विश्व कप फुटबॉल : इंजरी समय में मोरक्को के आत्मघाती गोल से जीता ईरान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 16 जून 2018

विश्व कप फुटबॉल : इंजरी समय में मोरक्को के आत्मघाती गोल से जीता ईरान

morocco-self-goal-iran-won
सेंट पीटर्सबर्ग, 15 जून, ईरान पर आज भाग्य इतना मेहरबान था कि इंजरी समय में मोरक्को के आत्मघाती गोल से उसे विश्व कप फुटबॉल टूर्नामेंट के ग्रुप बी मुकाबले में 1-0 से जीत मिल गयी।  मैच ड्रा की तरफ अग्रसर था कि 95 वें मिनट में मोरक्को के अज़ीज़ बोहादौज ने हैडर से आत्मघाती गोल कर जीत ईरान की झोली में डाल दी। इस गोल से मोरक्को का खेमा सकते में आ गया और उसके जख्म हरे हो गए। मोरक्को इस मुकाबले से पहले 2026 के विश्वकप की मेजबानी अमेरिका, कनाडा और मैक्सिको को गंवा चुका था। अपने ग्रुप में स्पेन और पुर्तगाल जैसी मजबूत टीमों की मौजूदगी को देखते हुए ईरान के लिए यह जीत किसी वरदान से कम नहीं रही। ईरान अब एक ड्रा खेल कर भी अगले दौर में पहुंच सकता है। दोनों टीमें अंक बांटने की तरफ बढ़ रही थी और मैच बस समाप्त होने वाला ही था कि एहसान हज़्ज़ाफ़ी ने लहराती हुई फ्री किक ली और बोहादौज ने पोस्ट के पास से गेंद को क्लियर करने की कोशिश की लेकिन उनका हैडर अपने ही गोल में चला गया। ईरान की विश्व कप इतिहास में यह दूसरी जीत है और अब अगले मैचों के लिए उसका हौसला बढ़ जायेगा। ईरान पांचवीं बार विश्वकप में खेल रहा है लेकिन ग्रुप चरण से आगे जाना का उसका सपना अब तक अधूरा रहा है।  मोरक्को ने विश्वकप के लिये बिना कोई गोल खाये क्वालीफाई किया था और 18 मैच अपराजित रहते हुये निकाले थे लेकिन आत्मघाती गोल ने उसे करारा झटका दे दिया।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...