दरभंगा : शादी और सालगिरह पर रक्तदान करने की प्रथा बढ़ने लगी - Live Aaryaavart

Breaking

शनिवार, 9 जून 2018

दरभंगा : शादी और सालगिरह पर रक्तदान करने की प्रथा बढ़ने लगी

blood-donation
दरभंगा (आर्यावर्त डेस्क). इन दिनों युवाओं के बीच में रक्तदान करने का जुनून सवार है. अपने जीवनकाल में महादान करके जीवन के क्षण को यादगार बनाना चाहते हैं. एक धनबाद की निधि झा हैं जो वैवाहिक रस्म मेंहदी लगाने के पूर्व ही रक्तदान करने की इच्छा जाहिर कर दी थीं. द्वितीय संतोष कुमार कर्ण हैं जो शादी के सालगिरह के दिन महादान करना चाह रहे थे.दोनों की इच्छा पूर्ण हो गयी. निधि ने विवाह के 22 दिन पूर्व रक्तदान कर दीं.27. 06.2018 को शादी है.वहीं संतोष ने सालगिरह के 2 दिन पूर्व महादान कर दिये.दोनों को ह्युमानिटी फोर लाइफ सेविंग्स ने अवसर प्रदान कराया है.सोशल मीडिया फेसबुक पर बमबम लाल और मित्रों द्वारा रक्तदान महादान की मुहिम चला रखे हैं. एक फोनकॉल पर रक्तदाता महादान करने को तैयार हो जाते हैं.  जो सुखद संकेत है. खैर, संतोष कुमार कर्ण का सालगिरह 8.06.2018 को है.उसने सालगिरह को अनोखे तरीके से मनाने का फैसला किया.अपने सालगिरह के दिन ही केक काटने के पहले रक्तदान करुंगा.  यह संयोग की बात है कि संतोष के सालगिरह के दो दिन पहले संजय कुमार जी को रक्त की जरुरत आ पड़ी. इस बाबत पूछने पर संतोष ने सालगिरह 08.06.2018 के बदले 06.06.2018 को ही महादान करने में कोई दिक्कत है? उसने सकारात्मक जवाब दिया कि कैसी दिक्कत? तब डी.एम.सी.एच.गये. वहाँ पर संजय कुमार जी की माँ से मिले.संजय कुमार जी से मिले. थोड़ी परेशानी थी.जो सरकारी विभागों में होती रहती है.इसे झेल कर रक्तदान कर दिए संतोष कुमार कर्ण ने।  उसके जज्बे को सलाम! केक काट कर सालगिरह मनाने की जगह महादान करके सालगिरह मनाने की प्रथा शुरुआत हो गयी.इसे जारी रखने की जरूरत है. 
एक टिप्पणी भेजें
Loading...