विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 04 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 4 जून 2018

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 04 जून

प्रभारी मंत्री शामिल होंगे, लोक कल्याण शिविर में   

गृह एवं परिवहन मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ठाकुर छह जून को विदिशा आएंगे और नटेरन जनपद पंचायत मुख्यालय पर आयोजित जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर में शामिल होंगे। के आश्य की जानकारी देते हुए कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने समस्त विभागों के अधिकारियों को आदेशित किया है कि शिविर स्थल पर स्वंय मौजूद रहें और अधीनस्थ अमले की उपस्थिति सुनिश्चित कराएं।

जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर छह को नटेरन में   

जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर छह जून को नटेरन जनपद पंचायत मुख्यालय पर आयोजित किया गया है। ज्ञातव्य हो कि पूर्व में उक्त शिविर ग्राम सतपाडा हाट में आयोजित होना था के स्थान पर अब जनपद पंचायत मुख्यालय पर प्रातः 11 बजे से आयोजित किया गया है। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर मंे समस्त जिलाधिकारियों को मौजूद रहने के निर्देश जारी किए है। निर्देश में उल्लेखित है कि शिविर स्थल पर उपस्थित होेकर ग्रामीणजनों को विभागीय योजनाओं की विस्तृत जानकारी देते हुए उन योजनाओं से लाभांवित कराने का प्रयास करें इसके अलावा विभाग से संबंधित प्राप्त होने वाले आवेदनों का मौके पर कारगर निराकरण की पहल करें। कलेक्टर श्री सुचारी ने स्वास्थ्य और पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि शिविर स्थल पर उपचार केम्प का भी आयोजन किया जाए। इसी प्रकार हितग्राहीमूलक योजनाओं पर आधारित विभागीय प्रदर्शनी लगाने एवं योजनाओं पर आधारित साहित्य का वितरण सुनिश्चित कराए जाने के निर्देश जिलाधिकारियों को दिए है। 

एक प्रकरण में जिला बदर के आदेश जारी

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री अनिल सुचारी ने पुलिस अधीक्षक के पालन प्रतिवेदन पर एक प्रकरण में जिला बदर के आदेश जारी कर दिए है। जारी आदेश मंे उल्लेख है कि थाना बासौदा अंतर्गत विभिन्न अपराधों में लिप्त अनावेदक इरफान पुत्र अशफाक खाॅ निवासी राजेन्द्र नगर बासौदा के विरूद्व मध्यप्रदेश राज्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत जिला बदर का दाण्डिक आदेश 31 मई 2018 को जिला मजिस्ट्रेट के द्वारा जारी किया गया है अनावेदक को एक वर्ष की कालावधि हेतु निष्कासित किया गया है। उक्त अवधि में विदिशा जिला एवं सीमावर्ती जिला रायसेन, भोपाल, गुना, अशोेकनगर, सागर, राजगढ़ की राजस्व सीमा से एक वर्ष की कालावधि के लिए निष्कासित किया गया है।

कृषि कल्याण अभियान कार्यक्रम का क्रियान्वयन

आकांक्षी जिला विदिशा के 25 गांव में कृषि कल्याण अभियान कार्यक्रम का क्रियान्वयन किया जाएगा। इसके लिए जिले के 25 गांवों का चयन भारत सरकार (नीति आयोग) द्वारा किया गया है। अभियान का क्रियान्वयन कृषि विज्ञान केन्द्र रायसेन द्वारा किया गया है। जिसमें जिले के किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग, उद्यान, पशु पालन व पशु चिकित्सा विभाग के अलावा कृषि यांत्रिकी, वन विभाग की विभागीय योजनाओं का क्रियान्वयन इन 25 ग्रामों में किया जाएगा। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने कृषि कल्याण अभियान कार्यक्रम के तहत सम्पादित किए जाने वाले कार्यो की समीक्षा आज अपने चेम्बर में की। उक्त बैठक में अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक मौजूद थे। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चैकसे ने बताया कि कृषि कल्याण अभियान के अंतर्गत चयनित 25 ग्रामों में मृदा स्वास्थ्य कार्ड, दलहनी, तिलहनी व उद्यानिकी फसलों के मिनी किट एवं एकीकृत खेती, टपक खेती, पशुओं में टीकाकरण, उन्नत कृषि यंत्र आदि विषयों पर किसानों को जानकारी दी जाएगी।वरिष्ठ वैज्ञानिक डाॅ स्वप्निल दुबे ने बताया कि कृषि विज्ञान केन्द्र रायसेन द्वारा इन 25 ग्रामों में पचास कृषकों को एक दिवसीय प्रशिक्षण के माध्यम से केचुआ खाद, किचिन गार्डनिंग, मशरूम उत्पादन आदि विषयोें पर जानकारी दी जाएगी। 

