन माला पूर्ण हुई।

महावीर बाग से हुआ शहर में मंगल प्रवेष
आचार्य श्रीमद् विजय रत्न सुंदर सूरीष्वरजी मसा एवं पपू पद्म् सुदर सूरीष्वरजी मसा का स्थानीय महावीर बाग से अलसुबह 6 बजे शहर में मंगल प्रवेष हुआ। उनके मंगल प्रवेष के अवसर पर बड़ी संख्या में समाजजन उपस्थित थे। शहर के प्रमुख मार्गों से होते हुए आचार्य श्रीजी आदि ठाणा साधु-साध्वी भगवंतों का श्री ऋषभदेव बावन जिनालय में आगमन हुआ। यहां उनके द्वारा प्रभु आदिनाथजी एवं दादा गुरूदेव श्रीमद् विजय राजेन्द्र सूरीष्वरजी मसा के दर्षन किए गए। सकल श्री संघ की ओर से नवकारसी का आयोजन रखा गया। बाद यहां से बैंड-बाजों के साथ आचार्य श्रीजी आदि ठाणा ने लक्ष्मीबाई मार्ग होते हुए पैलेस गार्डन के लिए प्रस्थान किया। 

जनसुनवाई में सुनी गई समस्याएॅ

jhabua news
झाबुआ । आज 22 मई को शासन के निर्देशानुसार जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित किया गया। जनसुनवाई में आवेदन कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे एवं विभागीय अधिकारियों ने लिये। आवेदन प्राप्त कर संबंधित कार्यालय प्रमुखो को निराकरण के लिये आवश्यक निर्देश दिये गये। आवेदनो को आॅनलाईन साफ्टवेयर में दर्ज किया गया। दीपा अमलियार फुलधावडी द्वारा पेंषन का लाभ देने के लिए आवेदन दिया। श्री खेलसिंह बिलवाल कोकावद ब्लाक रामा द्वारा बताया कि उसकी पुत्री का अपरहण किया गया है उसको वापस दिलवाने के लिए आवेदन किया। श्री रेवजी पिता भादु वसुनिया नारेला द्वाराष्षासकीय योजनाओ का लाभ देने के लियेे के लिए आवेदन दिया। श्री भूरचंद पिता बदिया ग्राम छोटी पावागोई मेघनगर द्वारा पेयजल की समस्या का निदान करने हेतु आवेदन दिया। श्री करन पिता पुॅजा भूरिया ग्राम रसोडी से अवैध कब्जा हटवाने के लिए आवेदन दिया। श्री दला अमलियार ग्राम पिपलिया द्वारा प्रधानमंत्री आवास का लाभ देने के संबंध में आवेदन दिया। प्राथमिया षाला स्कुल हुडा के सामने छोटा तालाब के समीप नाला अधुरा छोड देने के संबंध में हुडा क्षैत्र झाबुआ के नागरिकों द्वारा निराकरण हेतु आवेदन दिया।

म0प्र0 खाद्य आयोग के अध्यक्ष एवं सदस्य जिले में दो दिवसीय भ्रमण पर

झाबुआ । म.प्र.राज्य खाद्य आयोग के अध्यक्ष श्री आर.के. स्वाई एवं सदस्य श्रीमती स्नेहलता उपाध्याय व श्री किषोर खण्डेलवाल 23 एवं 24 मई 2018 को जिले के भ्रमण पर रहेगे। प्रस्तावित कार्यक्रम अनुसार 23 मई को झाबुआ जिले में कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में बैठक लेगे एवं 24 मई को जिले में संचालित कार्यक्रमों के निरीक्षण के लिये आयोग द्वारा भ्रमण किया जायेगा एवं ग्राम पंचायत रजला विकासखण्ड रामा में जनसुनवाई कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...