बिहार : सिसिल साह ने राहुल गाँधी के सपने को सच करने का सन्देश दिया - Live Aaryaavart

Breaking

सोमवार, 4 जून 2018

बिहार : सिसिल साह ने राहुल गाँधी के सपने को सच करने का सन्देश दिया

massege-to-comit-to-rahul-gandhi
पटना (आर्यावर्त डेस्क) 04 जून,  बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अल्पसंख्यक विभाग के उपाध्यक्ष हैं सिसिल साह जी.अपने द्यर कुर्जी से तुफानी दौरा करने निकले हैं. तुफानी दौरा गांधी जी के कर्म क्षेत्र चम्पारण से शुरू किये हैं. अल्पसंख्यक ईसाइयों का गढ़ बेतिया 1 जून को पहुंचे. ईसाई समुदाय के बुद्धिजीवियों से मिले.इसके बाद कांग्रेस जनों से मिलकर कांग्रेस सदर माननीय राहुल गांधी जी का सपना पूर्ण करने का संदेश दिये. पश्चिमी चम्पारण के तुफानी दौरा खत्म करने के बाद से आज 4 जून को गोरखपुर जा रहे हैं.यहां की दौरा समाप्त करने बाद 6 जून की रात ट्रेन से दिल्ली के लिए रवाना कर जाएंगे. उन्होंने कहा कि दिल्ली में जाकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जी से मिलेंगे. उनसे बिहार के ईसाइयों की समस्या और विकास गाथा के ऊपर   चर्चा करेंगे.   बता दें कि पटना सिटी में स्थित पादरी की हवेली चर्च को राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय पटल पर लाने का श्रेय सिसिल साह को ही जाता है.आज पादरी की हवेली चर्च की पहचान और पर्यटन स्थल की श्रेणी में है.  एक हिंदी समाचार पत्र में प्रकाशित खबर को आधार बनाकर सिसिल साह ने 12 दिसम्बर 2011 में पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती  सोनिया गांधी व खुर्शीद अनवर से व्यक्तिगत मिलकर राजन बाबू की रालेक्स द्यड़ी को नीलामी होने से बचा दिया. देश के प्रथम राष्ट्रपति राजेन्द्र प्रसाद की द्यड़ी चोरी हो गयी थी. इस द्यड़ी को नीलाम की जा रही थी. सिसिल साह की पहल पर कांग्रेसी सरकार ने द्यड़ी को नीलाम होने बचा दिया.चोरी की जांच जारी है. बता दें कि अभी-अभी इनके प्रयास से इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में ' संत टरेसा चर्च ' बनने का मार्ग प्रर्दस्त हुआ है.सिसिल साह कहते हैं कि बिहार में कांग्रेस सत्ता में नहीं है.फिर भी सत्ता से बाहर रहकर भी हम ईसाइयों की ज्वलंत समस्याओं को मुखर रूप से उठाते रहते हैं.इसके परिणाम स्वरूप ही इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में कार्यरत क्रिश्चियन नर्सेंज व कर्मियों को 'संत टरेसा चर्च' के नाम से गिरजाद्यर मिलेगा. चर्च डेढ़ कट्टा में बनेगा. मिलकर चर्च 32 परिवार के लोग बनाएंगे. अभी तक सीढ़ी पर बैठकर संस्थानकर्मी प्रार्थना करते थे. सेवा केंद्र के निदेशक फादर अमल राज संस्थान की सीढ़ी पर बैठकर प्रार्थना का नेतृत्व किया करते थे. सी.एम.नीतीश कुमार ने संस्थान में जमीन देने का आदेश दिया है. सिसिल साह के बढ़ते कदमों के आलोक में फादर अमलराज ने कहा कि वास्तव में क्रिश्चियन नेता सिसिल साह हैं. जमकर प्रशंसा की और  उज्जवल भविष्य की  कामना की.
एक टिप्पणी भेजें
Loading...