कार्ययोजना
कृषि कल्याण अभियान के तहत तैयार की गई कार्ययोजना के संबंध में बताया गया कि प्रत्येक सभी 25 गांवों में कार्ययोजना के तहत जो कार्य सम्पादित किए जाएंगे उनमें मृदा स्वास्थ्य कार्ड, दलहन, तिलहन फसलों के मिनिकिट, फलदार व बांस के पौधे प्रदाय किए जाएंगे वही गांव में 100 नाडेपपिट का निर्माण कराया जाएगा इसके अलावा गांव के शत प्रतिशत पशुओं का टीकाकरण किया जाएगा। किसानो को सूक्ष्म सिंचाई पद्वति, एकीकृत फसल प्रणाली का प्रदर्शन किया जाएगा। कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा प्रशिक्षण का आयोजन गांव स्तर पर किया जाएगा जिसमें किसानों को मशरूम उत्पादन, किचिन गार्डनिंग एवं केंचुआ खाद से प्रशिक्षित किया जाएगा। कार्ययोजना के अंतर्गत गांव के चिन्हित हितग्राहियों को कृषि यंत्रों का वितरण भी किया जाएगा।कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने जिला स्तरीय बैठक में कहा कि गांव की तस्वीर विकास के मामले में बदलनी चाहिए। किसानों को आधुनिक खेती से रू-ब-रू कराया जाए और उनकी मूलभूत समस्याओं का समाधान विभागों के अधिकारी करें। उन्होंने रात्रि चैपाल आयोजन के माध्यम से हर किसान तक पहंुचने की बात कही है। अभियान को सार्थक बनाने के लिए उन्होंने समय-समय पर क्रास मानिटरिंग पर भी बल दिया है। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि मैं स्वंय समय-समय पर इन गांवों का औचक भ्रमण कर अभियान की यार्थकता से वाकिफ होऊंगा। 

चयनित गांवों के नाम
कृषि कल्याण अभियान के अंतर्गत जिले के सभी विकासखण्डों में से नीति आयोग के द्वारा चयन किए गए गांव की सूची विकासखण्डवार इस प्रकार से है। विदिशा विकासखण्ड के जिन चार गांवों को शामिल किया गया है उनमें सहजाखेडी, हिनोतिया, बर्रो एवं सनोटी शामिल है। इसी प्रकार बासौदा के पबई, महागौर, अम्बानगर, मसूदपुर नटेरन के महुआ, बाढेर, पडरिया जागीर, रमपुरा जागीर, नागौर, बरूआखार शामिल है। इसी प्रकार सिरोंज जनपद पंचायत के पारधा, प्याराखेडी, झंडवा, नराखेडा तथा लटेरी के तिलोनी, ओखलीखेडा, कोलुआ पठार, ग्यारसपुर जनपद पंचायत के अम्बार और सूआखेडी तथा कुरवाई जनपद पंचायत के छीरखेडा एवं शहरवासा गांव शामिल है।

