पूर्वाग्रह से ग्रसित लोगों में जागरुकता जरुरी, रक्तदान महादान है : संजय कुमार गुप्ता - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 14 जून 2018

पूर्वाग्रह से ग्रसित लोगों में जागरुकता जरुरी, रक्तदान महादान है : संजय कुमार गुप्ता

  • 35 वाँ सशस्त्र सीमा बल के तत्वावधान में रक्तदान शिविर का आयोजन

blood-donation-dumka
दुमका (अमरेन्द्र सुमन) विश्व रक्तदान दिवस के अवसर पर 35 वाँ सशस्त्र सीमा बल विजयपुर, दुमका के तत्वावधान में दिन गुरुवार को वृहत रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में  द्वितीय कमाण्ड इन संजय कुमार गुप्ता, डिप्टी कमाण्ड इन जयंत कुमार पाठक  सहित तकरीबन 35 जवानों ने रक्तदान किया। रक्तदान शिविर में रक्तदान कर जवानों द्वारा रक्तदान के प्रति आम आदमी को पूर्वाग्रह से बचने का आहवान भी किया गया। अपने संबोधन में द्वितीय कमान इन संजय कुमार गुप्ता ने कहा कि दुमका जैसे क्षेत्र में एनिमिया जैसी बीमारी के शिकार लोगों की संख्या ज्यादा है रक्तदान कर वैसे लोगों को जीवन प्रदान करें जो खून की कमी से ग्रसित हैं। रक्तदान करने से रक्त नहीं घटता। कुछ लोग गलत मानसिकता के शिकार होते हैं। रक्तदान करने से वे कमजोर हो जाऐंगे जैसे पूर्वाग्रह वे पाल बैठते है, जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है। आप जो भी रक्तदान करते हैं 90 दिनों के बाद आदमी फिर से पूर्व अवस्था में आ जाता है। जानकारी के अभाव में लोग रक्तदान नहीं करते। जरुरतमंदों के लिये रक्तदान करने से खून की कमी वाले व्यक्ति को जीवनदान प्राप्त होता है। एक स्वस्थ व्यक्ति को बीच-बीच में रक्तदान करना चाहिए। इस अवसर पर डिप्टी कमान इन जयंत कुमार पाठक व अन्य अधिकारीगण मौजूद थे। ब्लड बैंक दुमका के अधिकारियों से श्री गुप्ता ने कहा जब भी रक्तदान की आवश्यकता महसूस हो, एक सूचना एसएसबी को दी जाय ताकि देश की सेवा में लगे जवान आम आदमी की जिन्दगी में भी खुशियाँ ला सकें।
एक टिप्पणी भेजें