सितम्बर तक वित्त पोषण कराना सुनिश्चित करें-कलेक्टर

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज लंबित आवेदनों की समीक्षा के दौरान हितग्राहीमूलक योजनाआंे को क्रियान्वित करने वाले अधिकारियो को स्पष्ट निर्देश दिए कि सभी हितग्राहीमूलक योजनाओं में वित्त पोषण की कार्यवाही सितम्बर माह तक पूरी कर ली जाए। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि हितग्राहीमूलक योजनाओं क्रियान्वित कराने वाले विभागों को लक्ष्यों की प्राप्ति हो चुकी है अतः बैंको को लक्ष्य अनुपात से डेढ गुना प्रकरण बैंकों को स्वीकृति हेतु जून माह तक प्रेषित किए जाए ताकि जुलाई माह तक बैंको द्वारा परीक्षण कर स्वीकृति प्रदाय की जाए और वित्त पोषण की कार्यवाही सितम्बर माह तक शत प्रतिशत हो जाए। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि दस जून को गेहूं पर 265 रूपए बोनस राशि का वितरण किया जाएगा। इस प्रकार गेहूं का समर्थन मूल्य 1735 और 265 रूपए बोनस की राशि समेत दो हजार रूपए प्रति क्ंिवटल के मान से भुगतान पूरा किया जाएगा। कलेक्टर श्री सुचारी ने बताया कि एक अपै्रल से 31 मई की अवधि के दौरान पंजीकृत हितग्राहियों को प्रसूति सहायता, अनुगृह राशि और पट्टे के हितलाभ संबंधी प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम 13 जून को होगा। उक्त दोनो तिथियों के संबंध में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की रूपरेखा तय करने और संबंधितों को लाभांवित कराने पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि एक भी हितग्राही लाभांवित होने से वंचित ना हो। टीएल बैठक में नीति आयोग के मापदण्डों अनुसार विभागों के अधिकारियों द्वारा क्रियान्वित किए गए कार्यो की भी समीक्षा की गई। इस दौरान मुख्यमंत्री हेल्प लाइन, मानव अधिकार आयोग, पीजी सेल, समाधान आॅन लाइन और जन शिकायत निवारण के प्राप्त आवेदनों के साथ-साथ पेपर कंटिग पर अब तक संबंधित विभागों के अधिकारियों द्वारा की गई कार्यवाहियों की बिन्दुवार जानकारियां प्रस्तुत की गई। कलेक्टेªट के सभाकक्ष में हुई इस बैठक में वन संरक्षक श्री एससी गुप्ता, जिला पंचायत सीईओ डाॅ पंकज जैन, अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, संयुक्त कलेक्टर श्री आरडीएस अग्निवंशी, एसडीएम श्री रविशंकर राय समेत विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी मौजूद थे।

जिपं स्टेनो का प्रभार सुबोध शेवडे़ को

जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ पंकज जैन ने कार्य सुविधाओं की दृष्टि से जारी आदेश में उल्लेख है कि जिला पंचायत के स्टेनो का कार्य श्री सुबोध शेवडे़ सहायक ग्रेड-तीन को सौप हैं। श्री शेवडे़ जिला पंचायत सीईओ के स्टेनों कार्य के साथ-साथ प्रधानमंत्री आवास योजना का कार्य पूर्वानुसार सम्पादित करेंगे। 

प्रशिक्षण हेतु 25 युवाओं का चयन

मध्यप्रदेश आजीविका मिशन के सौजन्य से एसएससीआई सुरक्षा जवान एवं सुपरवाईजर भर्ती हेतु शिविर का आयोजन किया जा रहा है। सोमवार चार जून को ग्यारसपुर जनपद पंचायत के प्रागंण मंे सुरक्षा जवान भर्ती केम्प का आयोजन किया गया था जिसमें 60 युवाओं ने पंजीयन कराया। प्रशिक्षण हेतु 25 युवाओं का चयन एसआईएस इंडिया लिमिटेड नीमच के भर्ती अधिकारियों द्वारा किया गया। सुरक्षा जवान एवं सुपरवाइजर भर्ती केम्प जिले के सभी विकासखण्डों पर नियत तिथि को आयोजित किए जा रहे है। जारी कार्यक्रम अनुसार पांच जून को बासौदा में, छह एवं सात को विदिशा में तथा आठ जून को सिरोंज जनपद पंचायत में शिविर का आयोजन किया गया है।

"मनुष्य का चरित्र ही जीव को राम और रावण बनाता है"-पं. अंकितकृष्ण


vidisha news
विदिशा 04जून, - राम नाम से सारे दोष दूर हो जाते हैं। कहते हैं सब दुखों का समाधान है राम का नाम। राम नाम से सभी कष्टों से मुक्ति पाई जा सकती है। तुलसी दास जी ने जब राम चरित मानस की रचना की, तब उनसे किसी ने पूछा कि आप ने इसका नाम रामायण क्यों नहीं रखा? जबकि यह रामायण ही है। तुलसीदास जी ने कहा, क्योकि रामायण और राम चरित मानस में एक बहुत बड़ा अंतर है । रामायण का अर्थ है राम का मंदिर, राम का घर। जब हम मंदिर जाते हैं तो एक समय पर जाना होता है। मंदिर जाने के लिए नहाना पड़ता है, जब मंदिर जाते हैं तो खाली हाथ नहीं जाते कुछ फूल, फल साथ लेकर जाना होता है। मंदिर जाने कि शर्त होती है कि साफ सुथरा होकर ही जाए।  तुलसीदास जी ने कहा कि मानस अर्थात सरोवर, सरोवर में ऐसी कोई शर्त नहीं होती, समय की पाबंधी नहीं होती। कोई भी हो ,कैसा भी हो सरोवर में स्नान कर सकता है। व्यक्ति जब मैला होता है, गन्दा होता है तभी सरोवर में स्नान करने जाता है। इसलिए जो शुद्ध हो चुके हैं, वे रामायण में चले जाएं और जो शुद्ध होना चाहते हैं वे राम चरित मानस में आ जाएं। राम कथा जीवन के दोष मिटाती है। उक्त उद्गार राजीवनगर स्थित बालाजी एवेन्यू में चल रही श्रीमद्भागवत कथा महोत्सव के चौथे दिन गौवत्स पं. अंकितकृष्ण वटुकजी महाराज ने कही। भागवत कथा के नौवें स्कंध के माध्यम से श्रीराम कथा का वर्णन करते हुए कहा कि मनुष्य का चरित्र ही उसे राम और कृष्ण के गुणों के समान बनाता है। बनाता है वटुकजी महाराज ने कहा कि आज के दौर में मनुष्य के लिए सब कुछ पैसा हो गया है। वह पैसे के पीछे इस गति से दौड़ रहा है कि वह धर्म को भूलता जा रहा है। बच्चों को संस्कारी बनाने के लिए मां बाप को बचपन से ही प्रयास करने होंगे। जब बच्चा संस्कारी होगा तो बड़ा होकर भी उसमें वही गुण मिलेंगे। इससे एक बेहतर समाज का निर्माण होगा। सोमवार को कथा स्थल पर प्रभु श्री राम और श्री कृष्ण का जन्म हुआ। श्रीराम और श्री कृष्ण का जन्म श्रद्धालुओं ने बड़े धूमधाम से मनाया। वटुकजी महाराज ने कहा कि जब देवताओं और राक्षसों ने समुद्र मंथन किया था  समुद्र मंथन से जहर भी निकला था, जिसे लेने के लिए कोई तैयार नहीं था। तब प्रभु भोलेनाथ नाथ ने उस विष को पीकर पृथ्वी को बचाया था। इसी प्रकार ईश्वर लोगों के अवगुणों को भी हर लेते हैं। इसलिए हमें जब भी मौका मिले प्रभु का स्मरण करने से नहीं चूकना चाहिए। कृष्ण जन्मोत्सव के अवसर कथा स्थल को भव्य रूप से सजाया गया था। भगवान के जन्म पर श्रद्धालुओं ने भजनों की धुन पर खूब नृत्य किया।माखन मिश्री खिलौने आदि का वितरण किया गया।इस अवसर पर कथा के मुख्ययजमान श्रीमती नीलिमा-प्रवीण जौहरी ने नंद यशोदा के रूप भगवान का प्राकट्य मनाया। कथा में आज गोवर्धननाथ प्रभु को छप्पन भोग लगाया जायेगा। कथा की पूर्णाहूति 7जून गुरूवार को होंगी। आयोजक परिवार ने सभी नगरवासियों से अधिक से अधिक संख्या में उपस्थित होकर धर्मलाभ लेने की अपील की।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...